Diabetes Diet: शहतूत खाने से कंट्रोल में रहता है ब्‍लड शुगर, इम्‍यून सिस्‍टम को भी करता है बूस्‍ट

Health Benefits Of Mulberry: शहतूत स्‍वादिष्‍ट फल होने के साथ ही इसमें पोटैशियम, कैल्शियम, फाइबर, आयरन, कॉपर जैसे माइक्रोन्यूट्रिंएट तत्व होते हैं।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Feb 23, 2018

शहतूत क्‍यों फायदेमंद है?

शहतूत क्‍यों फायदेमंद है?
1/8

Mulberry Bnefits For Health In Hindi : अनोखे आकार वाला शहतूत बहुत ही स्‍वादिष्‍ट फल है। इसमें पोटैशियम, कैल्शियम, फाइबर, आयरन, कॉपर जैसे माइक्रो न्यूट्रिंएट तत्वों की भरपूर मात्रा होने के साथ-साथ यह विटामिन सी और ग्‍लूकोज का भी अच्‍छा स्रोत है। गर्मी में शरीर में पानी की आवश्‍यकता अधिक होने के कारण, शहतूत रामबाण साबित होता है। इस फल में लगभग 91 प्रतिशत पानी होने के कारण, इसके सेवन से शरीर में पानी का संतुलन बना रहता है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट रक्त शुद्ध करता है। कब्ज की शिकायत या एनीमिया के रोगियों को इसके सेवन से फायदा मिलता है। इतना ही नहीं, यह खाना पचाने में भी सहायक होता है। इसके अलावा इसकी पत्तियां भी स्‍वास्‍थ्‍य गुणों से भरपूर होती है। आइए हम इस अद्भुत फल के स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के बारे में जानते हैं।

धमनी प्‍लॉक से लड़ने में मददगार

धमनी प्‍लॉक से लड़ने में मददगार
2/8

शहतूत की पत्‍तों के अर्क ध‍मनियों में कोलेस्‍ट्रॉल युक्‍त प्‍लॉक का बढ़ाने वाली अथेरोस्क्लेरोसिस की प्रगति, दबाने में कारगर होती है। यह माना जाता है कि यह अर्क एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के ऑक्सीकरण रोकने में मदद करता है, जो अथेरोस्‍क्‍लेरोसिस प्‍लॉक के विकास में एक प्रमुख कारक है।

एंटीऑक्सीडेंट का स्रोत

एंटीऑक्सीडेंट का स्रोत
3/8

शहतूत के पत्‍तों और फल में पाया जाने वाला एंटीऑक्‍सीडेंट फ्री रेडिकल्‍स से होने वाले नुकसान से आपकी रक्षा करता है। टेक्सास के हेल्‍थ साइंस सेंट्रर की यूनिवर्सिटी  द्वारा प्रकाशित एक शोध के अनुसार, एंटीऑक्सीडेंट, लंबी उम्र जीने में मददगार होता है। डेली एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक अध्ययन में पाया गया कि शहतूत के जूस में एंटीऑक्सीडेंट संतरे से दोगुना होता है। इसे भी पढ़ें: स्‍वास्‍थ्‍य गुणों से भरपूर है लौंग की चाय

ब्‍लड शुगर को नियंत्रित करे

ब्‍लड शुगर को नियंत्रित करे
4/8

शहतूत में मौजूद यौगिक शरीर में ब्‍लड शुगर के स्‍तर के संतुलन को बढावा देने में भी मददगार होते हैं। चीन की कई पारंपरिक दवाओं में ब्‍लड शुगर को नीचे से सामान्‍य स्‍तर पर लाने के लिए शहतूत के पत्तों को इस्‍तेमाल किया जाता है। इसमें शुगर की मात्र लगभग 30 प्रतिशत होती है, इस कारण मधुमेह के मरीज भी इसका सेवन कर सकते हैं। इसे भी पढ़ें: कस्टर्ड एप्पल के 7 कमाल के स्वास्थ्य लाभ

सूजन और लालिमा को कम करें

सूजन और लालिमा को कम करें
5/8

चीनी दवा के कई चिकित्‍सक, सूजन और लालिमा के इलाज के लिए शहतूत का इस्‍तेमाल करते हैं। एक रोमानियाई अध्‍ययन में पाया गया कि कुरकुमीन और शहतूत की पत्‍तों को मिलाकर जलन का इलाज प्राकृतिक रूप से किया जा सकता है। इसे भी पढ़ें: बच्‍चों में एडेनॉयड और टॉन्सिल के उपचार के 7 घरेलू नुस्‍खे

पोषक तत्वों का स्रोत

पोषक तत्वों का स्रोत
6/8

सूखा शहतूत प्रोटीन, विटामिन सी और के और आयरन से भरपूर होता है। आप दिन में किसी भी समय इस सूखे शहतूत का नाश्‍ता कर सकते हैं। इसके अलावा, फाइबर और अन्य पोषक तत्वों का समृद्ध स्रोत होने के कारण इस पौधे के पत्‍ते भी शहतूत की तरह ही पौष्टिक होते हैं।

प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाये

प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाये
7/8

शहतूत में पाया जाने वाला एल्‍कलॉइड, मैक्रोफेज को सक्रिय करता है, यह सफेद रक्‍त कोशिकाएं प्रतिरक्षा प्रणाली को उत्‍तेजित करने में मदद करती है। यह मैक्रोफेज प्रतिरक्षा प्रणाली को हाई अलर्ट में डालकर स्‍वस्‍थ रहने में मदद करते हैं।

चेहरे की झुर्रियां दूर करें

चेहरे की झुर्रियां दूर करें
8/8

अगर आप भी झुर्रियों से परेशान हैं तो अब चिंता करने की कोई बात नहीं। इसके लिए शहतूत का जूस पीजिए। आपका चेहरा जवान हो जाएगा। शहतूत में एंटी एजिंग यानी उम्र को रोकने वाला गुण होते है। साथ ही झुर्रियों को चेहरे से गायब कर त्वचा को जवां बनाये रखने में मदद करती है।

Disclaimer