सपनों की हकीकत

सपने देखना हमारे जीवन में सबसे रहस्यमय और दिलचस्प अनुभवों में से एक है। इन्‍हीं सपनों से जुड़ी कुछ चौंका देने वाली हकीकत के बारे में आगे की स्‍लाइड में पढ़ें।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Jan 07, 2014

सपनों की हकीकत

सपनों की हकीकत
1/13

सपनों की दुनिया भी कितनी अजीब होती है, सपने में सपना जैसा कुछ लगता ही नही, बिलकुल ऐसा महसूस होता है जैसे सब सचमुच में घटित हो रहा हो। सपने देखना हमारे जीवन में सबसे रहस्यमय और दिलचस्प अनुभवों में से एक है। इन्‍हीं सपनों से जुड़ी कुछ चौंका देने वाली हकीकत के बारे में आगे की स्‍लाइड में पढ़ें।

भूल जाते है सपने

भूल जाते है सपने
2/13

क्‍या आप जानते हैं कि पूरी रात हम जितने भी सपने देखते हैं, उनमें से कितने हमें याद रहते हैं। सोचिये, जरा दिमाग पर ज़ोर डालिये... सपनों से जुड़ी एक हकीकत यह है कि हम जितने सपने देखते हैं जागने के 5 मिनट के भीतर ही आधे से ज्‍यादा सपने भूल जाते हैं।

अंधे लोगों के सपने

अंधे लोगों के सपने
3/13

जो लोग जन्‍म के बाद अंधे होते है वह लोग अपने सपनों चित्र देख सकते हैं। जो लोग अंधे पैदा होते है वह किसी भी चित्र को देख नहीं पाते। लेकिन वह ध्वनि, गंध, स्पर्श और भावना व अन्य इंद्रियों से जुड़े समान रूप से ज्वलंत सपने देखते हैं।

सपने सब देखते हैं

सपने सब देखते हैं
4/13

ऐसे इनसानों को छोड़कर, जिन्‍हें बहुत ज्‍यादा मनोवैज्ञानिक विकार होता है, हर इनसान सपने देखता हैं। अगर आपको लगता है कि आप सपना नहीं देखते हैं तो ऐसा नहीं है। आप अपने सपनों को भूल जाते हैं।

जान पहचान वाले चेहरे

जान पहचान वाले चेहरे
5/13

हमारे मन चेहरों की खोज नहीं करता। हम अपने सपनों में वही लोग या चेहरे देखते हैं जिन्‍हें हमने अपनी जिन्‍दगी में देखा होता हैं। यह अलग बात है कि हम उन्‍हें जानते नहीं है या भूल जाते हैं।

रंगीन नहीं होते सभी के सपने

रंगीन नहीं होते सभी के सपने
6/13

सभी लोगों के सपने रंगीन नहीं होते। कुछ सपने ब्लैक एंड वाइट भी होते है।  1915 से 1950 के दशक के माध्यम में हुए अध्ययन के अनुसार ज्‍यादातर सपने ब्‍लैक एंड वाइट होते थे लेकिन परिणामों में 1960 के दशक में बदलाव आ गया। आज केवल 4.4 प्रतिशत सपने ही ब्‍लैक एंड वाइट होते है।

भावनाएं

भावनाएं
7/13

चिंता सपने में सबसे आम भावना जो अनुभव की जाती है। नकारात्मक भावनाओं सकारात्मक भावनाओं की तुलना में बहुत आम होती हैं।

सपनों की संख्‍या

सपनों की संख्‍या
8/13

क्‍या आप जानते हैं कि एक रात में आप 4 से 7 सपने तक देख सकते हैं और आप कहीं भी हो हर रात औसतन एक या दो घंटे सपने देख सकते हैं।

पुरुषों और महिलाओं के सपने अलग

पुरुषों और महिलाओं के सपने अलग
9/13

पुरुष अन्य पुरुषों के बारे में अधिक सपने देखते हैं। दूसरी ओर, एक महिला सपने में पुरुषों और महिलाओं को लगभग समान संख्या में देखती हैं। एक तरफ, पुरुष आमतौर पर सपने में अधिक आक्रामक भावनाओं को देखते हैं जबकि, महिलायें अलग-अलग तरह के सपने देखती हैं।

निकटता का सपना

निकटता का सपना
10/13

कुछ ऐसे सपने भी होते हैं जिसमें आप अपने को किसी के साथ यौन संबंध बनाते हुए और बहुत भावुक महसूस करते हैं। इन सपनों में कुछ भी सेक्‍सुअल नहीं होता है। आमतौर पर यह सपने किसी के साथ एक भावनात्‍मक बंधन और सहायक रिश्‍ता को दर्शाते हैं।

Disclaimer