बच्चों की आंखें हैं कमजोर तो उन्हें खिलाएं ये 9 चीजें, एक्सपर्ट से जानें इनसे मिलने वाले फायदे

बच्चों की आंखों की कमजोरी को दूर करने के लिए डाइट में थोड़ा सा बदलाव करना जरूरी है। एक्सपर्ट से जानते हैं किन चीजों को डाइट में जोड़ें...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Jan 19, 2022

1/10

देश में फैली महामारी के कारण पढ़ाई के लिए बच्चों को लंबे समय तक कंप्यूटर स्क्रीन के सामने बैठना पड़ता है। वहीं अब टीचर नोट्स शेयर करने के लिए व्हाट्सएप ग्रुप की मदद लेते हैं, जिससे बच्चे हर चीज से अपडेट रह सकें। ऐसे में ऑनलाइन पढ़ाई के कारण बच्चों की आंखें ना केवल कमजोर हो रही हैं बल्कि उनकी आंखों की रोशनी पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है। ऐसे में कुछ घरेलू उपाय इस समस्या को दूर कर सकते हैं। इसके लिए हमने न्यूट्रिशनिस्ट और वैलनेस एक्सपर्ट वरुण कत्याल ( Nutritionist and wellness expert varun katyal) से भी बात की है। पढ़ते हैं आगे...

गाजर का इस्तेमाल

गाजर का इस्तेमाल
2/10

गाजर के इस्तेमाल से आंखों की रोशनी को बढ़ाया जा सकता है। बता दें कि गाजर के अंदर विटामिन ए के साथ-साथ एंटीऑक्सीडेंट, फाइबर, पोटेशियम मौजूद होता है जो आंखों को न केवल तंदुरुस्त बना सकता है बल्कि रेटिना की समस्या से भी राहत पहुंचा सकता है।

बादाम का सेवन

बादाम का सेवन
3/10

बच्चों की डाइट में बादाम जोड़ना एक अच्छा विकल्प है। बता दें कि बादाम की तासीर गर्म होती है। वहीं बदाम के अंदर विटामिन ई भी मौजूद होता है जो न केवल आंखों की कई समस्याओं को दूर करने में उपयोगी है बल्कि बच्चों की त्वचा में निखार भी ला सकता है। ऐसे में आप रात को चार से पांच बदाम भिगोएं और अगले दिन उनके छिलके निकाल कर बच्चों को सेवन करने दें

पालक का सेवन

पालक का सेवन
4/10

पालक के इस्तेमाल से आंखों की रोशनी को बढ़ाया जा सकता हैं। बता दें कि पालक के अंदर एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो न केवल रेटिना को हानि पहुंचाने से रोक सकते हैं बल्कि आंखों की रोशनी को बढ़ाने में भी बेहद मददगार साबित हो सकते हैं।

आंवले का सेवन

आंवले का सेवन
5/10

आंवले के इस्तेमाल से भी आंखों की कई समस्याओं को दूर किया जा सकता है। बता दें कि आंवले के अंदर विटामिन सी मौजूद होता है जो ना केवल आंखों की रोशनी बढ़ाए सकता है बल्कि इम्यूनिटी को भी स्ट्रांग करने में उपयोगी है। ऐसे में आप बच्चे को आंवले के रस का सेवन करने दें।

ब्रोकली का सेवन

ब्रोकली का सेवन
6/10

ब्रोकली के अंदर एंटी ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं वहीं ये विटामिन से भी भरपूर है। ऐसे में इसके सेवन से बच्चों की आंखों की कमजोरी को दूर किया जा सकता है। आप ब्रोकली को सलाद के रूप में सब्जी के रूप में बच्चे को खिला सकते हैं। ऐसा करने से बच्चों की आंखों की रोशनी पर सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

हरी सब्जियों का सेवन

हरी सब्जियों का सेवन
7/10

हरी सब्जियों के सेवन से भी बच्चों की आंखों की कमजोरी को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप बच्चों की डाइट में हरी सब्जियों को जोड़ें। आप हरी सब्जियों का जूस या रस बच्चों की डाइट में जोड़ सकते हैं। ऐसा करने से न केवल आंखों की रोशनी बढ़ सकती है बल्कि आंखों की कमजोरी भी दूर हो सकती है।

खट्टे फलों का सेवन

खट्टे फलों का सेवन
8/10

खट्टे फलों के सेवन से आंखों की रोशनी को बढ़ाया जा सकता है। बता दें कि इन फलों में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट तत्व मौजूद होते हैं। वही ये विटामिन ए का भी अच्छा स्रोत माना जाता है। ऐसे में इसके सेवन से रेटिना को ना केवल बेहतर बनाया जा सकता है बल्कि आंखों की रोशनी को भी बढ़ाया जा सकता है।

छोटी इलायची का इस्तेमाल

छोटी इलायची का इस्तेमाल
9/10

छोटी इलायची के इस्तेमाल से आंखों को तंदुरुस्त बनाया जा सकता है। ऐसे में आप ठंडे दूध में सौंफ और इलायची को पीसकर मिलाएं और दूध को गर्म करके बच्चों को पिलाएं। ऐसा करने से आंखों की कमजोरी को दूर किया जा सकता है।

अखरोट का सेवन

अखरोट का सेवन
10/10

अखरोट के सेवन से भी आंखों की रोशनी को बढ़ाया जा सकता है। बता दें कि अखरोट में विटामिन ए मौजूद होता है जो न केवल आंखों को तंदुरुस्त बना सकता है बल्कि आंखों की कई समस्याओं से लड़ने में भी उपयोगी है। ऐसे में आप बच्चों की डाइट में अखरोट को शामिल करें। हालांकि आप सूखे मेवों के रूप में काजू, बादाम, किशमिश, पिस्ता आदि को शामिल कर सकते हैं

Disclaimer