एस्ट्रोजन हॉर्मोन की कमी होने पर महिलाएं अपनाएं ये 9 घरेलू उपाय

Estrogen Hormone : एस्ट्रोजन हॉर्मोन की कमी होने पर महिलाओं को कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती है। ऐसे में इसे संतुलित करना बहुत जरूरी है। जानें इसे बढ़ाने के घरेलू उपाय

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jun 24, 2021

1/10

वैसे एस्ट्रोजन हॉर्मोन महिला और पुरुष दोनों के शरीर के लिए महत्वपूर्ण होता है। लेकिन महिलाओं के शरीर में इसकी मौजूदगी अधिक होती है। नियमित पीरियड्स और जनन प्रक्रिया के लिए महिलाओं के शरीर में इसका संतुलन में होना बहुत जरूरी है। महिलाओं में एस्ट्रोजन की कमी कई स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। इसकी कमी होने पर महिलाओं को अनियमित पीरियड्स, इनफर्टिलिटी, सिरदर्द, डिप्रेशन और स्तन असहजता की समस्याएं हो सकती है। ऐसे में इसका संतुलन में होना बहुत जरूरी होता है। अगर आपके शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन की कमी है, तो आप कुछ घरेलू उपायों से इसे बढ़ा सकती हैं। डायटीशियन सुगीता मुटरेजा से जानें इसे बढ़ाने के उपाय-

1. अलसी के बीज बढाए एस्ट्रोजन हॉर्मोन

1. अलसी के बीज बढाए एस्ट्रोजन हॉर्मोन
2/10

एस्ट्रोजन हॉर्मोन बढ़ाने के लिए अलसी के बीज बेहद लाभकारी होते हैं। इसे फ्लैक्स सीड्स के नाम से भी जाना जाता है। इसमें फाइटोएस्ट्रोजन (Phytoestrogen) काफी अच्छी मात्रा में पाया जाता है, जिसे लिग्नान के तौर पर जाना जाता है। इसका इस्तेमाल सलाद, दाल में किया जा सकता है। आप चाहें तो रात को अलसी के बीजों को पानी में भिगोएं और सुबह उठकर इसका सेवन कर लें। अलसी के बीजों में फाइबर भी काफी होता है। 

2. एवोकाडो से बढ़ेगा एस्ट्रोजन हॉर्मोन

2. एवोकाडो से बढ़ेगा एस्ट्रोजन हॉर्मोन
3/10

शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन कम होने पर महिलाएं एवोकाडो को अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। इसमें कई सारे विटामिंस और मिनरल्स होते हैं, जो महिलाओं को स्वस्थ रखने के साथ ही उनके शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन को भी बढ़ाता है। आप एवोकाडो को सलाद के रूप में किसी भी समय ले सकती हैं। नियमित रूप से एवोकाडो का सेवन एस्ट्रोजन हॉर्मोन बढ़ाने में मदद करता है। आपको इसका सेवन जरूर करना चाहिए। 

3. तिल के बीजों से एस्ट्रोजन हॉर्मोन में वृद्धि

3. तिल के बीजों से एस्ट्रोजन हॉर्मोन में वृद्धि
4/10

तिल के बीजों का उपयोग शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन की कमी को पूरा करने के लिए भी किया जा सकता है। तिल के बीजों में फाइटोएस्ट्रोजन होता है। इसके अलावा तिल का तेल भी फायदेमंद होता है। तिल के बीज और तेल दोनों में ही लिग्नान अच्छी मात्रा में होता है, जिससे एस्ट्रोजन हॉर्मोन में वृद्धि होती है। आप इसका सेवन सब्जी, दाल या अन्य किसी रूप में कर सकती हैं। सलाद में डालकर भी इसे लिया जा सकता है। 

4. ड्राय फ्रूट्स से बढ़ाएं एस्ट्रोजन लेवल

4. ड्राय फ्रूट्स से बढ़ाएं एस्ट्रोजन लेवल
5/10

ड्राय फ्रूट्स एस्ट्रोजन हॉर्मोन बढ़ाने में बेहद लाभकारी होते हैं। शरीर में इसकी कमी होने पर आप नियमित रूप से इनका सेवन कर सकती हैं। ड्राय फ्रूट्स में आप बादाम, अखरोट, मुनक्का, खजूर, पिस्सा और खुबानी का सेवन कर सकती हैं। इनसे एस्ट्रोजन हॉर्मोन तेजी से बढ़ता है और संतुलन में रहता है। ड्राय फ्रूट्स शरीर में एनर्जी लेवल को भी बढ़ाने में मदद करते हैं। आप रोज सुबह या स्नैक्स में इनका सेवन कर सकती हैं। 

