आयुर्वेद की मदद से करें अतिरिक्त वसा का सफाया

दुनिया तेजी से मोटी होती जा रही है, और ये एक चिंता का विषय है, हालांकि कुछ आयुर्वेदिन उपायों की मदद से इस समस्या से सुरक्षित ढंग से निपटा जा सकता है और मोटापे को कम किया जा सकता है।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: Aug 05, 2014

मोटापा भगाएगा आयुर्वेद

मोटापा भगाएगा आयुर्वेद
1/10

मोटापा देश और दुनिया में महामारी का रूप ले चुका है। अगर आप भी इसके शिकार हैं, तो सावधान हो जाइए। मोटापे से न केवल आपके पसंदीदा कपड़े छोटे हो जाते हैं, बल्कि यह कई बीमारियों का जनक भी माना जाता है। लेकिन इस समस्या से सुरक्षित ढंग से निपने के लिए आयुर्वेद की मदद ली जा सकती है। तो चलिये जानें आयुर्वेद की मदद से अतिरिक्त वसा कर करने के कारगर नुस्खों के बारे में। Image courtesy: © Getty Images

सौंफ

सौंफ
2/10

आधा चम्मच सौंफ को एक कप पानी में डालकर खौला कर काढ़ा बना लें। 10 मिनट तक इसे ढंककर रखें। ठंडा हो जाने पर इसे पिएं। तीन महीने तक नियमत सेवन करने से चर्बी कम होने लगती है।Image courtesy: © Getty Images

अश्वगंधा

अश्वगंधा
3/10

अश्वगंधा के एक पत्ते को हाथ से मसलकर गोली बनाकर प्रतिदिन सुबह, दोपहर और शाम को खाना खाने के एक घंटा पहले या खाली पेट पानी से निगल लें। एक हफ्ते तक रोज इस गोली के सेवन से से मोटापा कम होता है।Image courtesy: © Getty Images

दलिया

दलिया
4/10

गेहूं ,चावल, बाजरा और साबुत मूंग को समान मात्रा में दलिया बना लें। इस दलिये में 20 ग्राम अजवायन तथा 50 ग्राम सफेद तिल मिला लें। 50 ग्राम दलिये को 400 मिली लिटर पानी में पकाएं। आप स्वादानुसार सब्जियां और हल्का नमक भी मिला सकते हैं। एक महीने तक रोज इस दलिये को खाने से न सिर्फ मोटापा कम होता है बल्कि मधुमेह रोगियों को भी लाभ होता है। Image courtesy: © Getty Images

गुग्गुल गोंद

गुग्गुल गोंद
5/10

गुग्गुल गोंद चर्बी घटाने में बेहद कारगर हता है। इसे दिन मे दो बार पानी में घोलकर या हल्का गुनगुना कर सेवन करने से अतिरिक्त चर्बी कम करने में मदद मिलती है।Image courtesy: © Getty Images

मूली और नींबू का रस

मूली और नींबू का रस
6/10

मूली के रस में थोड़ा नमक और निम्बू का रस मिलाकर रोजाना एक कप पीने से मोटापा कम होता है। इससे शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम होती है और शरीर सुडौल बनता है।  Image courtesy: © Getty Images

हरड़ और बहेड़ा चूर्ण

हरड़ और बहेड़ा चूर्ण
7/10

हरड़ और बहेड़ा का चूर्ण बना कर लेने से मोटापा कम होता है। इसके लिए एक चम्मच चूर्ण 50 ग्राम परवल के जूस (1 छोटा गिलास) के साथ नियमित लेने से वजन तेजी से कम होने लगता है।Image courtesy: © Getty Images

सौंठ, दालचीनी छाल और काली मिर्च चूर्ण

सौंठ, दालचीनी छाल और काली मिर्च चूर्ण
8/10

सौंठ, दालचीनी की छाल और काली मिर्च ( सभी 3 ग्राम) को पीसकर चूर्ण बनाकर रख लें। इस चूर्ण को एक चम्मच सुबह खाली पेट और रात सोने से पहले पानी के साथ लें, इससे आपकी शरीर में मौजूद अतिरिक्त चर्बी कम होने लगेगी। Image courtesy: © Getty Images

छोटी पीपल

छोटी पीपल
9/10

छोटी पीपल को पीसकर इसका बारीक चूर्ण बनाकर और कपड़े से छानकर रख लें। इस चूर्ण को तीन ग्राम रोजाना सुबह के समय छाछ के साथ लें। कुछ ही दिनों में आपका बाहर निकला पेट अंदर होने लगेगा। Image courtesy: © Getty Images

आंवला व हल्दी

आंवला व हल्दी
10/10

आंवले व हल्दी को बराबर मात्रा में पीसकर इनका चूर्ण बना लें और ठीक प्रकार से छान लें। इस चूर्ण को छाछ के साथ दिन में एक बार नियमित रूप से लें। आप जल्द ही देखेंगे कि आपकी कमर पर मौजूद चर्बी कम होने लगी है। Image courtesy: © Getty Images

Disclaimer