लंबाई बढ़ाने के लिए ट्राई करें ये नैचुरल तरीके!

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jan 30, 2014
लम्बाई जीन्स पर निर्भर करती है, लेकिन कुछ ऐसे प्राकृतिक तरीके भी हैं जिनको अपनाकर आप अपनी लम्बाई बढ़ा सकते हैं।
  • 1

    लम्बाई कैसे बढ़ाएं

    स्त्री हो या पुरुष, अच्छी हाइट दोनो की सुंदरता और व्यक्तित्व में निखार लाती है। क्योंकि लम्बाई जीन्स पर निर्भर करती है, इसलिए कुछ लोग सोचते हैं कि लम्बाई बढ़ा पाना मुमकिन नहीं होता। लेकिन आपको यह जानकर खुशी होगी कि कुछ ऐसे प्रकृतिक तरीके हैं जिनको अपनाकर आप अपनी लम्बाई बढ़ा सकते हैं।

    लम्बाई कैसे बढ़ाएं
    Loading...
  • 2

    योग है फायदेमंद

    ताड़ासन से शरीर की लम्बाई बढ़ाई जा सकती है। छोटे बच्चे और टीनेजर ताडासन का नियमित अभ्यास कर अपनी लम्बाई 6 फुट तक भी बढ़ा सकते हैं| ताड़ासन करने के लिए दोनों हाथ ऊपर करके सीधे खड़े हो जायें, फिर गहरी सांस लें, धीरे-धीरे हाथों को ऊपर उठाते जायें और साथ-साथ पैर की एडियां भी उठती रहें। पूरी एड़ी उठाने के बाद शरीर को पूरी तरह से तान दें और फिर गहरी सांस लें। ताड़ासन करने से स्नायु सक्रिय होकर विस्तृत होते हैं। इस तरह यह कद बढ़ाने में सहायक होता है।

    योग है फायदेमंद
  • 3

    स्वस्थ और पोषक आहार

    पौष्टिक भोजन में मौजूद विटामिन, प्रोटीन, कैल्शियम, जिंक, मैग्नीशियम और फास्फोरस लम्बाई बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसलिए स्वस्थ और पोषक आहार लें। कार्बोनेटेड पेय, संतृप्त वसा और अधिक चीनी लेने से परहेज करें, क्योंकि ये आपकी लम्बाई पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं। पेय जैसे दूध, जूस तथा गाजर, मछली, चिकन, अंडे, सोयाबीन, दलिया, आलू, बीन्स और हरी सब्जियां अपने भोजन में शामिल करें। साथ ही बादाम और मूंगफली जैसे नट्स तथा सेब और केले जैसे फल भी आपकी लम्बाई बढ़ाने में मददगार होते हैं।

    स्वस्थ और पोषक आहार
  • 4

    पर्याप्त नींद

    इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि लम्बाई जीन्स पर निर्भर करती है। लेकिन इस बात को भी नहीं नकारा जा सकता कि पर्याप्त नींद स्वस्थ जीवनशैली और शरीर की समग्र वृद्धि और विकास के लिए सबसे अच्छा उपाय है। न सोने या कम नींद लेने का प्रतिकूल प्रभाव हमारे पूरे शरीर पर पड़ता है। पर्याप्त नींद यह सुनिश्चित करती है कि आपकी लम्बाई और वजन ठीक रहेंगे। क्योंकि नींद के दौरान शरीर में ऊतकों का विकास और निर्माण होता है। साथ ही पर्याप्त नींद लेने से लम्बाई को नियंत्रण करने वाले हार्मोन की वृद्धि होती है। इसलिए, एक दिन में कम से कम 7 घंटे की नींद लेना जरूरी होता है।

    पर्याप्त नींद
  • 5

    शरीर की उचित मुद्रा

    अनुचित मुद्रा में रहने से शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। सिर और गर्दन झुकाकर चलने, खड़े रहने से लम्बाई पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। यह न केवल आपकी रीढ़ बाहर की ओर झुका देता है, बल्कि लम्बाई को भी कम करता है। उचित आसन में रहने से अपकी मांसपेशियों को आराम मिलता है और लम्बाई बढ़ती है।

    शरीर की उचित मुद्रा
  • 6

    नशे और लम्बाई बढ़ाने वाली दवाओं से बचें

    शराब पीना और धूम्रपान गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बनते हैं। धूम्रपान या अल्कोहल लेने वाले व्यक्ति के विकास और लम्बाई पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए किसी भी प्रकार के नशे से दूर रहें। इसके अलावा युवाओं द्वारा ली जाने वाली लम्बाई बढ़ाने वाली दवाओं और एंटीबायोटिक्स के कई सारे साइड इफेक्ट होते हैं। ये लम्बाई तो नहीं बढ़ाती, लेकिन आपको आलसी और निष्क्रिय जरूर बना देती हैं। इसलिए इस प्रकार की दवाओं को कतई न लें।

    नशे और लम्बाई बढ़ाने वाली दवाओं से बचें
  • 7

    धूप और पानी की भरपूर मात्रा लें

    विटामिन 'डी' अपकी हड्डियों के विकास के लिए महत्वपूर्ण होता है, और सूरज की रोशनी विटामिन 'डी' का सबसे अच्छा प्राकृतिक स्रोत है। बस तेज धूप में न जाएं, इसका अधिकतम लाभ पाने के लिए सुबह या शाम के समय की धूप में बाहर जाएं और उसका पूरा लाभ लें। साथ ही पानी आपके शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने तथा भोजन को अच्छे से पचाने में सहायता करता है। पानी न पीने से मेटबॉलिज्म धीमा हो सकता है, और आपकी बढ़ती लम्बाई बाधित हो सकती है। यहां तक कि कम पानी पीने पर, सारी सावधानियों और पौष्टिक भोजन लेने के बाद भी आपकी लम्बाई नहीं बढ़ती है।

    धूप और पानी की भरपूर मात्रा लें
  • 8

    जड़ी-बूटियां

    कद बढ़ाने के लिये सूखी नागौरी और अश्वगंधा की जड़ के चूर्ण में बराबर मात्रा में खांड मिला लें। रात को सोते समय रोज दो चम्मच गाय के दूध के साथ इसे लें। इसकी मदद से कम कद वाले लोग लंम्बे हो सकते हैं। लेकिन इसका सेवन बिना एक्सपर्ट की सलाह के ना करें।

    जड़ी-बूटियां
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK