जानें सेहत के लिए कितना फायदेमंद है हम्‍मस

छोले के उबालने के बाद पीस कर बनाए जाने वाली पेस्ट को हमम्स कहते है। इसमें अलसी के बीज, ऑलिव ऑयल, लहसुन और नींबू के रस का पेस्ट मिलाया जाता है। इसमें आप अन्य सामग्रियों जैसे कालीमिर्च, लौंग, पार्सले, दालचीनी आदि को भी मिला सकते है। इसका डेजर्ट बनाने के लिए इसमें फलों को भी मिलाया जा सकता है। इसके फायदे जानने के लिए ये स्लाइडशो पढ़े।

Aditi Singh
Written by: Aditi Singh Published at: Jul 11, 2016

प्रोटीन का मुख्य स्रोत

प्रोटीन का मुख्य स्रोत
1/5

हम्मस हाई प्रोटीन और फाइबर वाला वाला आहार माना जाता है। शाकाहारियों के लिए प्रोटीन को पाने वाला ये सबसे मुख्य स्रोत माना जाता है।इससे पाचन संबंधी बीमारियों के अलावा आंतों का स्वास्थ्य भी ठीक रहता है।  साथ ही इसमें पाया जाने वाले अधिक मात्रा में प्रोटीन, फाइबर, खनिज और विटामिन आदि से कब्ज और कार्डियोवस्कुलर जैसे रोग का खतरा कम होता है। ये कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी निंयत्रणमे रखता है। इसकी एक और खासियत है कि स्वादिष्ट होने के बावजूद ये आपके वजन को बढ़ने नहीं देता है। इसका सेवन करने से आपको ज्यादा देर भूख नहीं लगेगी। जिससे आपका वजन नहीं बढने देता है।Image Source-Getty

कैंसर से बचाव

कैंसर से बचाव
2/5

हम्मस दालों के परिवार से संबंध रखता है, इसलिए ये कैंसर की रोकथाम के लिए बेहतर माना जाता है। इसका सेवन  ब्रेस्ट कैंसर की रोकथाम के लिए कारगार हैं।  इसमें मौजूद मैंगनीज़, एंटी-ऑक्सीडेंट का काम करता है। यह फ्री रैडिकल्स को डैमेज होने से रोकता है। इसके साथ इसमें मौजूद विटामिन के की मात्रा सेल्स को बाहरी नुकसानदायक चीजों से बचाती है जो कैंसर का मुख्य कारण मानी जाती है।  कई शोध के मुताबिक सही मात्रा में हम्मस का सेवन कैंसर तत्वों को खत्म करके हमारे शरी पर इसके बुरे प्रभावों से बचाव करता है। Image Source-Getty

ब्लड प्रेशर और ब्लड शुगर को नियंत्रण

ब्लड प्रेशर और ब्लड शुगर को नियंत्रण
3/5

हम्मस में अधिक मात्रा में पोटेशियम और मैग्नीशियम पाया जाता है। जो कि आपको शरीर में इलेक्ट्रोलाइट का उचित संतुलन बनाए रखने में भी मदद करते हैं। साथ ही हाइपरटेंशन से पीड़ित लोगों की रक्त वाहिकाओं में होने वाले परिवर्तन को विपरीत करके ब्लड प्रेशर को कम कर देते हैं। इसमे कम मात्रा में ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है। जिसके कारण यह शुगर कंट्रोल करने में फायदेमंद साबित होती है। साथ ही ये खून में धीमी गति से ग्लूकोज जारी करता है और आपका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रखता है। साथ ही ये घुलनशील फाइबर, प्रोटीन और आयरन से शुगर लेवल को कंट्रोल में रखता है।Image Source-Getty

महिलाओं के लिए स्वास्थ्यवर्धक

महिलाओं के लिए स्वास्थ्यवर्धक
4/5

हम्मस में मौजूद अलसी और छोले दोनो ही कैल्शियम से भरपूर होते है। कैल्शियम हमारे शरीर की हड्डियों को मजबूत करने का काम करता है। हम्मस का सेवन मिड एज की महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे उन्हें मेनोपॉज के समय काफी फायदा मिलता है। मेनोपॉज के दौरान महिलाओं को ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या होने का खतरा ज्यादा रहता है। ऐसे में इसमे मौजूद कैल्शियम उनकी हड्डियों की मजबूती को बनाने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें आयरन भी बहुत होता है जो महिलाओं की खून की कमी को दूर करके एनीमिया के खतरे से बचाता है। गर्भावस्था के दौरान हम्मस का सेवन लाभदायक होता है। Image Source-Getty

संपूर्ण आहार

संपूर्ण आहार
5/5

हम्मस को एक संपूर्ण आहार माना जाता है। इसमे केवल प्रोटीन और फाइबर ही नहीं पाया जाता बल्कि कई एंटी ऑक्सीडेंट भी पाये जाते है। जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करते है।  इसका सेवन दिमाग के लिए बहुत स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है। इसमें पाया जाने वाला विटामिन के और बी नर्वस सिस्टम को काम करने में मदद करता है साथ ही मस्तिष्क की कोशिकाओं के लिए लाभकारी होता है। इसमें मौजूद फोलेट दिमाग के काम करने की क्षमता को बढ़ाता है। माइग्रेन जैसी समस्या में भी इसका सेवन फायदेमंद होता है।Image Source-Getty

Disclaimer