धनिये के लाभ

धनिया केवल भोजन का स्‍वाद ही नहीं बढ़ाता, बल्कि इसमें कई औषधीय गुण भी होते हैं, जिनके बारे में शायद आपने पहले कभी न सुना हो। इस स्‍लाइड शो के जरिये हम आपको बताएगें धनिए के ऐसे ही कुछ औषधिय गुणों के बारे में।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Dec 24, 2013

धनिये के फायदे

धनिये के फायदे
1/10

आमतौर पर हम धनिये को सब्जियों में डालते हैं। या फिर धनिए को भारतीय भोजन का सुगंध और स्‍वाद बढ़ाने के लिए उपयोग में लाते है। लेकिन यदि इसके औषधीय गुणों को आप जानेंगे तो आपको बहुत आश्चर्य होगा। इस स्‍लाइड शो के जरिये हम आपको बताएंगे धनिए के ऐसे ही कुछ औषधीय गुणों के बारे में।

त्वचा के लिए फायदेमंद

त्वचा के लिए फायदेमंद
2/10

एंटीसेप्टिक और एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण धनिया त्‍वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। इससे मुंहासों की समस्‍या के साथ-साथ ब्‍लैकहेड्स की समस्‍या भी दूर होती है। इसके लिए धनिये की पत्तियों के रस में हल्दी का चूर्ण मिलाकर चेहरे पर लगाएं और कुछ देर चेहरे पर लगे रहने के बाद धो लें।

एनिमिया दूर करें

एनिमिया दूर करें
3/10

धनिये में आयरन भरपूर मात्रा में होता है। इसके नियमित सेवन से एनिमिया को दूर करने में मदद मिलती है। साथ ही एंटी ऑक्‍सीडेंट, मिनरल, विटामिन ए और सी से भरपूर होने के कारण धनिया कैंसर से भी बचाव करता है।

मासिक धर्म में लाभकारी

मासिक धर्म में लाभकारी
4/10

मासिक धर्म में रक्तस्राव साधारण से ज्‍यादा होने पर आधा लीटर पानी में 6 ग्राम धनिए के बीच और थोड़ी सी शक्‍कर डालकर उबाले और थोड़ा सा ठंडा होने पर इस पानी को पी लें, फायदा होगा। इसके साथ ही धनिया महिलाओं में मासिक धर्म संबंधी सभी समस्याओं को दूर करता है।

डायबिटीज में लाभदायक

डायबिटीज में लाभदायक
5/10

धनिये को डायबिटीज का नाश करने वाला भी कहा जाता है। डायबिटीज से पी‍ड़‍ित व्‍यक्तियों के लिए तो यह वरदान है। इसके नियमित सेवन से ब्लड में इंसुलिन की मात्रा नियंत्रित रहती है।

नकसीर की दवा

नकसीर की दवा
6/10

नकसीर होने पर धनिया बहुत फायदेमंद होता है। इसके लिए 20 ग्राम हरी धनिये की पत्तियों में चुटकी भर कपूर मिलकार इसका रस निकाल लें। इस रस की दो-दो बूंदें दिन में दो बार नाक में प्रतिदिन डालने से नकसीर की समस्‍या समाप्‍त हो जाती है।

विभिन्‍न प्रकार की जलन में लाभकारी

विभिन्‍न प्रकार की जलन में लाभकारी
7/10

धनिया हाथ पैर की जलन, एसिडिटी, आंखों की जलन, यूरिन की जलन और सिरदर्द को दूर करने में लाभकारी होता है। इसके लिए सौंफ, मिश्री व धनिया के बीजों को समान मात्रा मिलाकर चूर्ण बना कर एक चम्‍मच प्रतिदिन भोजन के बाद लेने से फायदा होता है।

किडनी की समस्‍या में लाभकारी

किडनी की समस्‍या में लाभकारी
8/10

धनिया खाने से किडनी स्वस्थ रहती है। शोध बताते हैं कि नियमित रूप से धनिये का उपयोग करने वालों में किडनी की समस्या ना के बराबर होती है। इसलिए किडनी की समस्याओं से पी‍ड़‍ित व्‍यक्तियों को धनिये का उपयोग जरूर करना चाहिए।

कफनाशक धनिया

कफनाशक धनिया
9/10

धनिये को कफनाशक भी माना जाता है। कफ की शिकायत होने पर दो चम्‍मच हरे धनिये की पत्तियों का रस नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। साथ ही इसके सेवन से ब्रोंकाइटिस और दमा जैसे श्वसन रोगों पर भी काबू पाया जा सकता है।

आंखों के लिए लाभदायक

आंखों के लिए लाभदायक
10/10

धनिये में विटामिन 'ए' प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए धनिये की चटनी का नियमित रूप से उपयोग हमारी आंखों के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। इसमें फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, खनिज पदार्थ जैसे- कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, कैरोटीन, थियामीन, पोटोशियम और विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

Disclaimer