पालतू जानवर देते हैं आपको सेहत का तोहफा

पालतू जानवरों के साथ समय बिताने से आपके मन और सेहत दोनों पर सकारात्‍मक असर होता है। साथ ही पालतू जानवरों से आपका तनाव भी दूर होता है।

Bharat Malhotra
Written by: Bharat MalhotraPublished at: Aug 19, 2014

पालतू जानवरों का सकारात्‍मक असर

पालतू जानवरों का सकारात्‍मक असर
1/8

क्‍या आपने कभी इस बात को नोटिस किया है कि जब आप पालतू जानवरों के इर्द-गिर्द होते हैं तो आप ज्‍यादा खुश महसूस करते हैं। यह बात पूरी तरह सही है। पालतू जानवरों के साथ समय बिताने से आपके मूड और सेहत पर सकारात्‍मक असर होता है। पालतू जानवरों से आपका तनाव भी दूर होता है। image courtesy : getty imges

दिल के दौरे का खतरा कम

दिल के दौरे का खतरा कम
2/8

अगर आपके पास कुत्‍ता है तो आपको दिल की बीमारियां होने की आशंका कम होती है। अब आपके जेहन में यह सवाल आएगा कि आखिर ऐसा क्‍यों होता है। तो इसका जवाब यह है कि कुत्‍ते के मालिक, उन लोगों से ज्‍यादा पैदल चलते हैं जिनके पास कुत्‍ता नहीं होता। इससे उनका रक्‍तचाप नियमित रहता है। और उन्‍हें दिल का दौरा पड़ने की आशंका भी कम होती है। image courtesy : getty imges

तनाव करे दूर

तनाव करे दूर
3/8

अपने पालतू कुत्‍ते या बिल्‍ली पर हाथ फिराना बहुत फायदेमंद होता है। इससे आपके शरीर से तनाव को दूर करने वाले हॉर्मोन का स्राव होता है। पालतू जानवरों का साथ आपके तनाव को दूर करने में मदद मिलती है। image courtesy : getty imges

सामाजिक बंधन

सामाजिक बंधन
4/8

पालतू जानवर खास कुत्‍ते, आपको अन्‍य लोगों के साथ जोड़ने का काम करता है। अगर किसी के पास कुत्‍ता हो और आप भी कुत्‍ता लेकर टहल रहे हों तो आप उससे आसानी से बात कर सकते हैं। कुत्‍ता आपको सामाजिक रूप से एक दूसरे के करीब लेकर आता है। image courtesy : getty imges

मूड बेहतर बनाये

मूड बेहतर बनाये
5/8

जो लोग जानवर पालते हैं उनका मूड बेहतर होता है। वे लोग ज्‍यादा विश्‍वासी होते हैं। उन्‍हें अकेलेपन का अहसास कम होता है। इसके साथ ही पालतू जानवर वाले लोग छोटी-छोटी समस्‍याओं के लिए डॉक्‍टर के पास कम जाते हैं। पालतू जानवर आपको जुड़ाव का एक नया अर्थ समझाकर जाते हैं। image courtesy : getty imges

रखे दिल को सेहतमंद

रखे दिल को सेहतमंद
6/8

अगर आपको पहले से दिल की बीमारियां हैं तो भी कुत्‍ता आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। दिल के दौरे के बाद लोगों को दिल की धड़कन की अनियमितताओं की शिकायत होती है। लेकिन शोध में साबित हुआ है कि ऐसे लोग, जिनके पास कुत्‍ता है उन्‍हें इस तरह की परेशानियां कम होती हैं। image courtesy : getty imges

बच्‍चे के इम्‍यून सिस्‍टम पर असर

बच्‍चे के इम्‍यून सिस्‍टम पर असर
7/8

जिन परिवारों में पालतू जानवर होते हैं, उन्‍हें अस्‍थमा और एलर्जी की समस्‍यायें कम होती हैं। कुछ शोध में यह बात साबित हुई है। जानकार कहते हैं कि बच्‍चे के छह महीने का होने से पहले अगर घर में पालतू जानवर आ जाए तो उन्‍हें किसी प्रकार की बीमारी होने का खतरा कम होता है। ऐसे बच्‍चों को पहले एक साल में सामान्‍य बच्‍चों की अपेक्षा सर्दी-जुकाम, कान में संक्रमण और अन्य संभावित संक्रमण होने का खतरा कम होता है। image courtesy : getty imges

ऑस्टिक पीड़ित बच्‍चों की मदद

ऑस्टिक पीड़ित बच्‍चों की मदद
8/8

एक अन्‍य शोध के मुताबिक जिस क्‍लासरूम में पालतू जानवर हों वहां के बच्‍चे ऑटिज्‍म पीडि़त अपने सहपाठी से बेहतर तालमेल बैठा पाते हैं। एक शोध में यह बात साबित हुई है। जानकार मानते हैं कि जानवर क्‍लास का वातावरण बदल देते हैं। इससे बच्‍चे आपस में बेहतर तरीके से घुल मिल सकते हैं। इससे उनमें सकारात्‍मकता अधिक रहती है। image courtesy : getty imges

Disclaimer