सेमल है इन रोगों के इलाज में अद्भुत और अचूक

सेमल के बारे में लोगो को कम जानकारी होती है। इससे तकिये में भरी जाने वाली रूई निकलती है। इसके पेड़ की छाल आदि से कई तरह की बीमारियों का इलाज होता है। इसके नये पौधे की जड़ को मुसली भी कहते हैं इस बारे में विस्तार से जानने के लिए ये स्लाइडशो पढ़ें।

Aditi Singh
Written by: Aditi Singh Published at: Oct 06, 2016

पेट संबंधी रोग

पेट संबंधी  रोग
1/5

सेमल से पेट संबंधी कई तरह के रोगो में आराम मिलता है। इसके पत्तों के डंठल का ठंडा काढ़ा दिन में तीन बार पीने से पेट की की समस्या दूर हो जाती है। पेशिच की शिकायत होने पर इसके फूल की ऊपरी परत को रातभर भिगोकर सुबह उसमें मिश्री मिलाकर पीयें, आराम मिल जाएगा। दस्त और पेचिश के अलावा इसके फूलों की सब्जी कोलाइटिस की समस्या में भी आराम देती है।Image Source@getty

डायरिया का इलाज

डायरिया का इलाज
2/5

सेमल की छाल से डायरिया को दूर किया जा सकता है। इसकी छाल को मोचरस कहते हैं।  इसकी छाल को पीसकर महीन पाउडर निकल लें। फिर उसे आधा-आधा चम्मच दही या मट्ठा के साथ लेने पर लाभ मिलेगा। इसके नियमित प्रयोग से डायरिया जल्दी ठीक हो जाता है।Image Source@getty

यौन दुर्बलता

यौन दुर्बलता
3/5

यौन दुर्बलता में भी सेमल की जड़ लाभाकारी होती है। पुराने सेमल की जड़ का रस निकालकर व इसका काढ़ा बना लें तथा इसके अंदर चीनी मिला लें। इस मिश्रण को 7 दिनों तक लगातार पीने से वीर्य की बहुत ही अधिक बढ़ोत्तरी होती है। ये नपुंसकता को भी खत्म करने में मदद करता है।Image Source@getty इसे भी पढ़े: इन तरीकों से बढ़ा सकते है यौन शक्ति

महिलाओं के लिए फायदेमंद

महिलाओं के लिए फायदेमंद
4/5

सेमल का सेवन महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद होता है। इससे उनकी शारीरिक कमजोरी दूर होती है। स्तन में दूध की कमी होने पर इसकी जड़ों को पीसकर पीयें। ये स्तनों में कसाव लाने के लिए भी मददगार होता है। स्तनों में कसाव लाने के लिए इसके कांटो पर बनने वाली गांठों को घिसकर लगायें 10-15 दिन में ही स्तन में कसाव आना शुरू हो जाएगा।Image Source@getty

आंखों के नीचे का कालापन

आंखों के नीचे का कालापन
5/5

स्वास्थ्य के साथ-साथ सेमल का प्रयोग सौंदर्य के लिए होता है। इसके प्रयोग से आंखों के नीचे का कालापन दूर किया जा सकता है। इसके कांटों के पाउडर को दूध में मिलाकर आंखों के नीचे काले घेरों पर लगाएं। थोड़ी देर छोड़ने के बाद इसे साफ पानी से धो दें। ऐसा एक हफ्ते तक करें, असर दिखने लगेगा। Image Source@getty

Disclaimer