सफेद या ग्रे बालों से जुडे कुछ मिथ

उम्र के साथ बालों का सफेद होना तय है, लेकिन समय से पहले भी बाल सफेद हो सकते हैं, ऐसे में ये कुछ मिथ ऐसे भी हैं जिनपर आप विश्‍वास न करें तो ही अच्‍छा है।

Gayatree Verma
Written by: Gayatree Verma Published at: Oct 01, 2015

बालों से संबंधित मिथ

बालों से संबंधित मिथ
1/6

सभी चाहते हैं कि उनके बाल घने, काले और मुलायम हों। लेकिन पोषण की कमी, आनुवांशिक कारणों और दूसरी समस्‍याओं की वजह से बाल झड़ने लगते हैं और सफेद भी होने लगते हैं। इस वक्‍त व्‍यक्ति के मन में कई तरह के सवाल उठते हैं और कई तरह की गल‍तफहमियां भी होती हैं। इसके कारण वे कई गलतियां भी करते हैं और इसका सीधा प्रभाव बालों पर पड़ता है। आइए हम आपको बालों से सबंधित कुछ मिथ के बारे में बताते हैं।

मिथ-1: एक रात में बाल ग्रे या सफेद हो सकते हैं

मिथ-1: एक रात में बाल ग्रे या सफेद हो सकते हैं
2/6

सदियों से ये माना जाता रहा है कि बाल रातों-रात सफेद या ग्रे हो जाते हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि बालों का रंग जेनेटिकली बदलता है और इसमें समय लगता है। यहां बालों का रंग बदलने और रात में कोई संबंध नहीं है।

मिथ-2: एक की जगह दो आते हैं

मिथ-2: एक की जगह दो आते हैं
3/6

ये तो पढ़े-लिखे भी मानते हैं कि एक सफेद बाल निकालते हैं तो उसकी जगह दो बाल निकलते हैं। इस कारण सफेद  बाल कोई तोड़ता भी नहीं है। लेकिन विशेषज्ञ कहते हैं कि एक जगह से बाल उखाड़ने पर वहां बाल उगने के, ना के बराबर ही चांसेस होते हैं।

मिथ -3: रोज बाल धोने से बाल सफेद नहीं होते

मिथ -3: रोज बाल धोने से बाल सफेद नहीं होते
4/6

साइंटिफीकली ये साबित हुआ है कि बाल धोने से बाल गंदे नहीं रहते और ऑयल फ्री रहते हैं। वो भी बालों को एक-एक दिन छोड़कर धोना चाहिए। अगर बाल रोज धोएंगे तो मालुम नहीं की आप उसे सफेद होने से बचा पाएंगे की नहीं लेकिन उसे रुखा जरूर कर देंगे।

मिथ -4: सूरज की किरणें सफेद बालों का कारण

मिथ -4: सूरज की किरणें सफेद बालों का कारण
5/6

ये तो सभी ही बोलते हैं और मानते हैं। इस कारण कई लोग तेज धूप में बाहर नहीं निकलते और अगर निकलते भी हैं तो सर को ढककर निकलते हैं। जब कि वैज्ञानिकों के तरफ से ऐसा कुछ भी प्रूफ नहीं हुआ है कि अत्याधिक सूरज की किरणें बालों को सफेद करती हैं।

मिथ-5: मां की तरह तो नहीं हो जाएंगे मेरे बाल सफेद?

मिथ-5: मां की तरह तो नहीं हो जाएंगे मेरे बाल सफेद?
6/6

ना जाने क्यों लोग ऐसी बातों पर विश्वास करते हैं? जबकि वैज्ञानिकों के तरफ से इस बात के कोई पुख्ता सबूत नहीं आए हैं। ये सच है कि बच्चों में मां-बाप के जीन आते हैं, लेकिन हर इंसान के अपने स्पेशल जीन होते हैं जो यूनिक होते हैं। मतलब की आप अपने बालों की अच्छी तरह देखभाल कर बालों को सफेद या ग्रे होने से बचा सकते हैं।

Disclaimer