चेस्ट फैट को कम करेंगे ये वर्कआउ

चेस्ट पर यदी चर्बी बहुत हो और वे लटके हुए हों तो काफी भद्दे लगते हैं। ये न सिर्फ पर्सनेलटी को बेकार करते हैं, बल्कि मनोबल भी कमज़ोर करते हैं। लेकिन कुछ वर्कआउट की मदद से इसे कम किया जा सकता है।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: Jan 16, 2015

चेस्ट फैट कम करने के वर्कआउट

चेस्ट फैट कम करने के वर्कआउट
1/9

चेस्ट पर यदी चर्बी बहुत हो और वे लटके हुए हों तो काफी भद्दे लगते हैं। ये न सिर्फ पर्सनेलटी को बेकार करते हैं, बल्कि मनोबल भी कमज़ोर करते हैं। इसलिये कई लोग चेस्ट की चर्बी को घटाने के लिये सर्जरी और दवाइयों को सहारा लेते हैं। लेकिन इनका सहारा क्‍यों लें जब आप खुद ही कुछ एक्सरसाइज की मदद से इस चर्बी को कम कर सकते हैं। तो चलिये जानें कुछ ऐसे ही चेस्ट फेट को कम करने वाले वर्कआउट।  Image courtesy: © Getty Images

मसल्‍स की टोनिंग ज़रूरी

 मसल्‍स की टोनिंग ज़रूरी
2/9

चेस्ट फैट को कम कम करने के लिये अपने चेस्‍ट के साथ साथ शोल्‍डर त‍था बाहों की मासपेशियों की टोनिंग करना ज़रूरी होता। इसके लिये पुश अप, बेंच प्रेस तथा इसोमेट्रिक चेस्‍ट कन्ट्रैक्शन करने से चेस्ट पर मौजूद अधिक चर्बी कम होती है और वह शेप में आता है।  Image courtesy: © Getty Images

पुश अप्स

पुश अप्स
3/9

पुश अप्स को एक कंप्लीट एक्सरसाइज कहा जाए तो गलत न होगा। बिना किसी वर्कआउट के सामान के इसे कहीं भी किया जा सकता है। यह चौड़ा औक मजबूत सीना पाने की कसरत है। पुश अप्स करने के लिये पेट के बल फर्श पर लेट जाएं और फिर दोनों हाथों के सहारे शरीर को ऊपर उठाएं और नीचे लाएं। इससे सीने की चर्बी कम होगी, मसल्स बढ़ेंगी और बाजू भी मजबूत होंगे।Image courtesy: © Getty Images

स्टैगर्ड पुश अप्स

स्टैगर्ड पुश अप्स
4/9

स्टैगर्ड पुश अप्स करने से चैस्ट की चर्बी कम होती है और चेस्ट, शोल्डर और ट्राइसेप्स मजबूत बनाते हैं। इसे तीन स्टेप्स में किया जाता है। पहले स्टेप में पुश अप पोजीशन में आकर पैर और हाथ सीधे किये जाते हैं और फिर हाथ कंधे के नीचे रखने होते हैं। दूसरे स्टेप में क्रमबद्ध अपने सीधे हाथ को आगे और उल्टे को पीछे ले जाया जाता है। और अपने चेस्ट को फर्श की ओर ले जाया जाता है जब तक वह फर्श से छू ना जाए, और फिर वापस ऊपर लौट आए। वापस ऊपर लौटने पर एक रैप पूरा होता है। हर रैप में दूसरे हाथ का उपयोग करना होता है।Image courtesy: © Getty Images

मेडिसिन बॉल पुश अप

मेडिसिन बॉल पुश अप
5/9

मेडिसिन बॉल पुश अप चेस्ट की चर्बी को कम करने तथा उसे  बेहतरीन शेप देने की एक प्रभावी एक्सरसाइज है। इसे करने के लिए पुश अप पोजीशन में आकर अपने बायें हाथ को मेडिसिन बॉल पर और दाहिने हाथ को जमीन पर रखना होता है। और फिर अपने चेस्‍ट को फर्श से एक इंच ऊपर रख, ऊपर की ओर प्रेस करना होता है। ध्यान रहे कि ऊपर की पोजिशन से अपने बाएं हाथ को बॉल के ऊपर और दायें को फर्श पर रखना होता है। Image Courtesy: cdn.vogue.com.au

बारबेल बेंच प्रेस

बारबेल बेंच प्रेस
6/9

सीने की चर्बी को कम कर उसे कमाल की शेप व विस्तार देने के लिए बेंच प्रेस सालों से फिटनेस इंस्ट्रक्टर्स की पंसदीदा एक्सरसाइज में से एक रही है। बारबेल बेंच प्रेस करने के लिए एक मानक ओलंपिक बैंच पर अपनी पीठ के बल फ्लैट लेट जाएं, फिर अपने पैरों को फर्श पर सीधे कर वज़न वाली रोड को स्टैंड से हटाएं और चेस्ट की ओर नीचे लाएं और फिर वापस ऊपर ले जाएं। रोड का बैलेंस बनाए रखने के लिए दोनों हाथों को साथ चलाएं और बराबर दूरी पर रखें। Image courtesy: © Getty Images

डम्बल बेंच प्रेस

डम्बल बेंच प्रेस
7/9

डम्बल बेंच प्रेस फ्लैट डंबल प्रेस से मिलती-जुलती एक्सरसाइज है। लेकिन डम्बल बेंच प्रेस चेस्ट की मांसपेशियों पर ज्यादा प्रभावी ढ़ंग से काम करती है और जल्दी उससे अतिरिक्त फैट कम कर शेप में लाती है। डम्बल बेंच प्रेस करने के लिए बैंच पर कमर के बल लेट जाएं और दोनों हाथों में डंबल उठा कर कंधों पर जोर डालते हुए उन्हें छाती की ओर लाएं और फिर वापस ऊपर ले जाएं। Image courtesy: © Getty Images

फ्लैट डंबल प्रेस

फ्लैट डंबल प्रेस
8/9

कुछ लोग मानते हैं कि यह फ्लैट बेंच प्रेस से बेहतर एक्सरसाइज है, क्योंकि फ्लैट बेंच प्रेस में आपके हाथ एक सीमा से नीचे नहीं आते। बेंच करते वक्त रॉड जैसे ही आपके चेस्ट से छूती है उसे वापस ऊपर ले जाना पड़ता है। जबकि डंबल प्रेस के मामले में आपकी चेस्ट पर कुछ आने जैसी बात ही नहीं होती, क्योंकि इसमें रोड़ होती ही नहीं है। जितना आप डंबल को नीचे ले जाएंगे उतना प्रेशर आपकी चेस्ट पर बनेगा।Image courtesy: © Getty Images

डाइट

डाइट
9/9

भले ही चर्बी कहीं की भी कम करनी हो, इसके लिये आपको उपरोक्त नियमित वर्कआउट के साथ-साथ सही खानपान रखना बेहद जरूरी होता है। ऐसे आहार का सेवन करें जो वसा को शरीर में न बढ़ाते हों, जैसे, लहसुन, हरी पत्तेदार सब्जियां, अनाज, नींबू और बैरी आदि। बाहर का खाना ना ही खाएं तो बेहतर होगा। Image courtesy: © Getty Images

Disclaimer