ये बुरी आदतें रिश्ते से प्यार को कर देती हैं दूर

जब कोई इंसान किसी से प्यार करता है तो वो निश्च‍िंतता की भावना महसूस करने लगता है। और कई बार इसी निश्च‍िंतता की भावना के चलते वो रिश्ते से जुड़ी चीज़ों को बहुत हल्के में लेने लगता है।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: Nov 13, 2015

रिश्ते से प्यार दूर कर देती हैं ये आदतें

रिश्ते से प्यार दूर कर देती हैं ये आदतें
1/5

जब कोई इंसान किसी से प्यार करता है तो वो निश्च‍िंतता की भावना महसूस करने लगता है। और कई बार इसी निश्च‍िंतता की भावना के चलते वो रिश्ते से जुड़ी चीज़ों को बहुत हल्के में लेने लगता है। ऐसा अकसर दोनों की ही तरफ से होता है। लेकिन इस आदत के चलते पर कई बार चीजें बजाय विपरीत होना शुरू हो जाती हैं। तो चलिये जानें कौंन सी हैं वे बुरी आदतें जो रिश्ते से प्यार को दूर कर देती हैं।

रोजमर्रा की आदतों में बदलाव होना

रोजमर्रा की आदतों में बदलाव होना
2/5

अगर साथी पहले की तुलना में कुछ बदला-बदला सा नज़र आता है तो ये खतरे का संकेत हो सकता है। मसलन अगर वह पहले की तरह दिन में आपको नियमित रूप से फोन या मेसेज करना छोड़ देता है और आपकी सुबह से रात तक कोई खोज-खबर नहीं लेता या लेती है तो यकीनन उसकी रुची आप में कम होने लगी है और ये रिश्ते से प्यार के दूर होने की शुरुआत हो सकती है।

जलन की भावना होना

 जलन की भावना होना
3/5

प्यार भरे रिश्ते में थोड़ी-बहुत जलन होना सामान्य बात है और इससे कोई हानि भी नहीं है। बल्कि थोड़ी जलन से रिश्ता और स्पाइसी बनता है लेकिन यदि ये ज्यादा हो जाए तो रिश्ते की कोमलता को रोंद देता है। तो यदि आपका हर छोटी-बड़ी बात पर जलने लगता है तो ये आपके रिश्ते के लिए अच्छी बात नहीं है।

जब अधूरे होने लगें स्पर्श

जब अधूरे होने लगें स्पर्श
4/5

साधारण बातचीत, कुछ खास मौकों या फिर अंतरंग पलों में यदि आपकी/आपका साथी आपको स्पर्श करने में अब असहज सा महसूस सकता है, या आपसे दूर जाने की कोशिश करता है तो संभवतः रिश्ते में अब वो पुरानी बात नहीं रही।

असुरक्षा की भावना होने लगना

  असुरक्षा की भावना होने लगना
5/5

प्यार का इज़हार करना और खास पलों में ये व्यक्त करना कि आप अपने साथी से कितना प्यार करते हैं, पूरी तरह से लाज़मी है लेकिन ऐसे साथी सबसे खतरनाक साबित होते हैं जिन्हें ये बार-बार यकीन दिलाने की जरूरत पड़ती है कि आप उनसे बेहद प्यार करते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि आप चाहें जो लें लेकिन असुरक्षा की भावना से ग्रस्थ इंसान को प्यार का यकीन दिला पाना नामुमकिन है।

Disclaimer