डर्मोटोलॉजिस्‍ट से करानी चाहिए इन 5 संकेतों की जांच

त्वचा की बीमारियों को नज़रअंदाज नहीं करना चाहिए। रोग से ग्रसित स्थान की त्वचा चमकविहीन, रूखी-सूखी, फटी हुई और मोटी दिखाई देती है तथा वहां खुजली भी होती रहती है। ऐसे लक्षणों होने पर तुंरत त्वचा विशेषज्ञ से संपर्क करे।

Aditi Singh
Written by: Aditi Singh Published at: Jun 15, 2015

त्वचा विशेषज्ञ की लें सलाह

त्वचा विशेषज्ञ की लें सलाह
1/8

एक बढ़ता हुआ तिल या मस्सा भी मेलानोमा की निशानी हो सकता है। त्वचा के इन लक्षणों को नजर अंदाज ना करें। किसी भी बीमारी की शुरू में पड़ताल कर उसका इलाज करना ही बेहतर है। इससे सही और जल्दी इलाज होगा। हम आपको बता रहे हैं कुछ लक्षण, इससे पहले स्थिति गंभीर हो आपको निश्चित ही त्वचा विशेषज्ञ के पास जाना चाहिए। ImageCourtesy@gettyimages

जाने त्वचा रोग

जाने त्वचा रोग
2/8

मुंहासे, डैंड्रफ, झाइयाँ, ऑइली या ड्राई स्किन या फिर दाग धब्बे ये सब त्वचा की समस्याएँ हैं। इन सब सामान्य समस्याओं के साथ ही कुछ गंभीर समस्याएँ भी हैं जिन पर ध्यान देने की आवश्यकता है। ऐसी ही कुछ समस्याएँ हैं हार्मोन्स का असंतुलन, थाइराइड की समस्या, एक्जिमा, सोरायसीस आदि। त्वचा से संबन्धित बहुत सी चीजें हैं जो कि आपको गंभीरता से लेनी चाहिए और डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। त्वचा पर दिखाई देने वाली कुछ प्रत्यक्ष चीजों के अलावा त्वचा के अंदर भी कुछ बीमारियाँ पनपती हैं। ImageCourtesy@gettyimages

त्वचा के रंग में बदलाव

त्वचा के रंग में बदलाव
3/8

हल्के या गहरे धब्बे होने पर आपको तुरंत त्वचा विशेषज्ञ से सलाह लेनी चाहिए। इससे कैंसर के धब्बों को जल्दी पता लगाने में मदद मिलेगी। कई बार ऐसा भी हो सकता है कि समस्या कुछ खास नहीं हो ऐसे में एक क्रीम से भी ये ठीक हो सकते हैं। लेकिन यदि ड्रमेटोलोजिस्ट को इसमें कुछ गलत या संदेह लगता है तो वे आपको कुछ टेस्ट कराने की सलाह दे सकते हैं।ImageCourtesy@gettyimages

असामान्य मुँहासे

असामान्य मुँहासे
4/8

20 से 30 साल की उम्र में मुहाँसे सामान्य समस्या है। लेकिन यदि इस उम्र के बाद भी आपको मुहाँसे हो रहे हैं तो आपको तुरंत जरूरी कदम उठाना चाहिए। दवाई के रिएक्शन से लेकर हार्मोन्स का असंतुलन जैसे कई कारण इसके लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। इसलिए ऐसे लक्षण दिखाई देने पर आपको ड्रमेटोलोजिस्ट से सलाह लेनी चाहिए।ImageCourtesy@gettyimages

धूप से संवेदनशीलता

धूप से संवेदनशीलता
5/8

कई बार ऐसा हो सकता है कि आपकी त्वचा सूर्य या धूप के प्रति ज्यादा संवेदनशील हो। मांसपेशियों में दर्द या थकान इसके लक्षण हो सकते हैं। इन लक्षणों को आप हल्के में नहीं ले सकते हैं ऐसे में बेहतर होगा कि आप किसी त्वचा विशेषज्ञ से सलाह लें। डॉक्टर इसमें आपको बायोप्सी या ब्लड वर्क की सलाह दे सकते हैं। ये लूपस (वृक) के लक्षण भी हो सकते हैं इसलिए इनका तरीके से इलाज जरूरी है।ImageCourtesy@gettyimages

खुजली

खुजली
6/8

यदि आपको 7 दिन से ज्यादा समय से खुजली है तो आपको डॉक्टर के पास जाना चाहिए। इससे ये हो सकता है कि आपकी खुजली करने वाली जगह लाल हो रही तो और ठीक नहीं हो रही हो। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे कि दवाई का रिएक्शन या फिर गलत खान-पान।ImageCourtesy@gettyimages

भूरे धब्बे

भूरे धब्बे
7/8

यदि आपके शरीर पर भूरे धब्बे हो गए हैं और क्रीम से ठीक नहीं हो रहे हैं तो आपको ड्रमेटोलोजिस्ट के पास जाना चाहिए। ऐसे धब्बे आपके माथे और ऊपर के होंठ पर हो सकते हैं। ऐसे लक्षण ऐसी महिलाओं में पाये जा सकते हैं जो कि हार्मोनल बर्थ कंट्रोल (परिवार नियोजन की हार्मोनल दवाइयों का इस्तेमाल) करती हैं। इसके सही इलाज के लिए डॉक्टर के पास विजिट करें।ImageCourtesy@gettyimages

हलके में ना ले त्वचा रोग

हलके में ना ले त्वचा रोग
8/8

त्वचा रोग को शरीर की आन्तरिक बीमारियों का आईना कहा जाता है। शरीर में लगातार चलने वाली खुजली को हलके में नहीं लेना चाहिये।  खुजली होने के कारण पीलिया की बीमारी का भी पता लगाया जा सकता है। त्वचा में अधिक सूखापन कैंसर की भी निशानी हो सकती है।त्वचा रोग से बचना है तो खानपान दुरूस्त कर संयमित जीवन शैली अपनानी होगी।ImageCourtesy@gettyimages

Disclaimer