पेट खराब होने के कारण बार-बार लैट्रिन जाना पड़ रहा है तो आजमाएं ये 12 घरेलू उपाय, जल्द मिलेगा आराम

पेट खराब होने पर जब लगातार टॉयलेट भागना पड़ता है तो, ऐसे में समझ में नहीं आता कि क्या करें। तब आप इन घरेलू उपायों को आजमा सकते हैं।

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Mar 05, 2014

खराब पेट के लिए घरेलू नुस्‍खे

खराब पेट के लिए घरेलू नुस्‍खे
1/13

अक्‍सर बाहर का खाने या गलत खाने के कारण पेट खराब हो जाता है। पेट खराब होने पर आपको बार-बार टॉइलेट जाना पड़ सकता है। पेट में खराबी होने पर शरीर से पानी निकल जाता है और शरीर में कमजोरी आ जाती है। ऐसे में समझ में नहीं आता कि ऐसे कौन से उपाय करें जिससे इस समस्‍या से बचा जा सकें। आइए इस स्‍लाइड शो के जरिये जानें खराब पेट को ठीक करने के कुछ घरेलू उपायों के बारे में।

लिक्विड का अधिक सेवन

लिक्विड का अधिक सेवन
2/13

दस्‍त होने पर शरीर में पानी की कमी हो जाती है। इसलिए दस्‍त होने पर सबसे पहले चीनी और नमक मिलाकर पानी पीये ताकि शरीर से निकले पानी की प‍ूर्ति हो जाए। इसके अलावा नींबू पानी, नारियल पानी, छाछ आदि का सेवन थोड़ी-थोड़ी देर पर करते रहें। साथ ही ज्‍यादा मसालेदार भोजन न करें।

गाजर का जूस पिएं

गाजर का जूस पिएं
3/13

पेट खराब होने की स्थिति में अगर शरीर में पानी की कमी हो जाए तो मुश्किल और बढ़ सकती है। इसको दूर करने के लिए और खराब पेट को ठीक करने के लिए आपको गाजर का जूस पीना चाहिए। गाजर का जूस पीने से पेट सही हो जाता है। जूस में पुदीने का रस भी मिला लें तो आपके पेट को ठंडक भी मिलेगी।

जीरा

जीरा
4/13

पेट खराब की सबसे अच्‍छी दवा जीरा है। पेट खराब होने पर आधा चम्मच जीरा चबाकर खाएं व गुनगुना पानी के साथ उसे सटक लें। ऐसा करने से दस्त एकदम बंद हो जाते है।

सेब

सेब
5/13

फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ खाये। सेब में फाइबर भरपूर मात्रा में होता है जो आपको अपच दूर करने में मदद कर सकता है। सेब का छिलका भी फाइबर से भरपूर होता है इसलिए अच्‍छे परिणाम के लिए सेब को छिलके समेत ही खाएं। इसके अलावा सेब के रस का सिरका भी पेट का हाजमा सही रखने में मदद करता है इसके लिए एक कप गर्म पानी में एक चम्‍मच सेब का सिरका और शहद मिलाकर पी जाइए।

हर्बल टी

हर्बल टी
6/13

हर्बल टी में एंटीऑक्‍सीडेंट भरपूर मात्रा में होता है जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद करता है। इसलिए इसको पीने से पेट की गैस कम होती पेट को राहत मिलती है।

बेल

बेल
7/13

बेल का सबसे ज्‍यादा प्रयोग पाचन तंत्र संबंधी विकारों को दूर करने के लिए किया जाता है। दस्‍त होने पर यह फल बहुत लाभकारी होता है। इसका प्रयोग पेट में जलन, गैस, बदहजमी आदि के उपचार में भी किया जाता है। बेल का गूदा लेकर उसे थोड़ा से पानी के साथ पीने से दस्त सही हो जाते है।

अदरक

अदरक
8/13

अदकर एक एंटीबायोटिक के रूप में कार्य करता है। इसके इस्‍तेमाल से शरीर से कीटाणुओं का खात्‍मा होता है और आप किसी भी प्रकार की एलर्जी से बचे रहते हैं। दस्‍त होने पर एक चम्‍मच अदरक का पेस्‍ट लेने से या अदरक की चाय बनाकर पीने से लाभ होता है और पेट की ऐंठन दूर होती है।

चावल

चावल
9/13

दस्‍त को रोकने सबसे अच्‍छा और घरेलू उपाय है स्‍टार्च से भरा भोजन। यह आपको चावल से मिल सकता है। चावल को पानी में तब तक उबालें, जब तक यह मुलायम न हो जाएं। फिर छानकर इस पानी की पी जाये। यह दस्त रोकने का अच्छा उपाय है। इसके अलावा चावल को दही के साथ मिक्‍स करके खाने से पेट को आराम मिलता है।

बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा
10/13

अक्‍सर पेट में एसिड के उच्‍च स्‍तर के कारण अपच की समस्‍या होती है। बेकिंग सोडा पेट में खराबी को ठीक करने का सबसे सरल और प्रभावी उपचारों में से एक है क्‍योंकि यह ऐन्टैसिड की तरह काम करता है। आधे गिलास पानी में आधा चम्‍मच बेकिंग सोडा मिलाकर पीने से पेट में एसिड और दर्द से राहत मिलती है।

Disclaimer