टैम्पोन और सैनेटरी पैड से जुड़े इन तथ्यों से अनजान है आप

सैनेटरी पैड और टैम्पोन का प्रयोग शरीर को कई तरह की बीमारी देता है। इससे संक्रमण और कैंसर का भी खतरा रहता है। कोशिश करे कम कैमिकल वाले सैनेटरी पैड का प्रयोग करें।

Aditi Singh
Written by: Aditi Singh Published at: Nov 05, 2015

सैनेटरी पैड या टैम्पौन का प्रयोग

सैनेटरी पैड या टैम्पौन का प्रयोग
1/5

माहवारी के समय महिलाए रक्तस्त्राव को सोखने के लिए सैनेटरी पैड या टैम्पोन का प्रयोग करती है। पर वो सैनेटरी पैड और टैम्पोन से होने वाले खतरे से अनजान होती है। बहुत कम ही महिलाओं को पता होगा कि सैनटरी पैड और टैम्पोन को बनाने वाले कैमिकल से कैंसर से जैसी गंभीर बीमारी भी हो सकती है। आइयें जानते है कि सैनटरी पैड महिलाओं के शरीर को कैसे नुकसान पहुंचाता है।  Image Source-Getty

सर्वाइकल कैंसर का खतरा

सर्वाइकल कैंसर का खतरा
2/5

रक्त को सोखने के लिए सैनेटरी पैड में प्रयोग होने वाला सेलुलोज से सर्वाइकल कैंसर होने का खतरा रहता है। सर्वाइकल कैंसर महिलाओं को होने वाला दूसरा कैंसर है। सैनेटरी पैड और टैम्पोन को बनाने में प्रयोग होने वाले कैमिकल से की तरह की बीमारियां और संक्रमण होने का खतरा रहता है। कोशिश करें कम कैमिकल वाले पैड का प्रयोग करे।  Image Source-Getty

टैम्पोन में टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम

टैम्पोन में टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम
3/5

टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम के ख़तरे के कारण कभी भी टैम्पॉन को 8 घण्टे से ज़्यादा शरीर में नहीं छोड़ना चाहिए।कभी कभी टैम्पॉन एवं उसका धागा गलती से योनि में अंदर चले जाते हैं।यदि आप टैम्पॉन या उसके धागे को महसूस कर सकें तो उसे पकड़कर बाहर खींचने की कोशिश करें। यदि आप टैम्पॉन के धागे को महसूस न कर सकें तो तुरंत किसी स्वास्थ्य कार्यकर्ता के पास जाएँ।Image Source-Getty

पेस्टीसाइड और हर्बीसाइड

पेस्टीसाइड और हर्बीसाइड
4/5

यदि आप मेनस्टुअल कप, पैड या टैम्पोन का इस्तेमाल कर रही हैं और आपको यह महसूस होता है कि आपका माहवारी रक्त आक्रमक गंध पैदा कर रहा है, तो आपको संक्रमण हो सकता है, इसीलिए तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी उचित रहेगी।पैड में रूई को भरते समय इसमें पेस्टीसाइड और हर्बीसाइड भरे जाते है जिससे कैंसर का खतरा रहता है।Image Source-Getty

सिंथैटिक मटीरियल

सिंथैटिक मटीरियल
6/5

सैनेटरी नापकिन में सिंथैटिक मटीरियल होता है जो गीलेपन और तापमान को सोखकर उसे ब्लॉक कर देता है जिससे संक्रमण का खतरा रहता है। साथ ही टैम्पोन को बनाने में भी प्लास्टिक का प्रयोग होता है जिससे मल्टीपल ऑर्गन डैमेज होने का खतरा रहता है।  इसमें प्रयोग आने वाले डियो से प्रजनन की क्षमता प्रबावित होती है। Image Source-Getty

Disclaimer