इन सेलीब्रेटीज ने भी किया मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का सामना

सेलीब्रेटीज को सभी लोग फॉलो करते हैं, लोग उनकी हर अदा के दीवाने होते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि वे भी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का सामना करते हैं।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: Sep 11, 2015

जे के रोलिंग (JK Rowling)

जे के रोलिंग (JK Rowling)
1/5

पूरी दुनिया में मशहूर नॉवेल सीरीज 'हैरी पॉटर' की लेखिका जे के रोलिंग ने कुछ समय पहले खुलासा किया कि उन्हें डिप्रेशन था और इसकी वजह से उन्होंने आत्महत्या का इरादा भी कर लिया था। जिसके बाद उन्होंने मनोवैज्ञानिक की सलाह ली। रोलिंग ने बताया कि उनकी हालात बहुत खराब थी और वो हिम्मत हार चुकीं थीं। उस समय उनकी बेटी ने उन्हें बहुत हौसला दिया। ये वही समय था जब उन्होंने हैरी पॉटर सीरीज की पहली किताब लिखनी शुरू की और अब वह करीब 43 अरब रुपये की सम्पति के साथ दुनिया की सबसे अमीर महिलाओं में से एक हैं। Images source : © Getty Images

दीपिका पादुकोण और अनुष्का शर्मा (Deepika Padukone)

दीपिका पादुकोण और अनुष्का शर्मा (Deepika Padukone)
2/5

कुछ समय पहले एक टीवी चैनल को दिये अपने इंटरव्यू में दीपिका ने खुल कर अपने डिप्रेशन के बारे में सभी से बात की। उन्होंने बताया कि उन्हें समझ नहीं आता था कि वे कहां जाएं और क्या करूं। वे बस रोती रहती थी। अनुष्का ने भी अपने डिप्रेशन के बारे में सोशल मीडिया पर बात की। उन्होंने इस बारे में एक इंटरव्यू के दौरान कहा, "जब आपके पेट में दर्द होता है, तो क्या आप डॉक्टर के पास नहीं जाते? इतनी आसान सी बात है।" अनुष्का ने पब्लिक प्लेटफॉर्न पर बताया कि उन्हें एंग्जायटी डिसॉर्डर है और इसके लिये वे इलाज भी ले रही हैं। Images source : © Getty Images

विंस्टन चर्चिल (Winston Churchill)

विंस्टन चर्चिल (Winston Churchill)
3/5

2 बार ब्रिटेन के प्रधानमंत्री रह चुके विंस्टन चर्चिल को कई बार डिप्रेशन के दौरे पड़े, जो करीब एक हफ्ते तक रहते थे। जब  कभी उनकी पकड़ सत्ता पर  कम होने लगती, वे डिप्रेशन के अंधेरे में खोने लगते थे। 1915 में आर्मी छोड़ने पर, 1930 के दौरान जब वह पद में नहीं थे, 1945 का चुनाव हारने पर और आखिरी बार इस्तीफा देने के बाद वह डिप्रेशन से घिर गए। Images source : © Getty Images

चार्ल्स डार्विन (Charles Darwin)

चार्ल्स डार्विन (Charles Darwin)
4/5

ब्रिटेन के मशहूर बायोलॉजिस्ट, इन्होंने जीवन की उत्पत्ति, जीवों के लुप्त होने का राज़ और कोई प्रजाति कैसे बची रही, आदि के लिए नेचुरल सलेक्शन का सिद्धान्त दिया (जिसे डार्विन का सिद्धांत नाम से जाना जाता है) ने 1859 में 'ऑन द ओरिजन ऑफ स्पीसीज' लिखी। जिसमें उन्होंने अपनी स्थिति के बारे में लिखा कि 'मुझे जीने के लिए मजबूर किया जा रहा है...चुपके से। मैं अपने नजदीकी लोगों से भी ज्यादा बात नहीं कर पाता हूं।' वे लंबे सय तक मानसिक तनाल व समस्या से जूझे। Images source : © Getty Images

अब्राहिम लिंकन

अब्राहिम लिंकन
5/5

अमरीका के छठे राष्ट्रपति लिंकन लंबे समय तक डिप्रेशन का शिकार रहे थे और इस कारण कई बार उन्होंने खुदकुशी करने के बारे में भी सोचा। वह इस कारण कई बार बेहद आक्रामक हो जाते थे। उनका बचपन काफी अभाव में बीता और 21 की उम्र होते उन्होंने अपनी मां और भाई को भी खो दिया था। Images source : © Getty Images

Disclaimer