इन कारणों से लोग नहीं बदलते अपनी जॉब, तब भी जबकि उन्‍हें ऐसा करना चाहिए!

आराम से चल रही जॉब मे बदलाव की बात के बारे में सोच कर भी अक्सर लोग शंकित और भयभीत हो जाते हैं, क्योंकि इसके पीछे कई कारण होते हैं।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: May 12, 2014

जॉब स्विच

जॉब स्विच
1/11

नौकरी अगर आराम से चल रही हो तो लोग अक्सर बदलाव की बात से बेचैन से हो जाते हैं। बदलावों को शंकित नजर से देखने का स्वभाव आमतौर पर उसके अच्छे पहलुओं और दूरगामी प्रभावों को देखने से भी रोक देता है। यदि आपको भी कैरियर या जॉब में बदलावों से डर लगता है तो यह स्लाइडशो आपके लिए ही है। यहां आप जानेंगे कि क्यों करियर चेंज करने से लोग हिचकिचाते हैं और कैसे बदलावों को सहजता से स्वीकार करना और उसके लिए खुद को तैयार करना अपके लिए तरक्की की सीढ़ी बन सकता है। courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

जॉब चेंज का भय

जॉब चेंज का भय
2/11

अक्सर देखा जाता है कि लोग जॉब बदलने से कतराते हैं, उन्हें भय होता है कि नई जगह वे बेहतर तरीके से काम कर पाएंगे या नहीं। उन्हें डर होता है कि यदि उनके सीवी में कई सारे जॉब चेंज हैं तो उसका नकारात्मक असर होगा।courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

कशमकश

कशमकश
3/11

जॉब चेंज के बारे में सोचते समय लोग कशमकश में रहते हैं कि कहीं इसका आपके करियर और जीवन पर कोई गलत प्रभाव तो नहीं पड़ेगा। लेकिन अगर आप इंडस्ट्री या जॉब चेंज करने के बारे में सोच रहे हैं तो इसका पॉजिटिव या निगेटिव होना पूरी तरह आपके एक्सपीरियंस, रवैये और एटिट्यूड पर निर्भर है। आप की निर्मय लेने की सही झमता इसमें एक बड़ा रोल प्ले करती है। courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

एडजस्टमेंट ना कर पाने का भय

एडजस्टमेंट ना कर पाने का भय
4/11

ज्यादातर लोग के जॉब चेंज करने की पीछे बेहतर बॉस, जॉब की संतुष्टि, वर्क-लाइफ बैलेंस और अपने जुनून को पूरा करना आदि कारण होते हैं। तो जाहिर है, ज्यादातर लोग अपने लिए करियर गोल सेट करके इंडस्ट्री में अपनी शुरुआत करते हैं। हालांकि थोड़े दिनों बाद ही उन्हें ऐसा लगता है कि वे गलत जॉब में आ गए हैं। इस कारण भी लोग जॉब चेन्ज के नाम से डरते हैं। courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

इंडस्ट्री स्किल्स की कमी

इंडस्ट्री स्किल्स की कमी
5/11

इंडस्ट्री चेंज करने से डर लगदने का एक बड़ा कारण है नई इंडस्ट्री स्किल्स की कमी। लोग सोचते हैं कि वो नई जगह खुद को एकदम से न ढाल पाएंगे। जॉब चेंज करने के बाद नए लोगों के साथ एडजस्ट करने में आने वाली परेशानी के बारे में सोच कर भी लोग जॉब चेंज से जरते हैं। courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

स्किल और टैलेंट

स्किल और टैलेंट
6/11

प्रत्येक इंडस्ट्री में काम करने के लिए अलग-अलग तरह के खास स्किल और टैलंट की जरूरत होती है। स्विच करने का फैसला लेने से पहले आपको देख लेना चाहिए कि आप जिस इंडस्ट्री में शिफ्ट करना चाहते हैं, वहां आप कितनी कुशलता से काम कर पाएंगे। गौरतलब है कि किसी भी जॉब में तरक्की के लिए जॉब संतुष्टि होना बेहद जरूरी है, इसलिए जॉब स्विच करने से पहले यह भली-भांति सोच लें कि आप नई जॉब में कितने खुश रह पाएंगे, क्योंकि वहां आपकी तरक्की इसी चीज पर डिपेंड करेगी। इंडस्ट्री शिफ्ट करने से पहले आप खुद ही अपनी क्षमताओं का बेहतर मूल्यांकन कर सकते हैं। courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

कम्फर्ट जोन से बाहर आने का भय

कम्फर्ट जोन से बाहर आने का भय
7/11

जॉब चेंज करने के बारे में सोचते समय कई तरह के भय और आशंकाएं एक साथ इंसान पर काम कर रहे होते हैं, जैसे काम बढ़ जाने का डर, काम के अनुरूप अतिरिक्त पैसा (ओवर टाइम) आदि। कई कर्मी पद व प्रतिष्ठा खोने के डर से भी बदलाव को संशय से देखते हैं। courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

कमिटमेंट फोबिया

कमिटमेंट फोबिया
8/11

कुछ लोग कमिटमेंट फोबिया के कारण भी जॉब चेंज से डरते हैं। कमिटमेंट फोबिया वास्तव में गलत फैसले लेने और लंबे समय तक उस फैसले में बंधे रहने का डर होता है। यह डर धीरे-धीरे व्यक्ति के रोजमर्रा के फैसले लेने की क्षमता को प्रभावित करता है और व्यक्ति कमिटमेंट फोबिक बन जाता है। courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

ज़्यादा उम्र का भय

ज़्यादा उम्र का भय
9/11

जॉब बदलते समय कई लोगों को (25 से 35 वर्ष के भी) लगता है कि उनकी उम्र ज्यादा हो चुकी है और वे युवाओं की तरह जोख़िम नहीं ले सकते हैं। लेकिन आपको बता दें कि जॉब में इंसान अपने काम और व्यवहार से जवान या बूढ़ा कहलता है, अपनी क्षमताओं को समझें और फिर निर्णय लें, उम्र तो बाद की चीज़ हैं। और आप तो अभी एक-दम जवान दिखते हैं! courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

जीवन पर दुष्प्रभाव का भय

जीवन पर दुष्प्रभाव का भय
10/11

लोग कई बार जॉब चेंज से इसलिए भी भयभीत होते हैं कि कहीं इस बदलाव से अनके शादीशुदा जीवन पर तो कोई बुरा प्रभाव तो नहीं पड़ेगा। हां देखिये जॉब में बदलाव से आपके जीवन में थोड़े बदलाव तो ज़रूर आएंगे, लेकिन वे बुरे होंगे ऐसा सोचना सरासर गलत है।courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

Disclaimer