सेहत और स्‍वाद का बेजोड़ मेल है दही

दही में कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन पाया जाता है। इसके अलावा दही में प्रोटीन, लैक्टोज, आयरन, फास्फोरस पाया जाता है। दही कई तरह से हमारे सेहत के लिए फायदेमंद होता है।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Sep 16, 2014

दही के लाभ

दही के लाभ
1/11

भारतीय भोजन का अहम हिस्‍सा माना जाने वाले दही में रोगमुक्‍त रखने ऐसे पोषक तत्‍व होते हैं, जो शरीर को कई प्रकार की बीमारियों से बचाने में मददगार होता है। दही में कई प्रकार के पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं जिनको खाने से शरीर को फायदा होता है। दही में कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन पाया जाता है। इसके अलावा दही में प्रोटीन, लैक्टोज, आयरन, फास्फोरस पाया जाता है। आइए जानें कि दही किस तरह से हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद है। image courtesy : getty images

तनाव से बचाव

तनाव से बचाव
2/11

दही के सेवन से तनाव और अवसाद से बचा जा सकता है। यूसीएलए (यूनविर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, लॉस एंजिलिस) स्‍कूल ऑफ मेडिसीन में हुए एक ताजा अध्‍ययन के अनुसार, दही का इस्‍तेमाल तनाव और अवसाद जैसी मानसिक बीमारियों से निपटने में मददगार हो सकता है। इसके मुताबिक दही में मौजूद प्रोबायोटिक मस्तिष्‍क पर असर करता है जिससे बार-बार मूड में बदलाव आने की समस्‍या नहीं होती। image courtesy : getty images

हृदय रोग का खतरा कम

हृदय रोग का खतरा कम
3/11

दही रक्त में बनने वाले कोलेस्ट्रोल नामक घातक पदार्थ को बढ़ने से रोकता है, डॉक्टरों का मानना है कि दही के नियमित सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रोल को कम किया जा सकता है। जिससे वह नसों में जमकर ब्लड सर्कुलेशन को प्रभावित न करे और हार्टबीट सामान्‍य बनी रहे। image courtesy : getty images

हड्डियों में मजबूती

हड्डियों में मजबूती
4/11

दही में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कि हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। दही खाने से दांत भी मजबूत होते हैं। दही ऑस्टियोपोरोसिस (जोडों की बीमारी) जैसी बीमारी से लड़ने में भी मददगार होता है। image courtesy : getty images

पेट की बीमारियों से बचाव

पेट की बीमारियों से बचाव
5/11

दही में अच्छे बैक्टीरिया पाये जाते हैं, जो पेट की बीमारी को ठीक करने में मदद करते हैं। पेट में जब अच्छे किस्म के बैक्टीरिया की कमी हो जाती है तो भूख न लगने जैसी तमाम बीमारियां पैदा हो जाती हैं। इस स्थिति में दही सबसे अच्छा भोजन बन जाता है। यह इन तत्वों को हजम करने में मदद करता है। image courtesy : getty images

लैक्टोज असहिष्णु लोगों के लिए अच्‍छा विकल्प

लैक्टोज असहिष्णु लोगों के लिए अच्‍छा विकल्प
6/11

कुछ लोग लैक्टोज असहिष्णु होने के कारण दूध का उपभोग नहीं कर सकते। ऐसे लोग सुरक्षित रूप से दही का उपभोग कर सकते हैं। यह दूध में मौजूद लैक्‍टोज को लैक्टिक एसिड में बदलकर पचाने में आसान बनाता है। इसके अलावा, इसमें दूध की तरह सभी प्रकार के पोषण तत्‍व मौजूद होते हैं। image courtesy : getty images

वजन कम करने में मददगार

वजन कम करने में मददगार
7/11

वजन कम करने के लिए आहार योजना बनाते समय आपको दही उसमें शमिल करना चाहिए। दही में मौजूद कैल्शियम शरीर को अधिक कोर्टिसोल पंप करने से रोकता है। कोर्टिसोल का हार्मोनल असंतुलन उच्च रक्तचाप, मोटापा और कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्याओं के लिए जिम्मेदार होता है। image courtesy : getty images

इम्‍यूनिटी बढ़ाये

इम्‍यूनिटी बढ़ाये
8/11

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्‍लीनिकल न्‍यूट्रीशन के अनुसार, दही में उपस्थित बैक्टीरिया के समर्थक जैविक उपभेद प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और संक्रमण, सूजन रोग, और एलर्जी की समस्‍याओं को कम करने में मदद करता है। image courtesy : getty images

योनि संक्रमण से बचाव

योनि संक्रमण से बचाव
9/11

मधुमेह से प‍ीड़‍ित महिलाओं में कैंडिडा के कारण योनि में संक्रमण होना आम बात है। इस समस्‍या को दही के नियमित सेवन से कम किया जा सकता है। दही के सेवन से योन‍ि पथ का पीएच का स्‍तर कम होकर कैंडिडा संक्रमण से बचाता है।  image courtesy : getty images

सांसों की बदबू का इलाज

सांसों की बदबू का इलाज
10/11

दही सांसों के बदबू को दूर करने का प्राकृतिक उपचार है। दही के प्रयोग से सलफाइट नाम का पदार्थ कम बनता है, जिससे सांस की बदबू में रोकथाम होती है। रोजाना दही का सेवन करने वाले लोगों में प्‍लॉक और मसूड़े की सूजन का स्‍तर कम पाया जाता है। image courtesy : getty images

Disclaimer