दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पीने से शरीर को मिलते हैं ये 9 फायदे

दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पीना कई बीमारियों की एक दवा के समान है। इसका रोजाना सीमित मात्रा में उपयोग किया जा सकता है।

Meena Prajapati
Written by:Meena PrajapatiPublished at: Jul 09, 2021

1/10

दूध तो आप रोज पीते होंगे, लेकिन क्या आपने दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पिया है। अगर नहीं, तो आज से शुरू कर दीजिए। दरअसल, दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पीने से वायरल बीमारियों से लेकर पेट के रोग भी कम होते हैं। यह एक एनर्जी बूस्टर ड्रिंक है। दूध में कैल्शियम की अधिकता, डाइजेस्टिव एंजाइम्स को सक्रिय करने वाला जीरा और एंटी-इंफ्लेमटरी गुणों से भरपूर काली मिर्च शरीर को कई रोगों से दूर रखते हैं। आज के इस लेख में हम दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पीने से क्या लाभ मिलते हैं, इसके बारे में जानेंगे।

पेट को रखे दुरुस्त

पेट को रखे दुरुस्त
2/10

दूध में जीरा डालकर पीने से पेट की समस्याएं जैसे गैस, अपच, कब्ज आदि की परेशानी दूर होती है। जब भी आपको पेट की ऐसी समस्याएं हों, तो इस दूध को जरूर पीएं। दूध में जीरा डालकर पीने से डाइजेस्टिव एंजाइम्स सक्रिय होते हैं, जिस वजह से  पाचन संबंधी परेशानियां दूर होती हैं और पेट दुरुस्त रहता है।

हड्डियों को मजबूती

हड्डियों को मजबूती
3/10

हम सभी जानते हैं कि दूध पीने से हड्डियां मजबूत होती हैं। इसमें जीरा और काली मिर्च मिला लेने से इसके गुण और बढ़ जाते हैं। दूध में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स और कैल्शियम की अधिकता होती है, जिस वजह से हड्डियां और मांसपेशियां ठीक रहती हैं। इसके सेवन से हड्डी के रोगों से भी दूर रहते हैं।

इम्युनिटी बूस्टर

इम्युनिटी बूस्टर
4/10

दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पीने से इम्युनिटी सिस्टम मजबूत होती है। जीरे में पाए जाने इम्यूनोमॉड्यूलेटरी से इम्युनिटी स्ट्रांग होती है। तो वहीं, काली मिर्च और दूध के अपने पोष्टिक तत्त्व मिलकर इम्युनिटी को और स्ट्रांग बनाते हैं। ऐसे में इस दूध का सेवन करना मतलब कई बीमारियों की एक दवा सेवन करने के समान है।

बॉडी डिटॉक्स करे

बॉडी डिटॉक्स करे
5/10

दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पीने से शरीर से अपशिष्ट पदार्थ बाहर निकलते हैं, इस रूप में यह एक अच्छा बॉडी डिटॉक्सर है। शरीर से गंदगी को बाहर निकालकर शरीर को निरोगी बनाता है ये दूध।

चिंता को करे दूर

चिंता को करे दूर
6/10

बढ़ती प्रतिस्पर्धा और खुद को समय न दे पाने की वजह से आज के समय में चिंता की बीमारी बढ़ रही है। परेशानी यह है कि हमने चिंता को कॉमन मान लिया है, इसे एक परेशानी मानते ही नहीं। यही वजह है कि आज डिप्रेशन के मामले बढ़ रहे हैं। लेकिन रात में सोने से पहले दूध में जीरा, काली मिर्च डालकर पीने से चिंता दूर होती है। नींद बेहतर आती है जिस वजह से शरीर और मन खुश रहता है।

वायरल बीमारियां रखे दूर

वायरल बीमारियां रखे दूर
7/10

बदलते मौसम में वायरल बीमारियां जैसे सर्दी, खांसी, जुकाम आदि छोटों से लेकर बड़ों तक को सताती हैं। इन बीमारियों से दूर रहने के लिए रोजाना जीरा और काली मिर्च डालकर दूध पीने से फायदा मिलता है। काली मिर्च में पाइपरिन नामक कंपाउंड होता है, जो सर्दी, खांसी, जुकाम में लाभदायक है। कई दवाओं में काली मिर्च का प्रयोग किया जाता है। दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पीने से यह सर्दी, खांसी से बचाता है।

ऊर्जा का अच्छा स्रोत

ऊर्जा का अच्छा स्रोत
8/10

दूध ऊर्जा का अच्छा स्रोत है। साथ में जीरा और काली मिर्च एनर्जी को और बढ़ाते हैं। आपको जब भी थकान लगे तब इस दूध का सेवन कर सकते हैं।

कोलेस्ट्रोल करे कम

कोलेस्ट्रोल करे कम
9/10

कोलेस्ट्रोल लेवल के बढ़ने की वजह से कई बीमारियों शरीर में पनप जाती हैं। इसे कंट्रोल करना जरूरी है। जीरा और काली मिर्च कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने का काम करते हैं। काली मिर्च में पाए जाने वाला पाइपरिन कंपाउंड कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित रखता है और जीरा भी बैड कोलेस्ट्रोल को बढ़ने नहीं देता। जीरा और काली मिर्च को दूध के साथ लेने से कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

भूख बढ़ाए

भूख बढ़ाए
10/10

दूध के साथ काली मिर्च और जीरा खाने से भूख न लगने की समस्या भी कम हो जाती है। काली मिर्च भूख बढ़ाने में मददगार होती है। दूध में जीरा और काली मिर्च डालकर पीना कई बीमारियों की एक दवा के समान है। इसका रोजाना सीमित मात्रा में उपयोग किया जा सकता है।

Disclaimer