चेहरे के हिसाब से चुनें सनग्लासेज

अपने चेहरे के शेप के अनुसार ही चुनें सनग्लासेज। इसके लिए जरूरी है कि आप अपने चेेहरे के शेप के बारे में जान लें। आइए जानें चेहरे के हिसाब से कैसे चुनें सनग्लासेज।

Anubha Tripathi
Written by: Anubha TripathiPublished at: May 31, 2014

सोच समझ कर चुनें सनग्लासेज

सोच समझ कर चुनें सनग्लासेज
1/10

कुछ लोगों के लिए सनग्लासेज का मतलब सिर्फ फैशन होता है, लेकिन वो भूल जाते हैं कि गर्म हवाओं और तेज धूप से आंखों की सुरक्षा और सुकून के लिए सनग्लासेज पहनना बहुत जरूरी है। इसलिए सनग्लास खरीदते समय उसकी क्वालिटी और फैशन दोनों का खास ध्यान रखें। आइए जानें सनग्लासेज लेते समय किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

लंबे और आयताकार चेहरे के लिए

लंबे और आयताकार चेहरे के लिए
2/10

फ्रेम का चुनाव करते समय आपको अपने चेहरे के आकार पर भी ध्यान देना चाहिए। लंबे और आयताकार चेहरे पर एविएटर शेप अच्छा लगता है। चूंकि ऐसे चेहरे चौड़े होते हैं, इसलिए एविएटर फ्रेम लंबे चेहरे को छोटा और विस्तृत बनाते हैं। इस आकार के चेहरे वाले लोगों को आयताकार सनग्लासेज पहनने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे आपका चेहरा अधिक लंबा नजर आता है।

अगर तीखे हैं नैन-नक्श

अगर तीखे हैं नैन-नक्श
3/10

जिन लोगों के नैन-नक्श तीखे हैं और चेहरे का आकार समानुपात में है, उनके लिए वर्गाकार या आयताकार सनग्लासेज सबसे अच्छे रहेंगे। इससे आपका लुक निखर कर सामने आएगा।

गोल शेप

गोल शेप
4/10

अगर आपके चेहरे का शेप गोल है, तो आप आयताकार या कोणीय फ्रेम चुनें। यह फ्रेम आपके चेहरे पर सही कंट्रास्ट बनाते हुए आपके चेहरे को पतला लुक देता है।

स्कवॉयर फेस के लिए

स्कवॉयर फेस के लिए
5/10

अगर आपका फेस वर्गाकार (स्कवॉयर कट) है तो आपके ऊपर अंडाकार फ्रेम के सनग्लास अच्छा रहता है। यह कंट्रास्ट लुक देने के साथ चेहरे के चारों कोने के तीखेपन को कम करेगा।

माथा चौड़ा है तो

माथा चौड़ा है तो
6/10

जिसकी ललाट चौड़ी, लेकिन जबड़ों का आकार पतला है, उनके चेहरों पर संकीर्ण फ्रेम सबसे अच्छा लगता है। ऐसे लोगों को एविएटर या शेड्स फ्रेम के इस्तेमाल से बचना चाहिए, क्योंकि इससे आपके चेहरे का आकार और स्पष्ट दिखेगा। हल्के रंग के रिमलेस फ्रेम भी आपके लिए सही रहेगे।

अंडाकार शेप फेस

अंडाकार शेप फेस
7/10

अंडाकार शेप के लिए कोई भी फ्रेम चुन सकते हैं, क्योंकि इस आकार का चेहरा संतुलित और समानुपात में ढला होता है। पतले व स्ट्रेट चेहरे पर छोटे सनग्लासेज फबते हैं, जबकि बड़े चेहरे पर चौड़े सनग्लासेज भाते हैं।

क्वालिटी से समझौता नहीं

क्वालिटी से समझौता नहीं
8/10

सनग्लासेज सिर्फ फैशनेबल एक्सेसरीज नहीं है। यह आंखों की सुरक्षा के लिहाज से भी जरूरी है और इससे राहत का सबब है पोलराइज्ड एंटी ग्लेयर सनग्लासेज। ये सुरक्षा परत की तरह काम करते हैं। इनके लेंस में मौजूद छोटी-छोटी हॉरिजेंटल स्ट्राइप्स उस चमक को बीच में रोक देती हैं, जो सतह से टकराकर परावर्तित होती हैं।

फोटोक्रोमिक लेंस

फोटोक्रोमिक लेंस
9/10

जिन लोगों की आंखों की रोशनी कमजोर होती है, उनको फोटोक्रोमिक लेंस वाले सनग्लास चुनने चाहिए, ताकि साफ नजर आए और आंखों पर पड़ने वाली चमक से भी सुरक्षा हो सके। फोटोक्रोमिक लेंस में सिल्वर क्लोराइड या सिल्वर हैलाइड यौगिक होता है। जब पराबैंगनी किरणें उससे टकराती हैं, तो एक विशेष प्रतिक्रिया उत्पन्न होती है। यही वजह है कि धूप में आने पर फोटोक्रोमिक लेंस का रंग गहरा हो जाता है। इसलिए सनग्लासेज लेते समय क्वालिटी से कभी समझौता न करें।

स्किन टोन का खयाल

स्किन टोन का खयाल
10/10

ट्रेंड के साथ अपनी स्किन टोन के अनुसार ही सनग्लास के शेड का चुनाव करें। जिनकी स्किन टोन डार्क है, उन्हें लाइट शेड के सनग्लासेज पहनना चाहिए। गोरे रंग के लोगों पर गहरे शेड्स के सनग्लासेज जंचते हैं, जबकि गहरी रंगत पर गहरे शेड्स को छोड़कर किसी भी कलर के सनग्लासेज अच्छे लगते हैं।

Disclaimer