अपच के 8 मुख्य कारण क्या होते हैं, जानें

कई बार समय-असमय भोजन करने से, कभी भी व कहीं भी कुछ भी खाने-पीने तथा बार-बार खाते रहने से पहले खाया हुआ भोजन ठीक से पच नहीं पाता है और अपच हो जाती है, हलांकि इसके कई और कारण भी हैं।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: Jan 31, 2015

अजीर्ण या अपच

अजीर्ण या अपच
1/8

पाचन तंत्र में कोई गड़बड़ी होने की वजह से भोजन न पचने को अजीर्ण या अपच (इनडाइजेशन) कहा जाता है। कई बार समय-असमय भोजन करने से, कभी भी व कहीं भी कुछ भी खाने-पीने तथा बार-बार खाते रहने से पहले खाया हुआ भोजन ठीक से पच नहीं पाता है। और फिर जब दूसरा भोजन भी पेट में पहुंच जाता है तो ऐसे में पाचनतंत्र भोजन को पूर्ण रूप से नही पचा पाता जो अपच का मुख्य कारण है। कई बार ज्यादा तला-भुना या मिर्च मसाले वाला भोजन करने से भी अपच हो जाती है। लेकिन इसके कई अन्य कारण भी हो सकते हैं। चलिये जानें क्या हैं वे कारण -  Images courtesy: © Getty Images

अपच के लक्षण

अपच के लक्षण
2/8

अपच की समस्या होने पर रोगी को भूख नहीं लगती, खट्टी डकारें आती हैं, छाती में जलन होती है, पेट में भारीपन महसूस होता है तथा लगातार बेचैनी सी महसूस होती रहती है। साथ ही रोगी को पसीना भी अधिक आता है, नींद नहीं आती और कभी-कभी दस्त भी हो जाते हैं। Images courtesy: © Getty Images

लिवर में किसी खराबी की वजह से

लिवर में किसी खराबी की वजह से
3/8

लिवर शरीर का एक बेहद महत्वपूर्ण अंग होता है। यदि यह खराब हो जाए तो पूरे शरीर का सिस्टम प्रभावित कर देता है। लिवर के साथ हमारे शरीर के कई फंक्शन जुड़े होते हैं। जैसा कि यह शरीर के डाइजेशन और मेटाबॉलिज्म में मुख्य भूमिका निभाता है और साथ-साथ शुगर फैट और कोलेस्ट्रॉल पर भी नियंत्रण रखता है, लिवर में हुई कोई खराबी अपच का कारण बन सकती है। Images courtesy: © Getty Images

भूख से ज्यादा भोजन करना

भूख से ज्यादा भोजन करना
4/8

भूख से ज्यादा भोजन करने पर अपच की समस्या हो सकती है। क्योंकि ऐसा करने पर व्यक्ति जल्दी जल्दी भोजन करता है और उसे ठीक से चबाकर भी नहीं खाता है। जिस कारण लार निवालों में नहीं मिल पाती और भोजन पेट में जाकन ठीक से नहीं पचता है। Images courtesy: © Getty Images

भोजन के तुरंत बाद लेट या बैठ जाना

भोजन के तुरंत बाद लेट या बैठ जाना
5/8

जो लोग भोजन के तुरंत बाद लेट जाते हैं, या फिर बैठ कर काम करने लग जाते हैं तो उनको भी अपच की समस्या होने लगती है। क्योंकि खाने खाते ही कोई भी गतिविधी किया बिना बैठ जैने पर खाना पच नहीं पाता है। Images courtesy: © Getty Images

शराब का सेवन या धूम्रपान

शराब का सेवन या धूम्रपान
6/8

शराब के सेवन और धूम्रपान से भी पेट खराब हो सकता है और अपच हो सकती है। इन के सेवन से गले के पीछे एक जलन तथा मितली जैसी समस्याएं भी होती है। साथ ही शराब के सेवन और धूम्रपान दोनों से ही पेट में खुश्की होती है, जोकि अपच का कारण बनती है। Images courtesy: © Getty Images

छोटी आंत में बैक्टीरिया

छोटी आंत में बैक्टीरिया
7/8

छोटी आंत में बैक्टीरिया की जीवाणु  को भी अपच का एक बढ़ा कारण माना जाता है। हांलाकि शोध इस संबंध में अभी निर्णायक नहीं हैं, लेकिन क्योंकि जीवाणु संक्रमण या जीवाणु जीवाणु के लक्षण एक से ही होते हैं, कुछ मामलों में ये अपच के लिए जिम्मेदार हो सकता है। इसका हाइड्रोजन सांस परीक्षा द्वारा परिक्षण किया जाता है और एंटीबायोटिक दवाओं की मदद से इसका इलाज किया जा सकता है। Images courtesy: © Getty Images

कुछ दवाएं

कुछ दवाएं
8/8

आईब्रूफीन (ibuprofen) और एस्पिरीन (aspirin.s) जैसी गैर स्टेरायडल एंटी-इंफ्लेमेटरी दवाओं (NSAIDs) का साइडइफेक्ट अपच के रूप में हो सकता है। 16 साल की उम्र से कम के बच्चों तथा पहले से पेट की किसी भी प्रकार की समस्याओं ग्रस्‍त व्‍यक्ति को इन पेन किलर दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिये। Images courtesy: © Getty Images

Disclaimer