हेपेटाइटिस (लिवर की बिमारी) के लक्षण दिखने पर आजमाएं ये 7 घरेलू उपाय

हेपेटाइटिस लिवर से जुड़ी एक गंभीर बीमारी है। इसके शुरुआती लक्षणाें काे कुछ घरेलू उपायाें की मदद से कम किया जा सकता है। जानें इन घरेलू उपायाें के बारे में-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Aug 23, 2021

1/10

हेपेटाइटिस लिवर में हाेने वाला एक गंभीर राेग है। हेपेटाइटिस में लिवर में सूजन आ जाती है, जिससे इंफेक्शन हाेने का खतरा बना रहता है। हेपेटाइटिस एक संक्रमक राेग है। अत्याधिक शराब, असुरक्षित यौन संबंध इसके प्रमुख कारण है। इसमें शरीर की राेग प्रतिराेधक क्षमता कमजाेर हाे जाती है। मानसून में हेपेटाइटिस हाेने का खतरा अधिक रहता है। हेपेटाइटिस की शुरुआत हाेने पर कुछ लक्षण नजर आते हैं। इन लक्षणाें में कमी करने के लिए आप कुछ घरेलू उपाय आजमा सकते हैं। राम हंस चेरिटेबल हॉस्पिटल के आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर श्रेय शर्मा से जानें- 

हेपेटाइटिस के लक्षण

हेपेटाइटिस के लक्षण
2/10

हेपेटाइटिस लिवर से जुड़ी एक बीमारी है, जिसके शुरू हाेने पर कई लक्षण नजर आते हैं। हेपेटाइटिस बढ़ने पर पीलिया का रूप लेता है। वही जब लिवर बहुत ज्यादा खराब हाे जाता है, ताे लिवर सिराेसिस, लिवर कैंसर हाेने का खतरा रहता है। ऐसे में इसके लक्षणाें काे नियंत्रित करना बेहद जरूरी हाेता है। थकान, कमजाेरी, वजन कम हाेना, गहरे रंग का पेशाब आना, बुखार, आंखाें का रंग पीला हाेना आदि सभी हेपेटाइटिस के लक्षण हाे सकते हैं।

1. गन्ने का जूस

1. गन्ने का जूस
3/10

हेपेटाइटिस के लक्षणाें का कम करने के लिए गन्ने का जूस बेहद कारगर साबित हाेता है। गन्ने के जूस की तासीर ठंडी हाेती है, जाे लिवर काे ठंडक पहुंचाता है। साथ ही हेपेटाइटिस में भी लाभकारी हाेता है। इसके लिए आप दिन में दाे बार गन्ने का जूस जरूर पिएं।

2. नारियल पानी

2. नारियल पानी
4/10

नारियल पानी स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी हाेता है। यह विटामिंस और मिनरल्स से भरपूर हाेता है। साथ ही डिहाइड्रेशन की समस्या से भी निजात दिलाता है। हेपेटाइटिस के लक्षणाें में कमी करने के लिए आप इसका सेवन कर सकते हैं। नारियल पानी की प्रकृति ठंडी हाेती है।

3. छाछ

3. छाछ
5/10

छाछ कई स्वास्थ्य समस्याओं काे दूर करने में सहायक हाेता है। हेपेटाइटिस हाेने पर आपकाे छाछ का सेवन अवश्य करना चाहिए। इसके लिए घर पर बने छाछ का ही इस्तेमाल करें। इस दौरान इसमें अधिक मिर्च-मसाले का प्रयाेग करने से बचें।

4. आंवला

4. आंवला
6/10

आंवले में एंटीवायरस गुण हाेते हैं, जाे हेपेटाइटिस से छुटकारा दिलाने में सहायक हाेते हैं। इसके लिए राेज सुबह खाली पेट आंवले का जूस पिएं। आप चाहें ताे आंवले के पाउडर का भी सेवन कर सकते हैं। आंवला लिवर के लिए बेहद फायदेमंद हाेता है।

5. मुलेठी

5. मुलेठी
7/10

मुलेठी हेपेटाइटिस वायरस काे खत्म करने में बेहद लाभदायक हाेता है। इसमें एंटी वायरस और एंटी ऑक्सीडेंट गुण हाेते हैं। इसमें पीलिया जैसे लक्षण नजर आते हैं, जिसे ठीक करने में मुलेठी की जड़ कारगर हाेती है। इसके लिए आप मुलेठी की जड़ काे दिन में दाे-तीन बार चबाएं। साथ ही आप मुलेठी का काढ़ा भी पी सकते हैं। 

6. नींबू

6. नींबू
8/10

नींबू भी हेपेटाइटिस के लिए लाभदायक हाे सकता है। हेपेटाइटिस के लक्षणाें में कमी करने के लिए आप नींबू पानी पी सकते हैं। इसमें आप पुदीने का रस भी मिलाकर पी सकते हैं। इससे आपकाे ठंडक मिलेगी और अच्छा महसूस हाेगा। साथ ही लिवर के लिए भी यह अच्छा हाेता है।

7. आर्टिचाेक की पत्तियां

7. आर्टिचाेक की पत्तियां
9/10

आर्टिचाेक की पत्तियां हेपेटाइटिस के लिए बेहद कारगर हाेती है। इसके लिए एक लीटर पानी में दाे चम्मच सूखे आर्टिचाेक की पत्तियां डालें। इसे अच्छी तरह से उबलने दें और फिर छानकर पी लें। आप इसका सेवन डॉक्टर की सलाह पर कर सकते हैं। 

10/10

हेपेटाइटिस के वायरस पांच तरह के हाेते हैं। इनके लक्षणाें में भी बदलाव नजर आ सकते हैं। ऐसे में आपकाे सिर्फ घरेलू उपायाें के सहारे ही नहीं रहना चाहिए। हेपेटाइटिस के लक्षण दिखते ही इसका टेस्ट करवाएं और डॉक्टर की सलाह अनुसार अपना इलाज करवाएं। इससे आपकाे जल्दी आराम मिलेगा।

Disclaimer