मुंह की देखभाल में ये आठ गलतियां करते हैं पुरुष

शरीर की देखभाल की तरह मुंह की देखभाल बहुत जरूरी है, लेकिन अक्‍सर पुरुष मुंह की देखभाल करते हुए कई सामान्‍य गलतियां करने लगते हैं जिससे दांतों और मुंह की समस्‍या हो सकती है।

Nachiketa Sharma
Written by: Nachiketa SharmaPublished at: Nov 04, 2014

मुंह की देखभाल

मुंह की देखभाल
1/9

मुंह की देखभाल भी शरीर की देखभाल का प्रमुख हिस्‍सा है। मुंह शरीर का प्रमुख हिस्‍सा है और इसमें समस्‍या होने पर आपको खाने-पीने में दिक्‍कतें हो सकती हैं। लेकिन अक्‍सर आप मुंह की सफाई के दौरान कई गलतियां करते हैं। हालांकि मुंह की देखभाल करना बहुत ही आसान है, लेकिन जानकारी के अभाव में आप छोटी-छोटी गलतियां करते हैं जिससे मुंह में सक्रमण, मुंह का कैंसर, मुंह से बदबू आने जैसी समस्‍यायें होने लगती हैं। अगर आप भी मुंह की देखभाल में कुछ गलतियां कर रहें हैं तो इन्‍हें करने से बचें। छाया साभार - गेटी इमेज

ब्रेकफास्‍ट से पहले ब्रश

ब्रेकफास्‍ट से पहले ब्रश
2/9

ब्रेकफास्‍ट से पहले दांतों की सफाई के लिए ब्रश करना बहुत जरूरी है। लेकिन अगर आप ब्रश करने के तुरंत बाद ब्रेकफास्‍ट कर रहे हैं तो अपनी दांतों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। ब्रश करने के 60 मिनट बाद तक किसी भी प्रकार के आहार का सेवन करने से बचना चाहिए। क्‍योंकि इसके कारण मुंह में बनने वाला एसिड आपकी दांतों को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए ब्रेकफास्‍ट से तुरंत पहले ब्रश करने से बचें। छाया साभार - गेटी इमेज

ब्रेकफास्‍ट के बाद ब्रश

ब्रेकफास्‍ट के बाद ब्रश
3/9

अगर आप ब्रेकफास्‍ट के तुंरत बाद ब्रश कर रहे हैं तो भी आप गल‍ती कर रहे हैं। ब्रेकफास्‍ट के तुरंत बाद ब्रश करने से दांतों के बीच की खाली जगह में कीटाणु पनपने लगते हैं। इससे दांतों में कीड़े पड़ने की संभावना बढ़ जाती है। छाया साभार - गेटी इमेज

मिठाई के बाद ब्रश न करना

मिठाई के बाद ब्रश न करना
4/9

अगर आपने मिठाई खायी है और ब्रश नहीं किया है तो इससे दांतों के साथ मुंह को भी नुकसान होता है। शुगर में पाये जाने वाले तत्‍व शरीर में बनने वाले एसिड को प्रभावित करते हैं और इसका असर मुंह पर भी पड़ता है। इसलिए जब भी स्‍वीट खायें तुंरत मुंह की सफाई करें और हो सके तो ब्रश करें। छाया साभार - गेटी इमेज

बदबू दूर करने के लिए

बदबू दूर करने के लिए
5/9

कुछ लोग सांसों की बदबू दर करने के लिए सख्‍ती से ब्रश करते हैं जबकि इससे सांसों की बदबू से दांतों का लेना-देना नहीं होता है। सांसों की बदबू जीभ और मसूड़ों से निकलती है। इसलिए मुंह की बदबू दूर करने के लिए दांतों की नहीं जीभ और मसूड़ों का ध्‍यान रखें। छाया साभार - गेटी इमेज

सोने से पहले ब्रश न करना

सोने से पहले ब्रश न करना
6/9

जो लोग बिना ब्रश किये सो जाते हैं वे अपने दांतों के साथ मुंह को भी नुकसान पहुंचाते हैं। सोने से पहले ब्रश न करने के कारण 6-8 घंटे तक मुंह में बैक्‍टीरिया रहते हैं और यह मुंह की समस्‍या बढ़ाते हैं। इसलिए सोने से पहले ब्रश जरूर करें। छाया साभार - गेटी इमेज

फ्लोस से बचना

फ्लोस से बचना
7/9

फ्लोस यानी दांत साफ करने वाले धागे का प्रयोग करने से हम बचते हैं, जबकि दातों को साफ करने के लिए यह बहूत जरूरी होता है। क्‍योंकि खाने का एक छोटा सा टुकड़ा भी अगर हमारी दांतों में फस जाये तो इसके कारण कैविटी जैसी अन्‍य समस्‍यायें होने लगती हैं। लेकिन हम दांतों की सफाई के लिए फ्लोस का प्रयोग नहीं करते हैं। छाया साभार - गेटी इमेज

खाने के तुरंत बाद माउथवॉश

खाने के तुरंत बाद माउथवॉश
8/9

कुछ लोग खाने के तुरंत बाद ही माउथवॉश का प्रयोग करते हैं, उनको लगता है कि इससे मुंह में बदबू की समस्‍या नहीं होगी। जबकि माउथवॉश में पाया जाने वाला एसिड खाने के तुरंत बाद प्रयोग करने से मुंह को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए अगर आप माउथवॉश का प्रयोग करना चाहते हैं तो खाने के लगभग 45 मिनट बाद ही करें। छाया साभार - गेटी इमेज

नियमित जांच न कराना

नियमित जांच न कराना
9/9

मुंह और दांतों की देखभाल के लिए बहुत जरूरी है कि आप नियमित रूप से इसकी जांच करायें। प्रत्‍येक 6 महीने बाद दं‍त चिकित्‍सक के पास जाकर दांतों की जांच अवश्‍य करायें। क्‍योंकि दांतों में इस दौरान कई तरह के धब्‍बे पड़ जाते हैं जो दिखाई नहीं देते, लेकिन बाद में यही धब्‍बे प्‍लेक का कारण बन सकते हैं। छाया साभार - गेटी इमेज

Disclaimer