मादक पदार्थों को छोड़ने के बाद की स्थिति से निपटने के 5 घरेलू नुस्‍खे

मादक पदार्थों को छोड़ने के बाद की वापसी एक दुखद अनुभव है, न सिर्फ नशा छोड़ने वालों के लिए बल्कि परिवार और दोस्‍तों के लिए भी। अगर आप भी प्राकृतिक तरीके से मादक पदार्थों को छोड़ने के बाद आने वाले लक्षणों से राहत पाने के उपायों की खोज कर रहे हैं, तो यह कुछ प्रभावी प्राकृतिक उपाय आपके लिए मददगार हो सकते हैं।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Apr 12, 2017

क्‍या है मादक पदार्थों को छोड़ने के बाद की स्थिति

 क्‍या है मादक पदार्थों को छोड़ने के बाद की स्थिति
1/6

मादक पदार्थों को छोड़ने के बाद की स्थिति ऐसी अवस्‍था है, जब लंबे समय की खपत के बाद आप नशीली दवाओं के उपयोग को अचानक से कम या कम कर देते हैं। इसके लक्षणों मे उल्‍टी, डायरिया, भूख की कमी, डिप्रेशन, पेट में ऐंठन आदि शामिल है। जब रोगी मादक पदार्थों की वापसी की तरफ रूख करता है, तो उसे ड्रग्‍स के लिए तीव्र लालसा का अनुभव होता है। लेकिन अगर आप किसी को बहुत प्‍यार करते हैं, और चाहते हैं वह पुरानी आदतों में वापस न जाये तो नशा वापसी के लिए घरेलू उपायों का इस्‍तेमाल कर उसे भयानक लक्षणों से बाहर ला सकते हैं। किसी भी नशे से बाहर आना सच में बहुत दर्दनाक होता है। लेकिन मादक पदार्थों को छोड़ने के बाद की स्थिति से निपटने के लिए घरेलू उपाय बहुत मददगार होते है। यह लत को सफलतापूर्वक छोड़ने में मरीज की मदद करते हैं। Image Source : blog.mothersafe.or.kr

शरीर को डिटॉक्‍स करें पानी

शरीर को डिटॉक्‍स करें पानी
2/6

यह बात तो हम सभी जानते हैं कि पानी में कई प्रकार के चिकित्‍सीय गुण होते हैं। इसलिए आपको इस बात को जानकार आश्‍चर्य नहीं होगा कि पानी मादक पदार्थों को छोड़ने और इसके कई लक्षणों से राहत देने में मदद करता है। चिकित्‍सा गुणों के अलावा इसमें डिटॉक्‍सीफाइंग गुण भी मौजूद होते है, जो शरीर से विषाक्‍त पदार्थों को दूर करने और मादक पदार्थों से होने वाले नकारात्‍मक प्रभाव से लड़ने में मदद करते है। एक दिन में कम से कम तीन लीटर पानी पीने से प्राकृतिक रूप से शरीर को डिटॉक्‍स कर नशा वापसी का सामना करने में मदद मिलती है।

विटामिन सी से भरपूर नींबू

विटामिन सी से भरपूर नींबू
3/6

विटामिन सी से भरपूर नींबू, एक ऐसा पोषक तत्‍व है, जो शरीर को प्राकृतिक रूप से डिटॉक्‍स करने और प्रतिरक्षा प्रणाली को उत्‍तेजित करने में मदद करता है। यह विटामिन रोगी को देने का सबसे अच्‍छा तरीका सुबह 3 से 4 ताजे नींबू का रस निकालकर खाली पेट देना है। हालांकि यह अपने आप में बहुत ही प्रभावी है, लेकिन इसे गर्म पानी में देने से इसके प्रभाव बहुत ज्‍यादा बढ़ जाते है। यह विषाक्‍त पदार्थों, अतिरिक्‍त फैट और मिनरल अपशिष्‍ट को शरीर से प्रभावी रूप से दूर करने में मदद करता है।

कैमोमाइल चाय

कैमोमाइल चाय
4/6

जैसा कि आप जानते हैं कि कैमोमाइल चाय में शांतिदायक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह व्‍यक्ति की मादक पदार्थों से वापसी का सामना करने में बहुत मदद करते है। यह फायदेमंद हर्बल चाय इस समस्‍या में होने वाले आम लक्षणों जैसे डायरिया, पेचिश और मतली से राहत देने में मदद करतीहै। कैमोमाइल चाय के शांतिदायक प्रभाव चिंता और तंत्रिका के तनाव को कम करने में मदद करते हैं। नियमित रूप से 4 से 5 कप पीना नशा वापसी के लिए मददगार होते हैं।

मेथी के बीज

मेथी के बीज
5/6

मादक पदार्थों को छोड़ने के बाद होने वाले सबसे आम लक्षणों में से एक मतली है। मेथी इस समस्या के लिए एक प्रभावी घरेलू उपाय है। इसके लक्षणों को कम करने के लिए आप रोगी को एक लीटर पानी में एक मुठ्ठी बीज को उबालकर, और फिर थोड़ा ठंडा करके पिलाये। या मेथी के बीज का पेस्‍ट बनाकर इसे रात को पानी में भिगो दें और सुबह इसे खाली पेट खाना, मतली और अन्‍य लक्षणों को दूर करने का एक शानदार तरीका है।

अत्यधिक प्रभावी उपाय अदरक

अत्यधिक प्रभावी उपाय अदरक
6/6

यह मतली के लिए एक और अत्यधिक प्रभावी उपाय है। यह नशा वापसी के दौरान आने वाले अन्‍य लक्षणों को दूर करने में प्रभावी होता है। अदरक एक निश्चित डिग्री तक दर्द को दूर करने में भी मददगार होता है। दिन भर में अदरक की चाय पीने से काफी मदद मिलती हैं। पानी के एक कप में अदरक का टुकड़ा कुचलकर और उबालकर लेने से मतली दूर होती है। अदरक का स्वाद और गंध तंत्रिकाओं पर काम करती है और रोगी में होने वाली लालसा को दूर करने में मदद करती है। Image Source : Getty

Disclaimer