5. एस्ट्रोजन हॉर्मोन बढ़ाने में मददगार सोया प्रोडक्ट्स

5. एस्ट्रोजन हॉर्मोन बढ़ाने में मददगार सोया प्रोडक्ट्स
6/10

महिलाएं शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन की कमी होने पर सोया प्रोडक्ट्स का सेवन कर सकती हैं। सोया प्रोडक्ट्स में बहुत अधिक मात्रा में फाइटोएस्ट्रोजन होता है, जिससे एस्ट्रोजन हॉर्मोन संतुलित होता है। इसके लिए आप सोया मिल्क, सोया दही, सोयाबींस या सोया से बने अन्य पदार्थों का सेवन कर सकती हैं। शरीर में एस्ट्रोजन के स्तर को बढ़ाने के लिए इसका सेवन करना एक अच्छा ऑप्शन है। इसके लिए आपको नियमित रूप से इसका सेवन करना जरूरी होता है।

6. दाल से बढ़ाएं एस्ट्रोजन लेवल

6. दाल से बढ़ाएं एस्ट्रोजन लेवल
7/10

दाल फाइटोएस्ट्रोजन का एक काफी अच्छा सोर्स होता है। शरीर में एस्ट्रोजन लेवल कम होने पर इसे डाइट में शामिल करना बेहद लाभकारी होता है। बींस में इसके अलावा फाइबर और प्रोटीन भी अधिक मात्रा में होता है। बींस मैग्नीशियम, पोटैशियम और मिनरल्स का भी अच्छा स्त्रोत होता है। यह शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन के साथ ही ब्लड ग्लूकोज लेवल को भी बैलेंस करता है। शरीर में एस्ट्रोजन के लेवल को संतुलित करने के लिए इसका सेवन जरूर करें।

7. काबुली चने से बढ़ाएं एस्ट्रोजन लेवल

7. काबुली चने से बढ़ाएं एस्ट्रोजन लेवल
8/10

हॉर्मोंस को बैलेंस में रखने के लिए काबुली चने का सेवन करना बेहद लाभकारी होता है। महिलाओं को इसका सेवन जरूरी करना चाहिए। क्योंकि इससे उनके शरीर में एस्ट्रोजन लेवल को बढ़ाया जा सकता है। इसमें काफी अच्छी मात्रा में फाइबर और प्रोटीन भी होता है, जो स्वस्थ शरीर के लिए जरूरी होते हैं। इसके अत्याधिक सेवन से गैस की समस्या हो सकती है, ऐसे में सीमित मात्रा में ही इसे लेना चाहिए। रात के समय में इसे लेने से बचें। 

8. हर्बल टी से बढ़ेगा एस्ट्रोजन हॉर्मोन

8. हर्बल टी से बढ़ेगा एस्ट्रोजन हॉर्मोन
9/10

एस्ट्रोजन हॉर्मोन को बढ़ाने के लिए महिलाओं को दिनभर में 2-3 बार हर्बल टी का सेवन करना चाहिए। आप रेड क्लोवर, वर्वेन और थाइम की चाय पी सकती हैं। ये हर्बल टी शरीर में एस्ट्रोजन का लेवल बढ़ाने में सहायक होते हैं। इसलिए आपको हर्बल टी को अपनी डाइट में जरूरी शामिल करना चाहिए। इस दौरान आपको दूध वाली चाय से दूरी बना लेनी चाहिए। 

9. एस्ट्रोजन लेवल बढ़ाने में सहायक शतावरी

9. एस्ट्रोजन लेवल बढ़ाने में सहायक शतावरी
10/10

शतावरी को महिलाओं के लिए बेहद लाभकारी जड़ी-बूटी माना जाता है। यह महिलाओं की कई तरह की समस्याओं को दूर करने में मदद करता है। महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन लेवल कम होने पर इसका सेवन करना लाभकारी हो सकता है। इसके लिए आप रोज रात में एक गिलास दूध के साथ एक चम्मच शतावरी पाउडर का सेवन कर सकती हैं। इससे कुछ ही दिनों में आपको काफी फायदे मिलेगा। यह महिलाओं का शारीरिक विकास और फर्टिलिटी को बढ़ाने में भी मदद करता है।

Disclaimer