आपके पसंदीदा गानों में झलकती है आपकी मानसिकता

गानें सुनना हर किसी को पसंद होता है और कई बार गानें तनावमुक्त करने का भी काम करते हैं। लेकिन क्या आपको मालुम है कि गाने आपके मानसिक स्वास्थ्य की गवाही भी देते हैं। आइए जानें कैसे?

Meera Roy
Written by:Meera RoyPublished at: Dec 28, 2015

गानें और मानसिकता

गानें और मानसिकता
1/7

अगर आपको कहा जाए कि आपके पसंदीदा गाने आपकी मनःस्थिति का परिचय देते हैं तो क्या आपको इस बात पर यकीन होगा? खैर! आपको इस बात पर यकीन हो या न हो लेकिन तमाम विशेषज्ञ इस बात पर सहमति जताते हैं कि व्यक्ति विशेष के पसंदीदा गाने उसकी मानसिक स्थिति बताते हैं। यही नहीं गानों के कलेक्शन से यह भी पता लगाया जा सकता है कि किसी का व्यक्तित्व कैसा है, उसे किस तरह की चीजें पसंद है। असल में हर गाना विशेष किस्म का व्यक्तित्व लिये होता है। मनोवैज्ञानिकों की मानें तो गानों के जरिये किसी के रिश्ते में आयी खटास, खुशी आदि का भी पता लगाया जा सकता है। जैसे कि यदि किसी का दिल टूटता है तो वह ऐसे गाने सुनना पसंद करता है जिसमें टूटे दिल की बात कही जाती है। बहरहाल आइये जानते हैं कौन सा गाना क्या कहता है?

धूमधाम से भरे संगीत

धूमधाम से भरे संगीत
2/7

यदि आप इस तरह के म्यूजिक सुनना पसंद करते हैं तो यह कहना मुश्किल नहीं होगा कि आप विद्रोही किस्म के व्यक्ति हैं। यही कारण है कि छोटी छोटी चीजों को लेकर भी किसी के साथ विद्रोह करने में हिचकते नहीं हैं। वैसे भी धूमधाम भरे संगीत ऐसे होते हैं जो सामान्यतः सबको पसंद नहीं आते। इन्हें सुनने के लिए भी दूसरों से विद्रोह करना ही होता है।

देश संगीत, धार्मिक संगीत

देश संगीत, धार्मिक संगीत
3/7

देश संगीत और धार्मिक संगीत इस बात की ओर इशारा करते हैं कि आप बेहद सामान्य सोच रखते हैं। पारंपरिक चीजों पर आपका खासा विश्वास है। यही नहीं चीजों को जटिल करके देखना आपको आता ही नहीं है। बेकार की चीजों पर आपको जरा भी भरोसा नहीं है। आप चाहते हैं कि हर चीज पारंपरिक तरीके से ही चले ताकि जीवन में किसी प्रकार की समस्याएं ही न आएं।

रैप

रैप
4/7

हालांकि इन दिनों रैप का खासा चलन भारत में देखा जा रहा है। लेकिन अगर गौर से देखा जाए तो रैप सिर्फ युवा और किशोरों को ही रिझाने में कामयाब हुए हैं। जबकि वयस्क और वृद्ध रैप सुनना कतई पसंद नहीं करते। इसका मतलब साफ है जो कि ताल से ताल मिला सकते हैं, एनर्जी दिखा सकते हैं, रैप जैसे संगीत उन्हीं लोगों को आकर्षित करते हैं। असल में रैप किसी भी तरह के सोच विचार से पर है। इसमें सिर्फ कदम ताल मिलने चाहिए और बदन झूमना चाहिए। मतलब साफ है कि आप सोच विचार से परे के शक्स हैं यदि रैप पसंद करते है। हर काम खुदगर्जी के रूप में करते हैं। इस बात से आपको कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन आपके बारे में क्या सोचता है।

प्रेम संगीत

प्रेम संगीत
5/7

जिन्हें अपने रिश्तों पर भरोसा है, जिन्हें अपने आप पर भरोसा हो, वे अकसर प्रेम संगीत सुनते हैं। यही नहीं प्रेम संगीत उन्हें प्रेरित भी करती है और सबसे प्रेम करने की सीख भी प्रदान करती है। यही कारण है इस तरह के संगीत सुनने वाले सबसे प्रेम करते हैं और दूसरों में प्रेम बांटने की हर संभव कोशिश करते हैं।

जटिल संगीत

जटिल संगीत
6/7

जिन लोगों को थोड़े जटिल किस्म के संगीत पसंद आते हैं वे असल में निजी जीवन में बेहद पेचीदे होते हैं। वे न दूसरों को अपने जीवन में आने देना पसंद करते हैं और न ही वे ये चाहते हैं कि कोई उन्हें जाने या समझे। यही नहीं वे दूसरों से दूरी बनाए रखते हैं ताकि कोई उनके गुप्त भेद को जान न ले। असल में कहना यह चाहिए कि जटिल संगीत सुनने वाले बेहद रहस्यमयी होते हैं और वो अपना रहस्य किसी के समने उजागर होने नहीं देना चाहते।

पारंपरिक संगीत

पारंपरिक संगीत
7/7

जो लोग पारंपरिक संगीत सुनते हैं वे असल में बेहद अंतर्मुखी होते हैं। साथ ही रूढि़वादी भी। दरसअल पारंपरिक संगीत सुनने वाले ये कतई नहीं चाहते कि समाज में या उनके इर्द गिर्द किसी भी तरह का बदलाव हो। वास्तव में उन्हें बदलाव पसंद ही नहीं आते और न ही उन्हें बदलाव में किसी प्रकार की खुशी मिलती है।  

Disclaimer