मधुमेह रोगियों के लिए सर्वश्रेष्ठ आहार योजना

मधुमेह से पी‍ड़‍ित लोग स्‍वस्‍थ खान-पान और जीवन भर हेल्‍दी डाइट योजना पर अमल कर ब्‍लड शुगर के स्‍तर को नियंत्रित कर सकते हैं

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Apr 17, 2014

सर्वश्रेष्ठ मधुमेह आहार योजना

सर्वश्रेष्ठ मधुमेह आहार योजना
1/13

मधुमेह को रोकने और नियंत्रित करने के लिए कदम उठाते हुए अभाव का कष्‍ट सहने की जरूरत नहीं है। न ही आपको मिठाई को पूरी तरह छोड़ने की जरूरत है। बल्कि जीवन भर हेल्‍दी डाइट लेना महत्‍वपूर्ण है। फाइबर से उच्‍च और शुगर और फैट में कम और दिल के लिए स्‍वस्थ आहार मधुमेह प्रबंधन के लिए महत्वपूर्ण होता है। मधुमेह से पी‍ड़‍ित लोग स्‍वस्‍थ खान-पान और दैनिक आहार योजना बनाकर ब्‍लड शुगर के स्‍तर को नियंत्रित कर सकते हैं।

मधुमेह नियंत्रण के सुझाव

मधुमेह नियंत्रण के सुझाव
2/13

मधुमेह को नियंत्रण करने के लिए आपको कुछ उपायों पर अमल करना होगा। इसके लिए आपको अपने आहार को छोटे भागों में विभाजित करना होगा। नियमित रूप से अपने सभी आहार को लेने कोशिश करें। इसके अलावा अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट, मिनरल और फाइबर से परिपूर्ण खाने की कई आइटम को जोड़ने का प्रयास करें।

मधुमेह रोगियों के लिए आहार योजना

मधुमेह रोगियों के लिए आहार योजना
3/13

सुबह जल्दी : 6-7 बादाम / 1-2 अखरोट। नाश्ते में आइटम : 1 कटोरी ओट्स/ दूध/ 2 अंडे के स्लाइस/मल्‍टीग्रेन ब्रेड/सब्जियां/दही/टोस्ट। सुबह का नाश्ता : आप पपीता, नारियल और छाछ आदि सहित मौसमी फल जोड़ सकते हैं। दोपहर के भोजन के मेनू: सलाद, सब्जियां, दाल, चपाती, दही, चावल, पनीर चिकन आदि। शाम का नाश्ता : फल और स्‍नैक्‍स जैसे ढोकला, इडली, भुना हुआ नमकीन और मुरमुरा आदि। रात के खाने से पहले : मिक्स्ट सब्जियों का सूप।रात का भोजन: चपाती, सब्जी, दाल/चिकन, हरा सलाद।

मिथक : मधुमेह होने पर चीनी बिल्‍कुल नहीं लेनी है

मिथक : मधुमेह होने पर चीनी बिल्‍कुल नहीं लेनी है
4/13

तथ्य: मधुमेह होने पर चीनी को बिल्‍कुल नहीं लेना यह हम सभी के दिमाग में बैठा हुआ है। लेकिन अच्‍छी खबर यह है कि स्‍वस्‍थ आहार योजना को ठीक से लागू करने पर आप अपने पसंदीदा खाद्य पदार्थों का आनंद ले सकते हैं। मिठाई को सीमा से दूर रखने की जरूरत नहीं है जब तक यह एक स्वस्थ भोजन योजना का हिस्सा है या व्‍यायाम के साथ जुड़ा हुआ है।

मिथक : हाई प्रोटीन आहार सबसे अच्छा होता है

मिथक : हाई प्रोटीन आहार सबसे अच्छा होता है
5/13

तथ्य: अध्ययन से पता चला है कि बहुत ज्यादा प्रोटीन, विशेष रूप से पशु प्रोटीन, खाना इंसुलिन प्रतिरोध का कारण बन सकता है। जो वास्‍तव में मधुमेह का एक महत्वपूर्ण कारक है। संतुलित आहार एक कुंजी है। एक स्‍वस्‍थ आहार में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसा शामिल होता है। हमारे शरीर को ठीक ढ़ंग से काम करने के लिए तीनों की जरूरत होती है।

मिथक : कार्बोहाइड्रेट में कटौती करें।

मिथक : कार्बोहाइड्रेट में कटौती करें।
6/13

तथ्य: संतुलित आहार खाना सेहत की कुंजी होती है। सर्विंग का साइज और कार्बोहाइड्रेट का प्रकार विशेष रूप से महत्वपूर्ण होता हैं। इसलिए होलग्रेन कार्बोहाइड्रेट पर ध्‍यान दें क्‍योंकि यह फाइबर का अच्छा स्रोत होता हैं। आसानी से पच जाता है और रक्त में शुगर के स्तर को सही रखता है।

दूध का सेवन

दूध का सेवन
7/13

दूध कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन का सही संयोजन होता है और यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है।  दैनिक आहार में दूध के दो गिलास पीना एक अच्‍छा विकल्‍प है।

उच्‍च फाइबर सब्जियां

उच्‍च फाइबर सब्जियां
8/13

अपने आहार में उच्‍च फाइबर सब्जियां जैसे मटर, सेम, ब्रोकोली, पालक और हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल करें। इसके अलावा दालें भी एक स्वस्थ विकल्प हैं और इसे आपके आहार का हिस्सा होना चाहिए।

उच्‍च फाइबर फल

उच्‍च फाइबर फल
9/13

फाइबर से भरपूर फल जैसे पपीता, सेब, संतरा, नाशपाती और अमरूद का सेवन भी करना चाहिए। आम, केले और अंगूर में शुगर की उच्‍च मात्रा होने के कारण इन फलों को सेवन कम करना चाहिए।

कृत्रिम स्‍वीटनर का कम इस्‍तेमाल

कृत्रिम स्‍वीटनर का कम इस्‍तेमाल
10/13

कृत्रिम स्‍वीटनर मूल रूप से शुगर से मिलने वाली कैलोरी को कम करता है। इन गोलियों का सेवन एक दिन में 6 गोलियों से कम होना चाहिए क्‍योंकि ज्‍यादा लेने से इसके साइड इफेक्‍ट होने लगते है। हालांकि, संयम एक बेहतर तरीका से जीवित रहने के लिए महत्वपूर्ण होता है। मधुमेह नियंत्रित किया जा सकता है अगर डॉक्टर और रोगी संयोजन के साथ काम करें।

Disclaimer