जानें सेहत को कैसे नुकसान पहुंचाती है सुशी

आपको इस पसंदीदा भोज्य पदार्थ को खरीदने से पहले इस विशेष प्रकार के भोजन से जुड़े कुछ जोखिम का ध्‍यान रखना चाहिए। आइए सुशी खाने के नुकसान के बारे में इस स्‍लाइड शो के माध्‍यम से जानते हैं।

Devendra Tiwari
Written by: Devendra Tiwari Published at: Aug 08, 2016

सुशी खाने के नुकसान

सुशी खाने के नुकसान
1/5

सुशी लगभग हर उम्र और पृष्‍ठभूमि के लोगों का पसंदीदा है। एशियाई पाक परंपरा के लंबे इतिहास के साथ ही सुशी दुनिया भर के सभी लोगों को आकर्षित करती है। आमतौर पर, इस तरह के आहार को स्‍वस्‍थ और सुरक्षित माना जाता है। और एक स्‍वस्‍थ विकल्‍प माना जाने के कारण कई लोग लंच या डिनर में सुशी को चुनते हैं। लेकिन आपको इस पसंदीदा रोल को खरीदने से पहले इस विशेष प्रकार के भोजन से जुड़े कुछ जोखिम का ध्‍यान रखना चाहिए। आइए सुशी खाने के नुकसान के बारे में इस स्‍लाइड शो के माध्‍यम से जानते हैं।

हाई कैलोरी का सेवन

हाई कैलोरी का सेवन
2/5

यूं तो सुशी कई प्रकार के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्रदान करती है, लेकिन अगर आपको लगता है कि यह लो कैलोरी विकल्‍प का अच्‍छा विकल्‍प है, तो आप गलत है। हालांकि मछली में कैलोरी कम होती है, लेकिन सॉस, तले हुए टेम्पूरा के टुकड़े, क्रीम चीज और अन्य चीजें मिलाने से यह रोल कैलोरी से भरपूर हो जाता है। एक स्‍वस्‍थ आहार कैलोरी की सही खपत पर निर्भर करता है, इसलिए यह समझना महत्‍वपूर्ण है कि आपका आहार की आपकी जरूरतों को पूरा कर रहा हैं या नहीं।

पारा विषाक्तता

पारा विषाक्तता
3/5

टूना उच्‍च पारा सामग्री के लिए कुख्‍यात है, और यह इस प्रकार की मछली का इस्‍तेमाल सुशी बनाने के लिए अक्‍सर किया जाता है। विशेष रूप से ट्यूना, स्‍वोर्डफिश, मार्लिन और शार्क में पाया जाने वाला न्‍यूरोटॉक्सिन पारा शरीर के लिए अच्‍छा नहीं होता है। पारा विषाक्‍तता के लक्षणों में दृष्टि हानि, पूरे शरीर में झुनझुनी, बोलने, चलने और सुनने में कठिनाई और मांसपेशियों में कमजोरी आदि शामिल है।

पैरासाइट्स

पैरासाइट्स
4/5

यूनाइडेट स्‍टेट फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) ने खाद्य जनित बीमारी को दूर रखने के लिए समुद्री भोजन को पकाने की सिफारिश की। लेकिन जब आप सुशी खाते हैं तो मछली को पकाने का विकल्‍प नहीं होता और आप वायरस, बैक्टीरिया और पैरासाइट्स की एक विस्तृत श्रृंखला के संपर्क में आते हैं। पैरासाइट्स, विशेष रूप से, सुशी में बहुत आम होते है, और यह उद्योग मानकों के अनुसार तैयार नहीं किये जाते हैं। इन पैरासाइट्स के कारण स्वास्थ्य संबंधी समस्‍याओं की एक विस्तृत श्रृंखला पैदा होती है, और प्रभावित लोग कई दिनों तक इससे दुखी रहते हैं। पैरासाइट्स के लक्षणों में उल्टी, दस्त, और टैपवार्म का निष्कासन शामिल हैं। इसके अलावा, पैरासाइट्स के पेट, आंतों और पाचन तंत्र के अन्‍य तत्‍वों की परत को नुकसान पहुंचा पेट में दर्द का कारण बनता है।

मसालेदार अदरक और वसाबी की मौजूदगी

मसालेदार अदरक और वसाबी की मौजूदगी
5/5

मसालेदार अदरक एक मसाला है, जो हमेशा सुशी के साथ परोसा जाता है। इसका अधिग्रहीत स्‍वाद लगभग हर किसी को पसंद आता है, लेकिन इस विशेष पदार्थ को ज्‍यादा खाने से पेट में खराबी, जलन और हार्टबर्न जैसी समस्‍याएं हो सकती है। साथ ही इस नमकीन अदरक सर्विंग के भीतर गंभीर खतरे गुप्‍त रूप से भी होते हैं। इस सुशी सामग्री में फूड कलरिंग जैसे रेट # 40 होता है जो एलर्जी, सक्रियता और कंजेशन का कारण बनता है। इसके अलावा निर्माता नुस्‍खों पर निर्भर होने के कारण, मसालेदार अदरक में पोटेशियम सोरबेट, एम एस जी, aspartame और सोडियम बेंजोएट जैसे संरक्षक और अन्‍य केमिकल पदार्थ होते है, जो बहुत सारी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का कारण बन सकते हैं। वसाबी भी बेहद ही खतरनाक केमिकल है। इनमें से कुछ कृत्रिम जायके और रंग, रेपसीड ऑयल, सिट्रिक एसिड, कार्न फ्लोर, सोया और कार्नस्‍ट्रार्च शामिल है।

Disclaimer