चुकंदर ज्यादा खाने से हो सकती हैं ये बीमारियां, जानिए

शरीर में खून की कमी को दूर करने और एनर्जी से भरपूर रहने के लिए हम चुकंदर का सेवन जरूरत से ज्‍यादा करने लगते हैं, लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि अद्भुत गुणों के बावजूद, ज्‍यादा चुकंदर खाना आपके लिए खतरनाक भी हो सकता है।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Dec 09, 2016

ज्‍यादा चुकंदर खाने के नुकसान

ज्‍यादा चुकंदर खाने के नुकसान
1/7

चुकंदर स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक सब्जी है। इसमें कार्बोहाइड्रेट और कम मात्रा में प्रोटीन और फैट पाया जाता है। इसका जूस सब्जियों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। यह प्राकृतिक शुगर का सबसे अच्छा स्रोत है। चुकंदर का जूस एनर्जी को बढ़ावा देने और आंखों की सेहत के लिए बहुत उपयोगी होता है। इसके अलावा विटामिन, मैग्‍नीशियम और बायोफ्लेवोनॉइड से समृद्ध है। यह पौष्टिक सब्जी शरीर में हार्मोन के प्राकृतिक उत्पादन को बढ़ा भी सकता है। वास्तव में, चुकंदर कई बीमारियों के इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है। इन सब अद्भुत गुण के बावजूद, ज्‍यादा चुकंदर खाना आपके लिए खतरनाक भी हो सकता है। विश्‍वास नहीं हो रहा तो आइए इस स्‍लाइड शो के माध्‍यम से जानें।

आयरन और कॉपर की अधिकता

आयरन और कॉपर की अधिकता
2/7

रक्‍तवर्णकता या विल्‍सन रोग से पीडि़त लोगों को चुकंदर के अधिक सेवन से बचना चाहिए क्‍योंकि इससे शरीर में कॉपर और आयरन की अधिकता हो जाती है। रक्‍तवर्णकता शरीर में आयरन की अधिकता के कारण होता है, जबकि विल्‍सन रोग शरीर में कॉपर की कमी नहीं होनी चाहिए। चुकंदर में आयरन और कॉपर भरपूर मात्रा में होता है और निश्चित रूप से यह दोनों स्थितियों को बदतर बना सकता है।

बीटुरिया

बीटुरिया
3/7

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल के अनुसार अधिकतर लोग रेड यूरीन और खून में रंग की समस्या से पीड़ित हैं। ऐसा अधिक मात्रा में चुकंदर खाने से होता है। इस स्थिति को बीटूरिया कहा जाता है। हालांकि, यह गंभीर न हीं होता है लेकिन यह साइड इफेक्‍ट कई लोगों में दहशत पैदा कर सकता है। इसलिए अगर आपको यूरीन लाल दिखें तो घबराओ मत! यह सिर्फ आपके शरीर में मौजूद चुंकदर के कारण होता है।

मतली और डायरिया की समस्‍या

मतली और डायरिया की समस्‍या
4/7

चुकंदर कुछ लोगों में मतली, पेट खराब और डायरिया का कारण बन सकता है। चुकंदर में मौजूद बीटेन नामक तत्‍व के कारण यह दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं।

किडनी की समस्या

किडनी की समस्या
5/7

किडनी की बीमारियों से पीड़ित लोगों को चुकंदर से बचना चाहिए क्योंकि चुकंदर में बीटेन होता है, जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ा देता हैं। किडनी की समस्याओं से ग्रस्‍त लोगों को जटिलताओं से बचने के लिए बीटेन लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। चुकंदर में ऑक्सालेट की अधिक मात्रा शरीर में किडनी की पथरी के गठन की संभावना को बढ़ा देता है। इसलिए अगर आपको परिवारिक इतिहास में किडनी की पत्‍थरी की समस्‍या है, तो चुकंदर की अधिक मात्रा लेने से बचना चाहिए क्‍योंकि यह स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक हो सकती है।

गर्भावस्था में इसके सेवन से बचें

गर्भावस्था में इसके सेवन से बचें
6/7

गर्भवती महिलाओं को भी चुकंदर खाने से परहेज करना चाहिए क्‍योंकि यह मां और बच्‍चे दोनों के स्‍वास्‍थ्‍य को प्रभावित करता है। मायो क्लिनिक के अनुसार इसको खाने से पेट में पल रहे बच्चे पर खतरनाक प्रभाव पड़ता है। इसके अलावा जो लोग लो ब्लड प्रेशर से जूझ रहे हैं उन्हें भी चुकंदर खाने से बचना चाहिए क्योंकि ये ब्लड प्रेशर को और कम कर देता है।

कैल्शियम के स्तर में कमी

कैल्शियम के स्तर में कमी
7/7

चुकंदर का रस शरीर में कैल्शियम के स्‍तर को कम करता है, जो कई बीमारियों को जन्‍म देता है। ऐसा चुकंदर का रस ज्‍यादा पीने के कारण होता है। यानी चुकंदर शरीर में कैल्शियम की मात्रा को भी कम कर देता है। इससे हड्डियों से जुड़ी कई समस्याएं घेर सकती हैं। इसलिए अगर आपको हड्डियों से जुड़ी समस्‍या है तो इसे लेने से पहले किसी अच्‍छे डॉक्‍टर से सलाह जरूर लें। Image Source : Getty

Disclaimer