World Malaria Day: मलेरिया के साथ इन 5 रोगों को इलाज में मददगार है इमली की पत्तियां, जानें क्‍याेें

इमली एक ऐसा पौधा है जिसके कई स्‍वस्‍थ्‍य लाभ हैं। इमली के गूदे, पत्तियां और छाल से कई फायदे पा सकते हैं। आमतौर पर भारतीय व्यंजनों में इमली का उपयोग खट्टा स्वाद प्रदान करने के लिए किया जाता है। हलांकि हम आपको इमली की पत्तियों के के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं। तो आइये जानते हैं इसके लाभों के बारे में

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Nov 07, 2017

डायबिटीज

डायबिटीज
1/5

इमली की पत्तियों का सेवन करने से शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है और इंसुलिन संवेदनशीलता भी बढ़ जाती है। इससे शुगर की बीमारी (मधुमेह) में राहत मिलती है। यह पीलिया को ठीक करने में भी मदद करती है।

मलेरिया

मलेरिया
2/5

मलेरिया मादा एनोफ़ेलीज़ मच्छर के कारण होता है। एक शोध के मुताबिक, इमली की पत्तियों का अर्क प्लास्मिडियम फाल्सीपेरम के विकास को रोकता है, जो मच्छर द्वारा किया जाता है और मलेरिया का कारण बनता है।

स्‍कर्वी रोग

स्‍कर्वी रोग
3/5

स्कर्वी विटामिन सी की कमी के कारण होता है। यह नाविक की बीमारी के रूप में भी जाना जाता है, आमतौर पर स्कर्वी मसूड़ों और नाखूनों, थकान आदि जैसे लक्षणों के साथ होता है। इमली के पत्तों में उच्च एस्कॉर्बिक एसिड सामग्री होती है, जो एंटी-स्कर्वी विटामिन के रूप में कार्य करती है।

घाव ठीक करे

घाव ठीक करे
4/5

इमली के पत्तों में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। जब इमली के पत्तों का रस निकाला जाता है और घावों पर लगाया जाता है, तो वे घाव को तेजी से ठीक करते हैं। इसके पत्तों का रस किसी भी अन्य संक्रमण और परजीवी विकास को रोकता है। इसके अलावा यह नई कोशिकाओं का निर्माण भी तेजी से करता है।

अल्‍सर दूर करे

अल्‍सर दूर करे
5/5

अल्सर में बहुत असहनीय दर्द हो सकता है। इमली के पत्तों का रस अल्सर को ठीक करने और लक्षणों से राहत देने के लिए उपयोग किया जा सकता है।

Disclaimer