इन घरेलू उपचारों से कम करें ब्रेस्ट पेन

शरीर के कुछ हिस्‍सों में दर्द आपके लिए समस्‍या का कारण भी बन सकता है, अगर आपके ब्रेस्‍ट में भी दर्द होता है तो इसे बिलकुल भी नजरअंदाज न करें और घरेलू उपचार के जरिये इस दर्द पर आसानी से काबू पायें।

Aditi Singh
Written by: Aditi Singh Published at: Mar 10, 2015

ब्रेस्ट का रखें ख्याल

ब्रेस्ट का रखें ख्याल
1/9

महिलाओं में अक्सर ब्रेस्ट पेन की समस्या देखी जाती है। ये समस्या हमेशा जटिल नहीं होती, बल्कि कई बार हार्मोंस के बदलाव के कारण होती है और कई बार गलत दिनचर्या भी इसके लिए जिम्‍मेदार होती है। इन समस्याओं से निपटने के लिए आप घर में भी इसका उपचार कर सकते हैं। अपने खान-पान व कपड़ों की गुणवत्‍ता का ध्‍यान रखने के अलावा घरेलू उपचार के जरिये भी इस दर्द को दूर कर सकते हैं। आगे की स्‍लाइडशो में जानिये उन घरेलू नुस्‍खों के बारे में। ImageCourtesy@GettyImages

मसाज करें

मसाज करें
2/9

नहाते समय आप अपने ब्रेस्ट पर साबुन लगाएं और मसाज करें। ब्रेस्ट के सेंटर से आप क्लॉकवाइज मसाज करें, इसका आपका ब्लड सर्रकुलेशन भी बढ़ता है और लिम्फ (ये एक तरह का तरल तत्व होता है, जिसमें शरीर के विषैले तत्वों होते हैं ) बाहर निकलता है। ImageCourtesy@GettyImages

अपनाएं कोल्ड पैक ट्रीटमेंट

अपनाएं कोल्ड पैक ट्रीटमेंट
3/9

एक तौलिए में आइसक्यूब की थैली लपेटे और अपने दोनो ब्रेस्ट पर 10-10 मिनट ऱखें। इस कोल्ड पैक ट्रीटमेंट से ब्रेस्ट की डलनेस और सूजन दोनो कम होती है। इस ट्रीटमेंट को समय समय पर करते रहना चाहिए। ImageCourtesy@GettyImages

पत्तागोभी करें सूजन को कम

पत्तागोभी करें सूजन को कम
4/9

आपके ब्रेस्ट में अगर सूजन हो तो पत्ता गोभी आपको काफी मदद कर सकती है। पत्ता गोभी के पत्तों को अपने ब्रेस्ट पर लगाए और फिर किसी कॉटन के कपड़ों से लपेट लें। ये आपकी सूजन को भी कम करता है साथ इसके दर्द में भी राहत देता है।  ImageCourtesy@GettyImages

सोयाबीन का करें सेवन

सोयाबीन का करें सेवन
5/9

आपके ब्रेस्ट में अगर पेन लगातार रहता हो तो सोयाबीन खानें की आदत डालें। सोयाबीन  आपके हार्मोंस को नियंत्रित करता है। इससे आपके मेंसट्रूएशेन और मेनोपॉज पर भी असर पड़ता है। आप सोया मिल्क, टोफू या सोया नट्स आदि अपने खाने में शामिल कर सकती है। ImageCourtesy@GettyImages

खानें में से फाइबर और लो फैट

खानें में से फाइबर और लो फैट
6/9

महिलाओं को अपने खानें में फाइबर और लो फैट खाना शामिल करना चाहिए।  ज्यादा फाइबर खाने वाली महिलाओं में एस्ट्रोजन ज्यादा निकलता है जिससे ब्रेस्ट ज्यादा कोमल होते है। लो फैट खाने से महिलाओं में मोटापा कम होता है जिससे ब्रेस्ट पेन भी कम रहता है। अक्सर ऐसा देखा गया है कि ज्यादा वजन के कारण ब्रेस्टपेन होने लगता है। ImageCourtesy@GettyImages

हाइड्रोजेनरेटेड ऑयल का सेवन कम करें

हाइड्रोजेनरेटेड ऑयल का सेवन कम करें
7/9

मक्खन आदि में पाए जाने वाले हाइड्रोजेनरेटेड ऑयल सेवन महिलाओँ का कम कर देना चाहिए। इन ऑयल से बेक्ड और पैक्ड स्नैक्स तैयार किए जाते है। जब आप ऐसी चीजो का सेवन करते है तो ये आपके डायट के फैटी एसिड जीएलए में बदलने की क्षमता कम कर देते है। ये एक तरह का चेन रिएक्शन होता है जिससे ब्रेस्ट के टिश्यू को दर्द करने से रोकता है।  ImageCourtesy@GettyImages

मेथाईलेक्सनथीन की मात्रा कम करें

मेथाईलेक्सनथीन की मात्रा कम करें
8/9

मेथाईलेक्सनथीन एक कंपोनेट होता है जो कई सामान्य जैसे कॉफी, कोला, चाय, वाइन, बीयर, केला, चॉकलेट, चीज, पीनट बटर, मशरूम और आचार में पाया जाता है। जिन महिलाओं में लम्प की समस्या होती है, उन्हें इस तरह के खाने से परहेज करना चाहिए । साथ ही पीरियड्स के दो सप्ताह पहले ही सोडियम की मात्रा में भी कमी लानी चाहिए। इससे आपके ब्रेस्ट में सूजन होती है। ImageCourtesy@GettyImages

विटामिन लें

विटामिन लें
9/9

विटामिन ई और बी6 सेवन भी करना चाहिए, ये ब्रेस्ट की कोमलता को बनाए रखते है। विटामिन ई के सप्लीमेंट ले यै नट्स, बार्ले, और सफेट चने में भी विटामिन होता है। एवाकोड, लीन मीट, औऱ पालक में आपको बी6 की काफी मात्रा मिल जाएगी। ImageCourtesy@GettyImages

Disclaimer