अपने लिए बेहतर योग स्‍टाइल का चुनाव कैसे करें

अष्टांग योग, हठयोग, बिक्रम योग, आयंगर योग आदि योग के प्रकार है, लेकिन सभी के लिए अलग-अलग योग के स्‍टाइल होते हैं, इस स्‍लाइडशो में हम आपको बता रहे हैं कि आपके लिए योग का कौन सा स्‍टाइल बेहतर है।

Aditi Singh
Written by:Aditi Singh Published at: Oct 16, 2015

अपने अनुसार चुने योग

अपने अनुसार चुने योग
1/5

योगा करना सेहत के लिए लाभकारी होता है। पर योग कई तरह के होत है जैसे अष्टांग योग, हठयोग, बिक्रम योग, आयंगर योग आदि। इसमें से कौन सा योगासन आपके लिए है, ये आपको तय करना होगा। अपनी शारीरिक और मेडिकल हिस्ट्री के अनुसार आवश्यक योगासन का अभ्यास करें। इस स्लाइडशो में हम कुछ योगासनों के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।Image Source-Getty

अष्टांग योग

अष्टांग योग
2/5

अष्टांग योग को चुनौतीभरे योग की श्रेणी में रखा जाता है। इस योग को 8 भागों यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान,समाधि में बांट दिया गया है। इस प्रक्रिया में आप सांस लेने की खास तकनीकि ये मन और शरीर को नियत्रिंत करते है। Fस आसन में जमीन का स्पर्श करने वाले अंग चिन, चेस्‍ट, दोनों हाथ, दोनों घुटने और दोनों पैर हैं। इस आसन को करते वक्त इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि पेट से शरीर का स्पर्श बिलकुल ही न होने पाए।Image Source-Getty

बिक्रम योग

बिक्रम योग
3/5

इस योगा को भी चुनौतीपूर्ण योग की श्रेणी में रखते है। तकरीबन 100 डिग्री ये ज्यादा के तापमान के कमरे में 26 योग आसनों की सीरीज को किया जाता है। इसे हॉट योगा के नाम से जानते है। इस योग को करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेलें। हाइपरटेंशन और मधुमेह के रोगियों को इससे परेशानी हो सकती है।  Image Source-Getty

हठयोग

हठयोग
4/5

हठयोग जेंटल योग की श्रेणी में आता है। हठयोग के आसन मन एवं शरीर के सूक्ष्म संबंध के पूर्ण ज्ञान पर आधारित एक अद्धभुत मनोशारीरिक व्यायाम प्रणाली है। अन्य सभी उच्च योग जैसे- कर्मयोग, भक्तियोग और ज्ञानयोग की सिद्धि के लिए हठयोग एक साधन है। Image Source-Getty

पावर योग

पावर योग
5/5

इसे भारतीय योग के प्रमुख आसन सूर्य नमस्कार के 12 स्टे‍प्स  और कुछ अन्य आसनों को मिलाकर बनाया गया है। पावर योग मुख्यि रूप से अष्टांग योगा पर निर्भर करता है। लेकिन यह साधारण योगा से थोड़ा अलग है। यह योगा का एथलेटिक स्टाइल है, जिसमें सांसों की गति और अध्यात्म से ज्यादा शक्ति और लचीलेपन पर जोर रहता है। Image Source-Getty

Disclaimer