मुंह के सूखेपन से परेशान लोग क्या करें और क्या नहीं? जानें

वैसे तो मुंह और गला सूखने की समस्या किसी भी मौसम में हो सकती है, लेकिन मुंह में लार बनने की प्रक्रिया कम हो जाने के कारण ड्राई माउथ यानि मुंह सुखने की समस्या होती है। अक्सर मुंह सूखने की समस्या आम है, जो लगभग हर तीसरे व्यक्ति में होती है। आइए जानते हैं कि ड्राई माउथ की समस्या से बचने के लिए क्‍या करे और क्या नहीं।

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Apr 25, 2019

मुंह सूखने की समस्या

मुंह सूखने की समस्या
1/7

वैसे तो मुंह और गला सूखने की समस्या किसी भी मौसम में हो सकती है, लेकिन मुंह में लार बनने की प्रक्रिया कम हो जाने के कारण ड्राई माउथ यानि मुंह सुखने की समस्या होती है। अक्सर मुंह सूखने की समस्या आम है, जो लगभग हर तीसरे व्यक्ति में होती है। लेकिन लोग इसे कम ही जान पाते हैं और इस बारे में जानने की कोशिश भी नहीं करते हैं। जबकि मुंह सूखने के कई कारण होते हैं जैसे— शरीर में पानी की कमी, अनियमित दिनचर्या, भूखे रहना, देर रात तक जागना, पोष्टिक खान—पान की कमी और एसिडिटी आदि के कारण मुंह में लार कम बनती है। अस्थमा रोगी जो नियमित पम्प लेते हैं, उन्हे यह समस्या ज्यादा होती है। लार मुंह से भोजन और बैक्टीरिया को साफ करती है और पाचन प्रक्रिया में भी सहायक रूप से कार्य करती है। आइए जानते हैं कि ड्राई माउथ की समस्या से बचने के लिए क्‍या करे और क्या नहीं।    

खूब पानी पिएं

खूब पानी पिएं
2/7

पानी की कमी से मुंह में सुखापन या ड्राई माउथ होना एक सामान्य कारण है। इसलिए डाक्टर भी प्रतिदिन 2 लीटर पानी पीने का सुझाव देते हैं। भरपूर पानी पीने से और भी कई बीमारियां से बचाव किया जा सकता है। पानी सेहत के लिए वरदान है, पर्याप्त पानी पीने से सेहत ही नहीं त्वचा और बालों को भी फायदा मिलता है।

कैफीनयुक्त पेय से बचें

कैफीनयुक्त पेय से बचें
3/7

क्या आपने कभी ऐसा देखा है, कि चाय या कॉफी पीने के बाद आप दिन में अधिक देर तक प्यासे रह सकते हैं? मुंह के सूखेपन के पीछे का एक कारण कैफीनयुक्त पेय पदार्थों का अधिक सेवन करना भी है। क्योंकि कैफीन मत्रवर्धक है जो द्रव के नुकसान का कारण बनता है। कॉफी या चाय थकान तो कम करते हैं लेकिन ड्राईमाउथ की समस्या को और अधिक बढ़ाते हैं।

खट्टा खाएं

खट्टा खाएं
4/7

खट्टा भोजन लार ग्रंथियों को उत्तेजित करता है। जैसे— यदि आप एक गिलास में एक या आधा नींबू निचोड़ कर नींबू पानी पीते हैं, तो यह मुंह को ड्राई होने से बचाता है। मुंह के सूखेपन के लिए यह सही समाधान है। लेकिन इससे सावधान रहें, सीमित मात्रा में ही नींबू पानी लें, क्योंकि नींबू से निकलने वाला एसिड आपके दांतों के इनेमल को नुकसान पहुंचा सकता है।  

तंबाकू व धूम्रपान से बचें

तंबाकू व धूम्रपान से बचें
5/7

मुंह के सूखेपन की यह वजह आम है। तम्बाकू लार उत्पादन को कम कर सकता है। खासकर तब, जब कि आप उस समय में दवा भी लेते हैं। इसके अलावा, सिगरेट से टार आपकी लार ग्रंथियों को परेशान कर अवरूद्ध पहुंचाता है।

शुगर—फ्री कैंडी का उपयोग

शुगर—फ्री कैंडी का उपयोग
6/7

शुगर—फ्री कैंडी चूसने से मुंह के सूखेपन में फायदा मिलता हैफ। यह आपको कुछ समय के लिए राहत देगा। शुगर—फ्री कैंडी सामान्य कैंडी से बेहतर है, क्योंकि सामानय कैंडी कैविटी का कारण बनती हैं।  

होंठों व दातों की देखभाल

होंठों व दातों की देखभाल
7/7

आप अपने होंठों को सूखने से बचाएं। अपने होठों के लिए हमेशा हाइड्रेटिंग बाम या लिपस्टिक का प्रयोग करें।  सूखे होंठ xerostomia यानि मुंह सूखने के रोग का कारण बनते हैं। इसके अलावा आप अपने दांतों की भी देखभाल करें। इसके अलावा,अपने दांतों को दिन में कम से कम दो बार ब्रश करें। शुगर—फ्री कैंडी व गम चबाएं, और नियमित रूप से अपने दांतों का ध्यान रखें।

Disclaimer