नाइट विजन को बढ़ाने के लिए खायें ये आहार

मध्यम प्रकाश में ठीक से ना देख पाने को नाइट विजन की समस्या कहते हैं, लेकिन क्‍या आप जानते हैं कुछ आहारों का सेवन करने से रात में देखने की क्षमता बढ़ती है, विस्‍तार से जानने के लिए इस स्‍लाइडशो को पढ़ें।

Aditi Singh
Written by: Aditi Singh Published at: Dec 08, 2017

हरी पत्तेदार सब्जियां व फल

हरी पत्तेदार सब्जियां व फल
1/5

आंखें इस दुनिया की सबसे कीमती चीज होती है, इसलिए इसकी सेहत का ध्‍यान रखना बहुत जरूरी है। आंखों के लिए विटामिन ए सबसे महत्वपूर्ण विटामिन होता है, इसकी कमी से नाइट ब्लांइडनेस की शिकायत हो सकती है। वसा में घुलनशील विटामिन ए की जरूरत सबसे अधिक रे‍टीना को होती है। हरी और पत्‍तेदार सब्जियों में विटामिन ए यह सबसे अधिक पाया जाता है। हरी सब्जियों में मौजूद केरोटिन तत्‍व विटामिन ए में बदल जाता है। इसलिए पालक, पुदीना, मेथी, बथुआ, सेमी बींस, आदि का सेवन करें। विटामिन सी के सेवन से आंखों की रोशनी बढती है। अमरूद, संतरे, अनानास, तरबूज और अंगूर में विटामिन ए और सी पर्याप्‍त मात्रा में मौजूद होता है।

ड्राईफ्रूट

ड्राईफ्रूट
2/5

आंखों की रोशनी को बढ़ाने के लिए ड्राईफ्रूट्स का सेवन करना भी लाभदायक होता है। ड्राईफ्रूट्स किंग किशमिश में विटामिन ए, ए-बीटा कैरोटीन और ए-कैरोटीनॉइड से भरपूर होता है, जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक होता है। इसमे मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट आंखों को फ्री रैडिकल्स से लड़ने में मदद करता है। रोजाना किशमिश खाने से आंखों की कमजोरी, मसल्स डैमेज, मोतियाबिंद आदि नहीं होता। सूखी खुबानी में  विटामिन ए, बी कॉम्लेक्स और सी की प्रचुरता होती है जो आंखों के लिए फायदेमंद है।

जिंक फूड

जिंक फूड
3/5

जिंक आपकी आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है। जिंक, विटामिन ए के लिए रेटिना की मदद करता है। बिना जिंक के आंखों को जरूरत के अनुसार पर्याप्त विटामिन नहीं मिला, और परिणामस्वरूप आपकी नजरें कमजोर होने लगती है। मुंगफली, दही, डार्क चॉकलेट, तिल व कोको पाउडर आदि में जिंक भरपूर मात्रा में पाया जाता है। देखने की क्षमता उम्र भर एक सी बनी रहे। इसके लिए प्याज व लहसुन को अपने खाने में शामिल करना चाहिए। ऐसे ही किसी व्यक्ति को मोतियाबिंद की समस्या हो तो उसे सेलेनियम से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए।

अंडा व मछली

अंडा व मछली
4/5

आंखों के लिए अंडा काफी लाभदायक होता है। कैरोटिनायड्स का निर्माण करने वाले ल्यूटिन व जीजेंथिन नामक तत्व किसी अन्य पदार्थ की अपेक्षा अंडे में प्रचुरता में पाए जाते हैं। रोज एक अंडा खाने से केरोटिनाइड्स की कमी के कारण आंखों के सेल्स में होने वाला क्षरण रोका जा सकता है।आंखों के लिए अंडा काफी लाभदायक होता है। रोज एक अंडा खाने से केरोटिनाइड्स की कमी के कारण आंखों के सेल्स में होने वाला क्षरण रोका जा सकता है। मछली में ओमेगा 3 भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो आंखों की रोशनी के लिए लाभदायक होता है।

बादाम वाला दूध

बादाम वाला दूध
5/5

हफ्ते में 3 बार बादाम वाला दूध पीएं। इसमें विटामिन ई होता है जो आंखों के विकार दूर करने में फायदेमंद होता है। विटामिन ई जैसे ऐंटीऑक्सिडेंट्स आंखों के लेंस को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाते है। सभी प्रकार के खाने वाले तेलों में गिरीदार फलों तथा बीजों में विटामिन ई पाया जाता है। इनके सेवन से आंखें बहुत अच्‍छी रहती हैं। इनके सेवन की आदत डाल लें और अपनी दैनिक खुराक में इन्‍हे शामिल कर लें।

Disclaimer