मुंह की कड़वाहट को दूर करने के 9 घरेलू उपाय

मुंह की कड़वाहट के कारण अक्सर लोगों को जी मचलाना या सांसों से बदबू जैसी समस्या देखने को मिलती हैं। ऐसे में जानते हैं मुंह की कड़वाहट को दूर करने के घरेलू उपाय

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Jun 25, 2021

1/10

मुंह में कड़वाहट कई कारणों से हो सकती है। वैसे तो मुंह में कड़वाहट खुद एक लक्षण है लेकिन इसके कारण कई लक्षण जैसे मसूड़ों से खून आना, दांतों का संवेदनशील हो जाना, मुंह के अंदर सूजन आ जाना, मुंह से बदबू आना, मुंह में लालिमा छा जाना आदि नजर आते हैं। वहीं इसके कारण व्यक्ति जी मिचलाना, उल्टी महसूस करना, दस्त लगना आदि समस्याएं भी महसूस करता है। ऐसे में इस कड़वाहट को दूर करना जरूरी है। जानते हैं मुंह की कड़वाहट को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपाय आपके कैसे काम आ सकते हैं। पढ़ते हैं आगे...

हल्दी के उपयोग से

हल्दी के उपयोग से
2/10

हल्दी के अंदर ऐसा घटक मौजूद होता है जो जीवाणुरोधी का काम करता है। ऐसे में हल्दी पाउडर के अंदर नींबू के रस को मिलाएं और बने पेस्ट को मुंह के भीतर लगाएं। थोड़ी देर बाद कुल्ला करें। ऐसा करने से मुंह से दुर्गंध आने बंद हो जाएगी और स्वाद भी अच्छा हो जाएगा।

जीभ को अच्छे से साफ करें

जीभ को अच्छे से साफ करें
3/10

जीभ को अच्छे से साफ करना भी जरूरी होता है। कई बार कुछ ऐसे बैक्टीरिया होते हैं जो जीभ से चिपक जाते हैं, जिसके कारण लार के बनने पर वह मुंह में कड़वाहट पैदा कर देते हैं। ऐसे में ब्रश के दौरान जीभ को साफ करना भी बेहद जरूरी होता है।

बेकिंग सोडा का उपयोग

बेकिंग सोडा का उपयोग
4/10

बेकिंग सोडा मुंह के खराब स्वास्थ्य ठीक करने में बेहद उपयोगी है। यह मुंह के पीएच बैलेंस को बनाए रखता है। साथ ही जीभ और दांत पर जमा हुआ प्लाक दूर करता है। अगर आप मुंह की बदबू या स्वाद खराब से परेशान हैं तो आप बेकिंग सोडा में नींबू का रस मिलाएं और बने पेस्ट का इस्तेमाल टूथपेस्ट की तरह करें।

सेब के सिरके के इस्तेमाल से

सेब के सिरके के इस्तेमाल से
5/10

सेब के सिरके से मुंह का स्वाद ठीक करने में बेहद उपयोगी है। यह मुंह के पीएच बैलेंस को सही करने में मदद करता है। ऐसे में आप सेब के सिरके के सेवक से मुंह की कड़वाहट को दूर कर सकते हैं। साथ ही मुंह में लार के उत्पादन में भी वृद्धि कर सकते हैं।

नींबू के उपयोग से

नींबू के उपयोग से
6/10

नींबू के माध्यम से मौखिक समस्या को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप नींबू की कुछ बूंदों को गर्म पानी में मिलाएं और कुल्ला करें। ऐसा करने से न केवल मुंह के बैक्टीरिया निकल जाते हैं बल्कि मुंह की कड़वाहट दूर और मुंह का स्वाद भी अच्छा हो जाता है।

ग्रीन टी का उपयोग

ग्रीन टी का उपयोग
7/10

ग्रीन टी मौखिक स्वास्थ्य के लिए बेहद उपयोगी है। यह न केवल स्वाद को बेहतर बनाती हैं बल्कि और मुंह के इन्फेक्शन को दूर करने में भी बेहद मददगार है। ग्रीन टी के अंदर एंटी ऑक्सीडेंट एंड एंटी इंफ्लेमेट्री गुण मौजूद होते हैं जो मुंह की कड़वाहट को दूर करने में उपयोगी है।

गर्म पानी के सेवन से

गर्म पानी के सेवन से
8/10

गर्म पानी से मुंह की कड़वाहट को दूर करने में बेहद उपयोगी है। वहीं अगर गर्म पानी में नमक को मिलाया जाए तो यह प्राकृतिक एंटीसेप्टिक का काम करता है जो मौखिक बैक्टीरिया की वृद्धि को रोकता है। ऐसे में आप नियमित रूप से से कुल्ला करें और ऐसा करने से मुंह की कड़वाहट दूर हो जाएगी।

दालचीनी के उपयोग से

दालचीनी के उपयोग से
9/10

दालचीनी मुंह की कड़वाहट को दूर करने में बेहद उपयोगी है। दालचीनी के अंदर एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं जो मौखिक स्वास्थ्य के लिए बेहद उपयोगी है। ऐसे में आप दालचीनी पाउडर के साथ नींबू की कुछ बूंदें मिलाएं और बने मिश्रण को गुनगुने पानी में घोलें। अब इस पानी से कुल्ला करें। ऐसा करने से समस्या दूर हो सकती है।

एलोवेरा के उपयोग से

एलोवेरा के उपयोग से
10/10

एलोवेरा जूस भी मौखिक स्वास्थ्य के लिए बेहद उपयोगी हैं। यह न केवल रोगाणुरोधी है बल्कि इसके अंदर anti-inflammatory पर मौजूद होते हैं जो सांसों की बदबू को दूर करने के सथ मुंह की कड़वाहट को भी दूर करने में उपयोगी है। इसके अलावा आप एलोवेरा जेल को अपने मुंह में लगाएं और कुछ समय बाद थूक दें। ऐसा करने से भी समस्या दूर हो जाएगी।

Disclaimer