इन 4 बातों के लिए 'सॉरी' नहीं 'थैंक्‍यू' बोलिये

कई बार स्थिति ऐसी भी होती है जब सामने वाला व्‍यक्ति सॉरी की बजाय थैंक्‍यू सुनना चाहता है। तो क्‍यों न परिस्थिति के अनुसार शब्‍दों का चयन किया जाये। आज हम आपको शब्‍दों के सही चयन, यानी सॉरी और थैंक्‍यू बोलने के बारे में बता रहे हैं।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Jan 13, 2016

'सॉरी' नहीं 'थैंक्‍यू' बोलिये

 'सॉरी' नहीं 'थैंक्‍यू' बोलिये
1/5

यूं तो अपनी गलती पर सॉरी बोलने की आदत अच्‍छी होती है, लेकिन हर बात पर सॉरी बोलना भी सही नहीं। जीं हां, कुछ लोगों को हर बात पर सॉरी बोलने की आदत होती है। ऐसे लोग जरूरी न होने पर भी सॉरी बोलने से पीछे नहीं हटते। लेकिन कई बार स्थिति ऐसी भी होती है जब सामने वाला व्‍यक्ति सॉरी की बजाय थैंक्‍यू सुनना चाहता है। चूंकि 'सॉरी' क्षमा-याचना से जुड़ा है और 'थैंक्‍यू' आभार प्रकट करने से संबंधित है। तो क्‍यों न परिस्थिति के अनुसार शब्‍दों का चयन किया जाये। आज हम आपको शब्‍दों के सही चयन, यानी सॉरी और थैंक्‍यू बोलने के बारे में बता रहे हैं। इनके बारे में जानें और सॉरी की जगह सॉरी, थैंक्‍यू की जगह थैंक्‍यू बोलें।

देर से आने के लिए सॉरी नहीं थैंक्‍यू

देर से आने के लिए सॉरी नहीं थैंक्‍यू
2/5

अगर आप किसी से मिलने जा रहे है और आपको पहुंचने में देर हो जाती है, तो लेट आने के लिए आप हमेशा सॉरी बोलती हैं। क्‍या कभी आपने सामने वाले को उसकी सहनशीलता के लिए थैंक्‍यू बोलकर उसका आभार प्रकट किया है, नहीं ना, तो अगली बार अगर आप किसी से मिलने जा रहे हैं और पहुंचने में देर हो जाये तो सॉरी नहीं थैंक्‍यू बोलें।

समझने के लिए थैक्‍यू

 समझने के लिए थैक्‍यू
3/5

बातों को कहने का भी एक तरीका होता है। ऐसी बात बोलें कि सामने वाले पर इसका जादू चल जाये और वो आपसे इंप्रेस हुए बिना न रह पाये। ऐसे ही अगर आप किसी को कोई बात समझा रहे हैं और उसे समझ नहीं आ रही है। तो, उसे 'सॉरी मुझे बात कहनी नहीं आती कि बजाय उसे समझने के लिए सामने वाले को थैंक्‍यू बोलें। फिर देखिये वो आपकी उस बात का भी समर्थन करेगा जो उसकी समझ से परे थी।

वक्‍त गुजारने के लिए थैंक्‍यू

वक्‍त गुजारने के लिए थैंक्‍यू
4/5

हर कोई अभिमन्‍यू नहीं होता जो कि सारी कलायें अपनी मां के पेट में सीखकर आये। सभी पैदा होने के बाद इस दुनिया और इसपर रहने वाले प्राणियों से ही सीखते हैं। ऐसे में अगर आपको दूसरों को इंटरटेन करना नहीं आता तो आपकी गलती नहीं है और इसके लिए आपको सॉरी बोलने की जरूरत भी नहीं है, बल्कि इसके लिए सामने वाले का शुक्रिया अदा कीजिए क्‍योंकि उसने अपना कीमती वक्‍त आपके साथ बिताया।

सांत्‍वना देने के लिए थैंक्‍यू

सांत्‍वना देने के लिए थैंक्‍यू
5/5

हमें हर कदम पर दूसरों के सहारे की जरूरत होती है और उनसे ही हम सीखते भी हैं। ऐसे में गलती होना लाजमी है, लेकिन अगर आपकी कमियों के बारे में किसी ने आपको बताया है तो उसे अपनी कमी बताने के लिए सॉरी न बोलें, बल्कि उसने आपको एक नया पाठ पढ़ाया है उसके लिए उसे थैंक्‍यू बोलें। आपकी बुरी बातों को भी अगर कोई बर्दाश्‍त कर रहा है तो उसे अपने इस व्‍यवहार के लिए सॉरी कहने की बजाय, उसकी जिंदगी में आपकी अहमियत रखने के लिए उसे धन्‍यवाद बोलें। Image Source : Getty

Disclaimer