ऐसे बदलें अपने बारे में किसी महिला के विचार

कई बार न चाहते हुए भी आपको लेकर किसी लड़की के मन में एक गलत छवि बन जाती है, ऐसी स्थिति होने पर क्‍या करें कि वो आपके बारे में अच्‍छा सोचे, इस स्‍लाइडशो को पढ़ने के बाद आप खुद समझ जायेंगे।

Gayatree Verma
Written by: Gayatree Verma Published at: Feb 17, 2016

लड़का-लड़की औऱ सोच

लड़का-लड़की औऱ सोच
1/5

लड़के ज्यादा नहीं सोचते और ना जल्दी किसी के बारे में विचार बनाते हैं। लेकिन लड़कियां, जिनको बचपन से ही सतर्क रहना सिखाया गया है, जल्दी किसी पर विश्वास नहीं करती और अगर बात लड़कों की हो तो उनकी छोटी सी गलती पर उनके बारे में गलत विचार मन में बना लेती हैं। अगर ऐसा ही विचार आपकी किसी दोस्त ने या जानने वाले ने आपके बारे में बना ली है तो फिर से एक अच्छी शुरूआत करें। वैसे भी पुरुषों का फर्ज है हर बात को मजाक में लेना और स्थिति को हल्का-फुल्का करना। इसकी शुरुआत भावनात्मक बातों से करें, क्योंकि भावनात्मक बातों के साथ किसी भी महिला के सामने अपनी छवि अच्छी बना सकते हैं।

गलती के बाद आगे बढ़ें

गलती के बाद आगे बढ़ें
2/5

गलती हुई सो हुई, उसे लेकर चिपके ना रहें। लड़की भले ही गलती को लेकर बैठी हुई हो लेकिन आप उस गलती के लिए माफी मांग कर आगे बढ़ें। बीते हुए पर ध्यान लगाने से अच्छा है, अच्छी बातें करके अपने बारे में अच्छा लगवाएं। ऐसे में की हुई गलती से सीख लें और ध्यान आकर्षित करने के लिए कुछ नया करें। नया नहीं भी कर पा रहे हैं तो उस गलती को दोहराए नहीं और आगे का ख्याल रखें।

दूरी बनाएं

दूरी बनाएं
3/5

हर एक गलती के बाद रिश्तों में दूरियां आ जाती हैं। रिश्ता आगे बढ़ाएं, लेकिन दूरियों को कम ना करें। किसी की भी सोच को बदलना आसान नहीं लेकिन उसे और अधिक गहरा होने से तो आप बचा ही सकते हैं। दूरियां रहेंगी तो फिर से गलती होने के चांसेस कम रहेंगे। क्योंकि एक गलती के बाद लड़कियां छोटी से छोटी बात नोटिस करने लगती है। ऐसे में थोड़ा समय लें। दोस्ती और रिश्ता आगे बढ़ाते रहें। दोबारा उस बात को ना छेड़ें और दूरी के साथ अपनी एक मीठी सी केयर भी दिखाते रहें।

बात करने की फिर से कोशिश करें

बात करने की फिर से कोशिश करें
4/5

अगर आपको लगता है कि आपने गलती की है तो तुरंत माफी मांगे। लेकिन ऐसे मांफी ना मांगे कि सामने वाले को लगे कि आप केवल फॉर्मिलिटी के लिए माफी मांग रहे हैं। और हां, अगर उन्होंने माफ कर दिया है तो दोबारा उस बात को ना उठाएं। याद रखें, कि आप जितना अपनी गलती के बारे में सोचते हैं उतना दुसरे नहीं सोचते। केवल अपने व्यवहार का ध्यान रखें।

माफी के वक्त दूसरी बातें ना लाएं

माफी के वक्त दूसरी बातें ना लाएं
5/5

कई लोग माफी मांगते वक्त ये दलील देते हैं कि तुम भी तो उस दिन वैसा की थी, लेकिन मैंने तो बूरा नहीं माना। ऐसा बिल्कुल भी ना करें। आपको अपनी गलती के लिए माफी मांगने में परेशानी नहीं होनी चाहिए और माफी मांगते वक्त किसी भी चीजों का बखान ना करें। क्योंकि हर एक इंसान, सामने वाले के कामचलाऊ और फॉर्मल व्यवहार को आसानी से पकड़ लेता है।

Disclaimer