जानें क्या हैं लिंग में जख्‍म और बदबू के कारण

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:May 16, 2016
लिंग को समय-समय पर साफ न करने, लिंग को समय-समय पर साफ न तथा लिंगमुण्डशोथ अर्थात बलैंनिटिस निम्न कारणों से भी लिंग में जख्‍म और बदबू हो सकते हैं। चलिये जानें क्या हैं लिंग में जख्‍म और बदबू के कारण।
  • 1

    लिंग में जख्‍म और बदबू के कारण


    अपने लिंग बदबू और घाव होने के निम्न कारण हो सकते है: -


    आप अपने लिंग को समय-समय पर साफ नहीं करते हैं।
    आप किसी यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) से पीड़ित हैं।
    किसी कारण से त्वचा में रूखापन आ गया है।

    इसके अलावा लिंग में जख्‍म और बदबू के निम्नलिखित कारण भी होते हैं।
    Images source : © Getty Images

     लिंग में जख्‍म और बदबू के कारण
    Loading...
  • 2

    शिश्नमल अर्थात स्मेग्मा (Smegma)


    अगर आप रोज़ाना अपने लिंग को साफ नहीं करते हैं तो एक चिपचिपा दिखने वाला पदार्थ, जिसे स्मेग्मा करते हैं, लिंग की त्वचा के भीतर बन जाता है। शिश्नमल एक प्राकृतिक स्नेहक है जोकि लिंग की नमी बनाए रखता है। यह लिंग के सिर (मुण्ड) और चमड़ी के नीचे पाया जाता है। यदि शिश्नमल चमड़ी में बनाता है तो इससे निम्न समस्याएं होती हैं -


    गंध आनी शुरू हो जाती है।
    त्वचा की गतिविधी बाधित हो जाती है।
    बैक्टीरिया के लिए एक प्रजनन भूमि बन जाती है।
    इससे लिंग के सिर पर जलन (लाली और सूजन) पैदा हो जाती है, जिसे लिंगमुण्डशोथ (balanitis) कहा जाता है।
    Images source : © Getty Images

    शिश्नमल अर्थात स्मेग्मा (Smegma)
  • 3

    लिंगमुण्डशोथ अर्थात बलैंनिटिस (Balanitis)


    स्वच्छता की कमी के अलावा, लिंगमुण्डशोथ अर्थात बलैंनिटिस निम्न कारणों से भी विकसित हो सकता है -
        
    मुखव्रण आदि संक्रमण के कराण।
    सोरायसिस, जो कि त्वचा की खुजली, परतदार पैच का कारण बनता है, आदि त्वचा की स्थिति के कारण।
    साबुन, दवा या कंडोम की वजह से होने वाली त्वचा में जलन के कारण।   

    यदि आपको बलैंनिटिस के लक्षण दिखाई दें तो आपको डॉक्टर से मिलना चाहिये। डॉक्टर आमतौर पर बलैंनिटिस के कारणों के आधार पर दवाएं और उपचार देते हैं।
    Images source : © Getty Images

     लिंगमुण्डशोथ अर्थात बलैंनिटिस (Balanitis)
  • 4

    यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई)


    एक एसटीआई भी कभी-कभी पीड़ादायक और बदबूदार लिंग का कारण बन सकता है। एसटीडी के कुछ उदाहरण और उनके लक्षणों में निम्न शामिल हैं -  

    सूजाक (gonorrhoea)
    इस समस्या की वजह से लिंग से एक असामान्य, सफेद, पीले या हरे रंग का तरल बह सकता है या फिर पेशाब करते समय जलन या दर्द और लिंग की चमड़ी में सूजन हो सकती है।

    क्लैमाइडिया (chlamydia)

    इस स्थिति के कारण लिंग से सफेद, झागदार तरल रिस सकता है और पेशाब करते समय अंडकोष में दर्द हो सकता है।  
    Images source : © Getty Images

    यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई)
  • 5

    एनएसयू (Non-specific urethritis)


    मूत्रमार्गशोथ (Urethritis) मूत्रमार्ग की सूजन होती है (मूत्राशय से लिंग की नोक तक जाने वाली ट्यूब की सूजन)। मूत्रमार्गशोथ सामान्य रूप से एक एसटीआई की वजह से होता है, लेकिन यदि कारण अज्ञात है तो यह एनएसयू (Non-specific urethritis) कहलाता है। एनएसयू की वजह से लिंग में सूजन आ जाती
     
    है।
    एनएसयू के लक्षणों में निम्न शामिल होते हैं -

    लिंग से एक सफेद या झागदार तरल मुक्त होना।
    पेशाब करते समय जलन या दर्द का होना।
    लिंग की नोक जलन और घाव महसूस होना।
    बार-बार पेशाब आना।

    एसटीआई या एनएसयू के किसी भी लक्षण के दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क कर उचित इलाज कराएं।  
    Images source : © Getty Images

    एनएसयू (Non-specific urethritis)
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK