ऐसे करें मेलाज्मा का घरेलू उपचार

मेलाज्मा त्वचा की बीमारी है। इसमें त्वचा के कुछ हिस्सों पर भूरे रंग के दाग हो जाते हैं। मुख्य रूप से यू वी किरणों के कारण ऐसा होता है। मेलाज्मा का घरेलू उपचार मुमकिन है। घर में मौजूद नींबू, हल्दी, पपीते, ओटमील आदि से इस बीमारी का उपचार किया जा सकता है।

Shabnam Khan
Written by: Shabnam Khan Published at: Nov 21, 2014

त्वचा की बीमारी है मेलाज्मा

त्वचा की बीमारी है मेलाज्मा
1/8

मेलाज्मा त्वचा की वह बीमारी है जिसमें त्वचा पर गहरे भूरे रंग के धब्बे पैदा हो जाते हैं। खासतौर पर त्वचा के उन हिस्सों पर जो धूप में खुले रहते हैं। महिलाओं में हार्मोन परिवर्तन होने पर यह समस्या पैदा हो जाती है। मेलाज्मा का उपचार लेजर तकनीक से संभव तो है, लेकिन ये इलाज बहुत महंगा होता है। इस बीमारी का घरेलू इलाज भी संभव है। घर में ऐसी चीज़े आसानी से मिल जाती हैं, जिनसे हम मेलाज्मा का उपचार कर सकते हैं। हालांकि ये उपचार थोड़ा धीरे-धीरे होता है लेकिन, इसमें खर्च न के बराबर आता है। तो आइये जानते हैं मेलाज्मा के घरेलू उपचार के कुछ आसान तरीके। Image Source- Getty Images

नींबू का रस

नींबू का रस
2/8

नींबू का रस प्राकृतिक रूप से त्वचा का रंग हल्का करता है। नींबू की अम्लीय प्रकृति त्वचा की बाहरी परत को निकालने में मदद करती है। इस तरह से मेलाज्मा वाली त्वचा भी निकल जाती है। इसके लिए नींबू का रस निकालें और उसे रूई से प्रभावित जगह पर लगाएं। एक दो मिनट के लिए हल्के हाथों से रगड़ें। बीस मिनट के लिए छोड़ दें। फिर गुनगुने पानी से धो लें। Image Source- Getty Images

ऐप्पल साईडर विनेगर

ऐप्पल साईडर विनेगर
3/8

ऐप्पल साईडर विनेगर में ऐसीटिक ऐसिड मौजूद होता है जो एक शक्तिशाली ब्लीच तत्व है। ये त्वचा से दाग-धब्बे हटाता है और त्वचा को स्मूद व चमकदार बनाता है। ऐप्पल साईडर विनेगर और पानी को एक अनुपास में मिलाएं। इसे मेलास्मा के धब्बों पर लाएं और हवा में सूखने दें। उसके बाद गुनगुने पानी से त्वचा धो लें। इसे हफ्ते में एक बार लगाएं। Image Source- Getty Images

हल्दी

हल्दी
4/8

हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जिससे त्वचा के दाग धब्बे दूर होते हैं और रंगत में निखार आता है। 10 चम्मच दूध में 5 चम्मच हल्दी मिलाएं। इस मिक्चर को गाढ़ा करने के लिए एक चम्मच चने का आटा मिलाएं। इसका पेस्ट बनाकर प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद त्वचा को धो कर मुलायम तौलिया से सुखा लें। Image Source- Getty Images

प्याज का रस

प्याज का रस
5/8

प्याज के रस में सल्फर मौजूद होता है जो त्वचा के काले धब्बों को हल्का करता है। इसके अलावा प्याज का रस त्वचा की कोशिकाओं को पोषण देता है। दो या तीन प्याज काटें या घिसें। इन्हें मलमल के कपड़े में रखें और निचोड़ लें। अब इस प्याज के रस को उसके बराबर की मात्रा के ऐप्पल साईडर विनेगर में मिला लें। प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से त्वचा को धो कर मुलायम तौलिया से सुखा लें। कुछ हफ्तों तक इसे दिन में दो बार लगाएं। Image Source- Getty Images

ऐलोवेरा जेल

ऐलोवेरा जेल
6/8

ऐलोवेरा जेल में पालीसैकराइड की उपस्थिति होती है जो मेलास्मा के दाग हटा कर त्वचा की असली रंगत वापस ले आता है। इसके साथ ही ये मृत त्वचा कोशिकाओं को भी निकाल देता है। ऐलोवेरा लीफ को आधा काटें और ताज़ा जेल निकाल लें। इस जेल को इसकी प्राकृतिक अवस्था में ही प्रभावित हिस्सों में लगाकर मसाज करें। 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें। Image Source- Getty Images

ओटमील

ओटमील
7/8

ओटमील में प्राकृतिक रूप से परत उतारने वाले तत्व मौजूद रहते हैं, ये चेहरे से भूरे धब्बे हटा सकते हैं। इसके लिए दो चम्मच ओटमील पाऊडर को दो चम्मच दूध और एक चम्मच शहद के साथ मिला लें। प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से त्वचा को धो कर मुलायम तौलिया से सुखा लें। सप्ताह में दो-तीन बार इसे लगाएं। Image Source- Getty Images

पपीता

पपीता
8/8

पपीता में मौजूद सक्रिय ऐन्जाइम पपाइन मेलाज्मा का उपचार कर सकता है। ये नष्ट त्वचा और मृत त्वचा कोशिकाओं को निकालने में भी मदद करता है। पके ही पपीते का गूदा निकालें और मैश कर लें। इसे प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद पानी से त्वचा को धो लें। Image Source- Getty Images

Disclaimer