सीजोफ्रेनिया के लिए घरेलू उपचार

सीजोफ्रेनिया एक मानसिक विकृति है, जिसे दुर्भाग्यवश अधिकांश लोग पागलपन कहते हैं। लेकिन घबराइए नहीं क्‍योंकि कुछ घरेलू उपायों द्वारा इसका इलाज किया जा सकता है।

Pooja Sinha
Written by:Pooja SinhaPublished at: Dec 14, 2015

सीजोफ्रेनिया के लिए घरेलू उपचार

सीजोफ्रेनिया के लिए घरेलू उपचार
1/5

सीजोफ्रेनिया एक मानसिक विकृति है, जिसे दुर्भाग्यवश (विशेषकर हमारे देश में) अधिकांश लोग पागलपन कहते हैं। इस रोग में मिथ्या भ्रम, स्वाभाविक सोच जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं। यह रोग भी बुखार या किसी अन्य स्वास्थ्य समस्या की तरह ही एक समस्या है, जिसका समय से चिकित्सकीय परामर्श लेने पर इलाज संभव है। दरअसल सीजोफ्रेनिया एक मानसिक बीमारी अर्थात मेंटल डिसआर्डर है, जिसमें पीड़ित व्यक्ति को अक्सर तरह-तरह आवाजें सुनाई देती रहती हैं, और लगता है सभी लोग उनके ख़िलाफ षड़यंत्र रच रहे हैं। लेकिन घबराइए नहीं क्‍योंकि कुछ घरेलू उपायों द्वारा इसका इलाज किया जा सकता है।

कैमोमाइल

कैमोमाइल
2/5

कैमोमाइल सुखदायक और शांत गुणों से भरपूर होता है। यह आरामदायक नींद को बढ़ावा देकर से सीजोफ्रेनिया से पीड़ित लोगों के लिए उपयोगी होता है। गर्म पानी के एक कप में एक चम्‍मच कैमोमाइल फूल मिलायें। फिर इसे कवर करके पांच मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। मिश्रण के थोड़ा सा ठंडा होने पर इसे नियमित रूप से शाम को पीयें।

पैनेक्स जिनसेंग

पैनेक्स जिनसेंग
3/5

पैनेक्‍स जिनसेंग स्‍मृति, सोच और एकाग्रता में सुधार करने के लिए अच्‍छा माना जाता है। 2008 के एक अध्‍ययन के अनुसार, कनाडा के शोधकर्ताओं ने पाया कि सीजोफ्रेनिया के नकारात्‍मक लक्षणों को कम करने में मदद करता है। यह माना जाता है कि यह ब्रेन रिसेप्‍टर्स की तरह मनोविकार के प्रति प्रभावकारी माना जाता है। आप डॉक्‍टर से परामर्श करने के बाद कई हफ्तों तक नियमित रूप से पैनेक्‍स जिनसेंग की 200 मिलीग्राम ले सकते हैं।

एंटीऑक्‍सीडेंट

एंटीऑक्‍सीडेंट
4/5

एंटीऑक्‍सीडेंट विटामिन जैसे विटामिन ए, सी और ई सीजोफ्रेनिया की गंभीरता को कम करने में सहायक माना जाता है। विटामिन सी को भी एंटी-स्‍ट्रेस विटामिन माना जाता है। रिसर्च बताते हैं कि मस्तिष्क विकार के विकास में ऑक्सीडेटिव तनाव की एक संभावित भूमिका हो सकती है। एंटीऑक्सीडेंट मुक्त कण बेअसर और ऑक्सीडेटिव तनाव कम करने में मदद करते हैं। इसलिए अपने आहार में ब्लूबेरी, स्ट्रॉबेरी, नींबू, संतरा, आंवला, पालक और गाजर जैसे एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें।

ब्राह्मी

ब्राह्मी
5/5

ब्राह्मी को संज्ञानात्‍मक क्षमता को बढ़ाने वाली लोकप्रिय आयुर्वेदिक चिकित्‍सा में प्रयोग किया जाता है। जानवरों पर हुए अध्‍ययन के अनुसार, यह सीजोफ्रेनिया को बेहतर बनाने में मदद करता है। हालांकि ज्ञात नहीं है कि यह कैसे काम करता है यद्यपि यह मस्तिष्क में कुछ केमिकल को स्थिर करने में मदद करने के लिए जाना जाता है। साथ ही यह न्यूरोप्रोटेक्टिव गुणों को भी दर्शाता है। ब्राहृमी के सत्‍व को कम से कम 1 महीने के लिए 500 मिलीग्राम की मात्रा लें।

Disclaimer