एलर्जिक सीजन में कैसे रखें खुद को सेफ

मौसम बदल रहा है और तापमान विशेषज्ञ बार-बार यही कह रहे हैं कि इस साल रिकार्ड तोड़ गर्मी पड़ने वाली है। इसका मतलब साफ है कि गर्मी के साथ-साथ कई किस्म की समस्याएं भी दस्तक देने वाली है।

Meera Roy
Written by: Meera RoyPublished at: Apr 09, 2017

मौसम में बदलाव

मौसम में बदलाव
1/7

मौसम बदल रहा है और तापमान विशेषज्ञ बार-बार यही कह रहे हैं कि इस साल रिकार्ड तोड़ गर्मी पड़ने वाली है। इसका मतलब साफ है कि गर्मी के साथ-साथ कई किस्म की समस्याएं भी दस्तक देने वाली है। लेकिन ध्यान रखें कि हो सकता है कि इस साल गर्मी के साथ-साथ यह एलर्जी का मौसम भी बन सकता है। दरअसल यकायक मौसम में आए बदलाव के कारण विभिन्न तरह की बीमारियां पैदा हो सकती है। इसमें एलर्जी भी है। अब सवाल ये है कि भीषण एलर्जी के इस सीजन को कैसे मात दिया जा सकता है? मतलब यह कि कैसे सेफ रहा जा सकता है? आइए जानते हैं।

लक्षण पहचानें

लक्षण पहचानें
2/7

आंख मलना, छींक आना ये सब आम बाते हैं। वैसे भी गर्मी के मौसम में इस तरह की चीजें कम देखने को मिलती है। लेकिन यदि आप बार-बार आंख मल रही हैं तो जरा गौर करें कि कहीं इस बार आप पहले की तुलना में ज्यादा बार आंख तो नहीं मिल रहीं? कहीं आप बिना किसी वजह से छींके आयी जा रही हैं जैसा कि पहले कभी नहीं हुआ? या फिर कोई चीज खाने से आपको हाथ या गले में खुजली होने लगी है? अगर ऐसा है तो ध्यान रखें कि यह एलर्जी के लक्षण हो सकते हैं। इस तरह के लक्षण दिखने पर तुरंत सतर्क हो जाएं। अगर संभव है तो डाक्टर के पास भी जा सकती हैं।

दवाएं

दवाएं
3/7

एलर्जी के लक्षण पता चलते ही आपने अपनी नियमित दवा किसी ड्रगस्टोर से खरीद ली है। उसे खा भी लिया है। लेकिन फिर भी आपमें कोई सुधार नहीं हुआ। आपको बता दें कि अगर पुराने लक्षण में पुरानी दवा काम न करे तो समझें एलर्जी का यह भीषण दौर है। इसमें खुद को सावधान रखना बहुत जरूरी है। दवाएं जो इस सीजन कारगर साबित नहीं हो रही हैं, उसे बदलें। लेकिन किसी विशेषज्ञ से संपर्क के बाद।

नमक पानी का गरारा

नमक पानी का गरारा
4/7

कई बार बदलते मौसम में कुछ ऊलजुलू खाने से गले में इंफेक्शन या एलर्जी हो जाती है। ऐसे में आप अपने गले को सेफ रखने के लिए नमक पानी का गरारा कर सकती हैं। कोशिश करें कि एक दिन में कम से दो बार लें। अगर कोई संक्रमण न भी हो तो भी नमक पानी का गरारा गले की हेल्थ के सही है। मतलब यह कि बिना वजह भी नमक पानी का गरारा किया जा सकता है।

पसीने वाले कपड़ों को बाय-बाय

पसीने वाले कपड़ों को बाय-बाय
5/7

पसीने वाले कपड़ों को जितना जल्दी बाय-बाय कह सकें, बेहतर होगा। क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि पसीनों के कारण शरीर में धूल मिट्टी चिपक जाती है। इतना ही शरीर की दुर्गंध से कई तरह के कीड़े भी आकर चिपक सकते हैं। इसलिए घर लौटते ही जितना जल्दी संभव हो पसीने वाले कपड़े और जूतों के बाय-बाय कहें। कोशिश करें कि रात को सोने के पहले एक बार नहाएं जरूर। इससे स्वास्थ्य भी सही रहता है और एलर्जी होने की आशंका में भी कमी आती है।

अंदर ही करें वर्कआउट

अंदर ही करें वर्कआउट
6/7

गर्मी के इस मौसम में बाहर निकलना किसी भी हालत में सेफ नहीं है। हालांकि अगर आप बाहर जानकर वर्कआउट करना चाहती हैं तो इसमें कोई खराबी नहीं है। लेकिन मौसम की मार आपकी आंख,नाक और कान को एलर्जी से न जकड़े इसके लिए आपको चाहिए कि अंदर ही वर्कआउट करें और एलर्जी से दूर रहें। हालांकि सुबह-शाम गर्मी के मौसम में बाहर निकलना स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है।

मास्क पहनें

मास्क पहनें
7/7

बदलते मौसम में कई लोगों को एलर्जी हो सकती है। इसके लिए आप चाहें तो मास्क पहनकर रख सकती हैं। इससे दूसरों से एलर्जी होने का खतरा नहीं होता। साथ ही आप भी किसी तरह की बीमारी दूसरों को पास नहीं कर रही होती हैं।

Disclaimer