जल संक्रमण को प्राकृतिक रूप से दूर करने के उपाय

जल जीवन है। इसके बिना मानव जीवन की कल्‍पना भी नहीं की जा सकती। लेकिन दूषित पानी शरीर में विषाक्त पदार्थों को एकत्रित कर पाचन तंत्र, गुर्दे और मूत्राशय को नुकसान पहुंचा सकता है। जल संक्रमण से पी‍डि़त होने पर एंटीबायोटिक दवाओं और कुछ घरेलू उपचारों को अपना सकते हैं।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Oct 29, 2014

खतरनाक है दूषित पानी

खतरनाक है दूषित पानी
1/8

जल संक्रमण, दुनिया भर में बहुत से लोगों, विशेष रूप से बच्चों को प्रभावित करता हैं और बहुत अधिक परेशानी का सबब बन सकता है। यह समस्‍या अधिक दूषित पानी में संचरित रोगजनक सूक्ष्‍मजीवों के कारण होती है। और सीधे मरीजों के किडनी को प्रभावित करती है। लेकिन यह समस्‍या यूनिनरी ट्रैक्ट इफेक्‍शन (यूटीआई) से अलग होती है। image courtesy : getty images

कैसे होता है जल संक्रमण

कैसे होता है जल संक्रमण
2/8

जल संक्रमण प्रोटोजोआ, बैक्‍टीरिया और वायरस के कारण होता है और यह पाचन तंत्र की दीवारों के माध्यम से संचार प्रणाली के ऊतकों पर आक्रमण करते हैं। इसके कारण आपके पाचन तंत्र, मूत्राशय और मूत्र मार्ग या सभी में समस्‍याएं पैदा कर सकता है। वैसे तो संक्रमण के इलाज के लिए कई प्रकार की एंटीबायोटिक दवाएं उपलब्ध हैं, लेकिन आप इन दवाओं का सेवन नहीं करना चाहते हैं, तो यहां दिये प्राकृतिक उपायों को आजमा सकते हैं। image courtesy : getty images

रेड जूस

रेड जूस
3/8

क्रेनबेरी जूस किडनी से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकलवाने का सबसे अच्छा विकल्प है। दिन में दो बार इसका एक गिलास पियें। इसके अलावा आप ब्लूबेरी या अनार के जूस को भी ले सकते हैं। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण यह फल शरीर को प्राकृतिक रूप से संक्रमण से मुक्त करने में मदद करते हैं। image courtesy : getty images

सेब साइडर सिरका

सेब साइडर सिरका
4/8

सिरके में मौजूद पीएच स्‍तर शरीर की बाहरी तत्‍वों से रक्षा करता है। कुछ मात्रा में सेब साइडर सिरका लेने से शरीर समस्‍या पैदा करने वाले रोगजनकों के खिलाफ कार्रवाई करने में मजबूर करता है। image courtesy : getty images

पेनकिलर से बचें

पेनकिलर से बचें
5/8

पेनकिलर लेने से आपको दर्द महसूस नहीं होता है, लेकिन दर्दनिवारक से आपकी किडनी पर खराब असर पड़ सकता है। लेकिन अगर आप दर्दनिवारक लेने की जरूरत महसूस करते हैं तो इसका इस्‍तेमाल अंतिम उपाय के रूप में करें। सबसे पहले गर्म पानी की बोतल और आराम या हल्‍के स्‍ट्रेच को करने की कोशिश करें। image courtesy : getty images

आराम करें

आराम करें
6/8

अच्‍छे स्वास्थ्य को बनाये रखने के लिए पर्याप्‍त नींद बहुत जरूरी होती है, साथ ही यह रोगी को अधिक दर्द सहने योग्‍य बनाती है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि पर्याप्‍त आराम के बाद शरीर किसी भी समस्‍या से बेहतर तरीके से लड़ सकता है। यदि आप रात को पर्याप्‍त सात आठ घंटे की नींद लेते हैं तो किसी भी समस्‍या का बेहतर सामना कर सकते हैं।image courtesy : getty images

रेड मीट के सेवन से बचें

रेड मीट के सेवन से बचें
7/8

संक्रमण के कारण कमजोर शरीर को अधिक एनर्जी की जरूरत होती है, जबकि रेड मीट के सेवन से पाचन को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। इसलिए संक्रमण के दौरान रेड मीट के सेवन से बचें ताकि आपका शरीर आसानी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकाल सकें। हालांकि आप इस दौरान सफेद मांस ले सकते हैं। image courtesy : getty images

प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों का उपभोग न करें

प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों का उपभोग न करें
8/8

इस समय आपका शरीर संक्रमण का मुकाबला कर रहा होता है इसलिए सब ताजे खाद्य पदार्थों का सेवन आपके लिए बेहतर होता है। आपको पता होना चाहिए कि आपके भोजन में क्‍या है और कौन सी सामग्री आपकी समस्‍या को बढ़ा सकती है। दर्द को कम करने के लिए आसानी से पचने वाले फलों और सब्जियों को अधिक मात्रा में लेने की कोशिश करें। image courtesy : getty images

Disclaimer