अल्‍जाइमर से जुडी इन 5 भ्रांतियों के बारे में जानें

By:Gayatree Verma , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Sep 30, 2015
बीमारी से ज्यादा खतरनाक उसके बारे में फैली अफवाहें होती हैं जो उसके बारे में लापरवाही बरतने का मौका देती हैं, अल्‍जाइमर के बारे में भी ऐसी भ्रांतियां हैं जिनके बारे में यहां जानें।
  • 1

    अल्‍जाइमर संबंधित मिथ

    भूलने वाला रोग अल्‍जाइमर कभी भी और किसी को भी हो सकता है। जरूरत है इसके बारे में फैले अफवाहों पर भरोसा न करने की। क्योंकि ये अफवाह न तो इस बीमारी को ठीक करने में मदद करते हैं न बीमारी को समझने देते हैं। वैसे तो इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है। लेकिन इस बीमारी के दौरान मरीज की अच्छी देखभाल इस बीमारी के खतरे को कम कर सकती है। ऐसे में जरूरी है कि इस बीमारी के खतरों के बारे में सचेत रहें और अफवाहों से दूर रहें।

    अल्‍जाइमर संबंधित मिथ
    Loading...
  • 2

    झूठ 1- अल्‍जाइमर केवल बड़े उम्र की बीमारी

    ये सबसे बड़ा झूठ है। ये सोचकर जो बैठे हुए हैं खासकर तो युवा, उनके लिए जरूरी है कि वह यह बात जान ले की ये बीमारी अधेड़ उम्र 30, 40 और 50 वर्ष की आयु में भी होती है। शोध में यह बात सामने आई कि अल्जाइमर का 5 प्रतिशत मरीजों का हिस्सा अधेड़ उम्र के वर्ग से आता है। साथ ही सबसे बड़ी समस्या है कि डॉक्टर इस उम्र में अल्‍जाइमर होने से इंकार करते हैं जिससे लोगों को डायगनॉनिस के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता है।

    झूठ 1- अल्‍जाइमर केवल बड़े उम्र की बीमारी
  • 3

    झूठ 2- बढ़ती उम्र है अल्‍जाइमर का कारण

    आप पेन रखकर भूल सकते हैं, आपने कल क्या सोचा था वो भूल सकते हैं, लेकिन लिखते-लिखते आप ये भूल जाएं कि आप लिख क्यों रहे हैं या चलते-चलते ऑफिस का रास्त भूल जाएं तो सचेत हो जाइए। वो भी अगर आपकी उम्र 50 से कम है तो यह एक गंभीर समस्या की ओर इशारा करता है।

    झूठ 2- बढ़ती उम्र है अल्‍जाइमर का कारण
  • 4

    झूठ 3- इससे कम से कम मौत नहीं होती

    मालुम नहीं ये अफवाह किसने और कब फैलाई है लेकिन ये सबसे खतरनाक है। अमेरिका में मौत का छठवां सबसे बड़ा कारण अल्‍जाइमर है। अल्‍जाइमर से ग्रस्त लोगों को खाने-पीने तक के बारे में याद नहीं रहता जिससे वे कुपोषण तक के शिकार हो जाते हैं। इसके अलावा उन्हें सांस लेने में भी समस्या होती है जिससे वे निमोनिया तक के चपेट में आ जाते हैं। जिससे मरीज मौत तक का शिकार हो जाते हैं।

    झूठ 3- इससे कम से कम मौत नहीं होती
  • 5

    झूठ 4- इलाज मुमकिन है

    इस एक झूठ के कारण कई लोगों ने इस बीमारी के प्रति असावधानी बरती है जिसके कारण उन्हें असमय काल के गाल में जाना पड़ा। जबकि सच्चाई यह है कि इसका कोई भी इलाज नहीं है और ये लाइलाज बीमारी है। इसमें केवल मरीज का अच्छी तरह ख्याल रख उसे कम तकलीफों से गुजरने से बचाया जा सकता है।

    झूठ 4- इलाज मुमकिन है
  • 6

    झूठ 5- अल्‍जाइमर का कारण एल्युमिनियम, सिल्वर फीलिंग या एस्पार्टम

    आपने अक्सर लोगों को कहते सुना होगा कि एल्युमिनियम के बर्तन में खाना बनाने या पानी पीने से अल्जाइमर होता है। जबकि अब तक इसका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं आया है। यहां तक की विशेषज्ञों को ना तो अब तक इस बीमारी का कारण पता चला है और ना इसका इलाज। हालांकि कुछ शोधों में यह बात पता चली है कि यह बीमारी जीन, वातावरण, जीवनशौली, दिल की बीमारी, हाई ब्लडप्रेशर और मधुमेह से संबंधित होती है।

    झूठ 5- अल्‍जाइमर का कारण एल्युमिनियम, सिल्वर फीलिंग या एस्पार्टम
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK