5 यूपीएससी टॉपर के अनुभवों से जानें कैसे बनें सफल

मेहनत और लगन से कोई काम किया जाये तो सफलता हाथ जरूर लगती है, यही कहानी देश के सबसे कठिन कही जाने वाली परीक्षा यानी सिविल सर्विसेज पर भी लागू होती है, इस स्‍लाइडशो में हम आपको पिछले पांच सालों के टॉपर के सफलता के सूत्र के बारे में बता रहे हैं।

Gayatree Verma
Written by: Gayatree Verma Published at: May 13, 2016

यूपीएससी टॉप करने का फार्मूला

यूपीएससी टॉप करने का फार्मूला
1/6

देश की सबसे कठिन परीक्षा टॉप करने का मतलब है इंसान जरूर पढ़ने में बहुत तेज होगा। जब दसवीं औऱ बारवीं की परीक्षा टॉप करना मुश्किल होता है तो देश की सबसे कठिन परीक्षा को टॉप करना अपने आप में एक हैरान कर देने वाला काम है। लेकिन अगर आईएएस को टॉप करने वालों की लिस्‍ट देखें तो ऐसा लगता है यह उनके बायें हाथ का खेल है। ऐसा इन टॉपर्स में क्या होता है जो उन्हें दूसरों से अलग बना देता है। आइए इन आइएस टॉपर्स की जुबानी ही जानते हैं उन खासियतों के बारे में जो उन्हें बना देती हैं दूसरों से अलग।

यूपीएससी - 2015 टॉपर, टीना डाबी

यूपीएससी - 2015 टॉपर, टीना डाबी
2/6

टीना डाबी एक दलित छात्रा हैं और ये देश की पहली दलित छात्रा हैं जिन्होंने यूपीएससी का एग्‍जाम टॉप किया है। साथ ही ये यूपीएससी के इतिहास में ऐसी पहली छात्रा हैं जिन्होंने पहले ही प्रयास में ना केवल सफलता पायी अपितु पूरे देश में टॉप भी कर लिया। आईएएस की तैयारी के जवाब में टीना डाबी कहती हैं, धैर्य, कड़ी मेहनत, अनुशासित रहना व हिम्मत ना हारना और खुद पर भरोसा रखना ही हर तरह की परीक्षा को पास करने का जरूरी मंत्र है। टीना को बचपन से ही पढ़ना पसंद है और इन्होंने यूपीएससी के एग्‍जाम के लिए रोजाना 10-12 घंटे की पढ़ाई का ही। मतलब बिना कड़ी मेहनत और अनुशासन के कुछ भी मुमकिन नहीं।

यूपीएससी - 2014 टॉपर, इरा सिंघल

यूपीएससी - 2014 टॉपर, इरा सिंघल
3/6

2014 की यूपीएससी टॉपर रही इरा सिंघल देश की पहली विकलांग छात्रा थी जिन्होंने यूपीएससी का एक्जाम टॉप किया था। यूपीएससी की परीक्षा में सफल होने का ता का मंत्र देते हुए इरा कहत हैं कि परीक्षा की तैयारी बिना किसी उम्मीद के करें। पूरे सिलेबस की तैयारी करें और अपना बेस्ट दें। जिससे कि परीक्षा में कोई भी सवाल आपको नया और बिना पढ़ा हुआ ना लगे। इरा को नॉवेल पढ़ने का शौक है और उनके पास 750 नॉवेल का कलेक्शन है। उनका ये नॉवेल पढ़ना उनकी परीक्षा की तैयारी में उन्हें काफी मददगार साबित हुआ। अंत में इरा कुछ शब्दों को और जोड़ते हुए कहती है की खुद की कमियों और ताकत के बारे में जानना और उन्हें दूर कर, उनके अनुसार तैयारी करना हर तरह की सफलता का सबसे बड़ा मंत्र है।

यूपीएससी - 2013 टॉपर, गौरव अग्रवाल

यूपीएससी - 2013 टॉपर, गौरव अग्रवाल
4/6

2013 के यूपीएससी टॉपर गौरव अग्रवाल कहते हैं कि गलतियों से सीखकर आगे बढ़ना कामयाबी का सबसे बड़ा राज है। अगर पहले प्रयास में सफलता नहीं मिलती है तो कोई बात नहीं फिर से तैयारी करें। केवल दूसरी तैयारी के दौरान गलतियों को ना दोहराने की कोशिश करें। इस परीक्षा की तैयारी में एकाग्रता बहुत जरूरी है। एकाग्रता को भंग होने से बचाने के लिए गौरव खुद पर विश्वास करने की ताकत का मंत्र देते हैं। साथ ही इंटरनेट की ताकत को भी मानते हैं औऱ कहते हैं कि, जितना हो सके इंटरनेट से फायदा उठा लें।

यूपीएससी - 2012 टॉपर, हरिथा कुमार

यूपीएससी - 2012 टॉपर, हरिथा कुमार
5/6

2012 की यूपीएससी टॉपर रही हरिथा कुमार का यह चौथा प्रयास था। और अपना ही उदाहरण देते हुए हरिथा कुमार कहती हैं कि असफलता मिलने के बावजूद भी कभी भी हिम्मत नहीं हारनी चाहिए। वह कहती हैं कि यूपीएससी देश की सबसे कठिन परीक्षा है तो इसकी टाइम मैनेजमेंट भी काफी कड़ा और कठिन रखें। टाइम मैनेजमेंट इस परीक्षा की तैयारी के लिए बहुत जरूरी है। हरिथा को मलयालम और अंग्रेजी की किताबे पढ़ने का शौक है। वे कहती हैं कि जब आप किसी चीज के लिए कड़ी मेहनत करती हैं तो आपको साफल होने से कायनात भी नहीं रोक पाती।

यूपीएससी - 2011 टॉपर, शेना अग्रवाल

यूपीएससी - 2011 टॉपर, शेना अग्रवाल
6/6

2011 की यूपीएससी टॉपर शेना अग्रवाल कहती हैं कि इस परीक्षा की तैयारी करने के लिए एकाग्रता बहुत जरूरी है इसलिए इसकी तैयारी करने वाले हर अभ्यर्थी को एकांत में रहना चाहिए। वे कहती हैं उन्होंने अपने पिछले सालों की गलतियों से सबक लिया और आईएएस बनने का सपना पूरा किया। इन टॉपर्स की बातों में एख चीज कॉमन थी, औऱ वो थी इनकी कड़ी मेहनत। इन टॉपर्स के अनुभव से ये साफ जाहिर होता है कि आप अगर धैर्य से अपने पूरे टाइम मैनेजमेंट के साथ पढ़ाई करते हैं तो आपको सफलता जरूर मिलेगी।

Disclaimer