2017 में इन डेटिंग ट्रेंड को कहें अलविदा

डेटिंग के कई ट्रेंड ऐसे हैं जिनको नये साल में अलविदा कहना जरूरी है, इन ट्रेंड के बारे में जानने के लिए इस स्लाइडशो को पढ़ें।

Devendra Tiwari
Written by: Devendra Tiwari Published at: Feb 01, 2017

डेटिंग संबंधित टिप्स

डेटिंग संबंधित टिप्स
1/6

बदलते समय के साथ जीवनशैली और व्यवहार भी बदल रहा है। जो चीजें नई थीं धीरे-धीरे पुरानी होने लगीं, इसका सबसे अधिक असर रिश्तों पर दिखने लगा। पहले प्यार-मोहब्बत की बातें किताबों में ज्यादा होती थीं, फिर खुलेआम होने लगीं। वर्तमान में प्यार बाद में होता है लोग डेटिंग करना पहले शुरू करते हैं। यानी जिसे आप डेट कर रहे हैं जरूरी नहीं उसे आप प्यार करते हैं। डेटिंग एक-दूसरे के करीब आने और अच्छे से जानने का तरीका है। डेटिंग के कुछ ट्रेंड ऐसे हैं जिनको नये साल में अलविदा कहना ही बेहतर है। इनके बारे में इस स्लाइडशो में जानें।

घोस्टिंग (Ghosting)

घोस्टिंग (Ghosting)
2/6

डेटिंग के दौरान अचानक बिना बताये जब आप किसी को छोड़ देते हैं तब यह शब्द प्रयोग होता है। यह स्थिति दिल तोड़ने वाली और तनाव में डालने वाली हो सकती है, क्योंकि जिसे आपने कई दिनों तक डेट किया है अचानक उसकी जिंदगी से गायब हो जायें तो क्या  होगा। अगर आपको ब्रेक-अप करना है तो उसका वाजिब कारण बतायें और फिर साथ छोड़ें। अगर आप साथ नहीं रहना चाहते हैं तो दोनों के बीच की स्थिति को साफ शब्दों में कहें और फिर ब्रेक-अप कर लें।

बेंचिंग (Benching)

बेंचिंग (Benching)
3/6

डेटिंग में प्रयोग किये जाने वाले इस शब्द से ज्यादातर लोग अनजान होंगे। लेकिन क्या आपको पता है डेटिंग का यह ट्रेंड घोस्टिंग से अधिक घातक है। बेंचिंग ऐसा ट्रेंड है जिसमें इंसान किसी न किसी तरीके से संपर्क बनाये रखने की कोशिश करता है। जबकि घोस्टिंग में यह पता चल जाता है कि इंसान आपकी जिंदगी से जा चुका है। जबकि बेंचिंग में वह आपकी भावनाओं से खेलता है और एक विकल्प  खुला छोड़ता है। इसलिए इस साल डेटिंग के इस ट्रेंड को अलविदा कहना जरूरी है।

हूवरिंग (Hoovering)

हूवरिंग (Hoovering)
4/6

यह एक तरह के जाल की तरह होता है, जिसमें इंसान आगे नहीं बढ़ पाता और एक्स पार्टनर के साथ उहापोह की स्थिति में रहता है। हूवरिंग ऐसा ट्रेंड है जिसमें एक्स आपको छोड़ता नहीं, अपनी चिकनी-चुपड़ी बातों से रिझाये रहता है। जबकि वास्तविकता कुछ और ही होता है। यह एक तरह की मीठी छुरी की तरह है। ऐसी स्थिति में किसी को रखना सही नहीं है, जो भी हो उसे साफ करना ही उचित है। इस साल इस ट्रेंड को अलविदा जरूर कहें।

सिचुएशनशिप (Situationships)

सिचुएशनशिप (Situationships)
5/6

आजकल यह ट्रेंड शायद सबसे अधिक प्रचलित है। इस स्थिति में आप एक कपल की तरह रहते हैं, बातें करते हैं, एक-दूसरे से कपल जैसा व्यवहार करते हैं। जबकि वास्तविक यह नहीं होता है, इस स्थिति में रहकर न तो आप कपल बन बाते हैं और न ही दोस्त रह पाते हैं। इस स्थिति से बाहर निकलने की जरूरत है, किसी को उहापोह में न रखें। या तो इसे स्वीकार करें या फिर मना कर दें। सिचुएशनशिप से बाहर निकलें।

कई विकल्प हैं

कई विकल्प हैं
6/6

रिलेशनशिप पवित्र होता है, इसे शब्दों  के मायाजाल में न उलझायें, जो भी करें सच्चे मन से करें और निस्वार्थ भाव से इसे निभायें भी। अगर आप अभी तक सिंगल हैं तो कई सारे विकल्पर खुले हैं। इंटरनेट की इस दुनिया में आपका पार्टनर बस एक क्लिक आपसे दूर है। क्या। पता आपको ऐसा साथी मिल जाये जो जीवनभर साथ निभाये। हालांकि इस दुनिया में कोई भी परफेक्ट नहीं होता, इसलिए हमेशा एक विकल्प खुला रखें और जीवन के हर पल को खुश रहकर जियें। Image Source: shutterstock

Disclaimer