मूली के पत्तों को फेंकिये मत, इसके गुणों को जानकर हैरान रह जाएंगे

By:Anurag Gupta, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jan 03, 2018
अगर आप भी मूली को इस्तेमाल कर इसके पत्तों को फेंक देते हैं तो हम आपको बता रहे हैं कि मूली के पत्तों में क्या खास बात है और इसे खाने के लाभ क्या हैं।
  • 1

    विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर होते हैं मूली के पत्ते

    मूली को पराठे बनाने, अचार बनाने, सलाद और सब्जी के रूप में खाया जाता है लेकिन क्या आपको पता है कि मूली के अलावा इसके पत्ते में भी कई पोषक तत्व होते हैं जो कई तरह की बीमारियों से लड़ सकते हैं। अगर आप भी मूली को इस्तेमाल कर इसके पत्तों को फेंक देते हैं तो हम आपको बता रहे हैं कि मूली के पत्तों में क्या खास बात है और इसे खाने के लाभ क्या हैं। मूली के पत्तों में विटामिन बी1, बी2, बी3, बी5, बी6, बी9, विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन ई, विटामिन ए होता है। इसमें सोडियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, कैल्शियम, मैग्नीज, आयरन, जिंक, फास्फोरस और कॉपर भी होता है। इसके पत्तों में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फाइबर भरपूर होता है जबकि फैट बहुत कम होता है।

    विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर होते हैं मूली के पत्ते
    Loading...
  • 2

    एनीमिया में है फायदेमंद

    मूली के पत्तों में आयरन, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन ए और थियामिन होता है इसलिए इसे खाने से हीमोग्लोबिन लेवल ठीक रहता है। प्रेगनेंसी के दौरान आयरन की कमी को पूरा करने के लिए इसके पत्ते फायदेमंद हैं।

    एनीमिया में है फायदेमंद
  • 3

    ब्लड प्रेशर रहेगा सामान्य

    मूली के पत्तों में पोटैशियम भी भरपूर होता है इसलिए ये शरीर में सोडियम के लेवल को कम करता है और ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखता है। इसे खाने से हृदय रोगों से भी बचाव रहता है।

    ब्लड प्रेशर रहेगा सामान्य
  • 4

    डाइबिटीज में है लाभकारी

    मूली के पत्तों में फाइबर की मात्रा भी खूब होती है। इसे रोज खाने से ब्लड में शुगर लेवल नहीं बढ़ता है। पत्तों में मौजूद तत्व इंसुलिन को कंट्रोल में रखते हैं।

    डाइबिटीज में है लाभकारी
  • 5

    रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है

    मूली के पत्तों में मौजूद विटामिन सी की वजह से इसे खाने पर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। विटामिन सी शरीर में व्हाइट ब्लड सेल्स को बनाने में मदद करता है। व्हाइट ब्लड सेल्स ही शरीर को इंफेक्शन से बचाते हैं और जलने, कटने या किसी भी प्रकार के टिशू डैमेज के बाद नए टिशूज का निर्माण करते हैं।

    रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है
  • 6

    डाइजेशन रहेगा दुरुस्त

    मूली के पत्तों में भरपूर फाइबर होता है जो शरीर में मल के कड़ेपन को कम करता है और पाचन क्षमता को दुरुस्त रखता है। इसीलिए पत्ते वाली सभी सब्जियों में मूली के पत्तों को कब्ज के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। ये शरीर में किसी वजह से आये सूजन को भी कम करता है।

    डाइजेशन रहेगा दुरुस्त
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK