कई बीमारियों को दूर करती है पीपल की जड़, जानें इसके 10 आयुर्वेदिक लाभ और प्रयोग का तरीका

पीपल एक औषध‍िय पेड़ है जिसकी जड़ों से कई बीमार‍ियों का इलाज क‍िया जाता है, आइए जानते हैं इसके बारे में

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Sep 28, 2021

कई बीमारियों को दूर करती है पीपल के पेड़ की जड़

कई बीमारियों को दूर करती है पीपल के पेड़ की जड़
1/11

(image source:wikipedia)  पीपल एक औषध‍िय पेड़ है ज‍िसकी जड़, पत्‍ते, छाल आद‍ि का प्रयोग बीमार‍ियों को दूर करने के ल‍िए कि‍या जाता है। पीपल की जड़ की बात करें तो इसके इस्‍तेमाल से अस्‍थमा, कब्‍ज की समस्‍या, स‍िर में दर्द, योन‍ि में दर्द आद‍ि समस्‍याएं दूर होती हैं। आप पीपल के पेड़ की जड़ का पाउडर बनाकर या चूर्ण बनाकर इस्‍तेमाल कर सकते हैं, आप पीपल की जड़ से काढ़ा भी बना सकते हैं। आगे हम जानेंगे पीपल की जड़ को अलग-अलग समस्‍याओं में इस्‍तेमाल करने का तरीका।

1. द‍िल की अन‍ियम‍ित धड़कन (irregular heart beat)

1. द‍िल की अन‍ियम‍ित धड़कन (irregular heart beat)
2/11

(image source:i.ytimg.com) द‍िल की अन‍ियम‍ित धड़कन को ठीक करने के ल‍िए आप इलायची को कूटकर चूर्ण बना लें और उसमें पीपल की जड़ का पाउडर म‍िलाकर गुनगुने पानी के साथ लें तो द‍िल की अन‍ियम‍ित धड़कन की समस्‍या दूर होगी।

2. स‍िर दर्द (headache)

2. स‍िर दर्द (headache)
3/11

(image source:theconversation) स‍िर में दर्द होने पर आप पीपल की जड़ का पाउडर बना लें, उसे नीलग‍िरी के तेल के साथ म‍िलाएं और उस लेप को स‍िर पर म‍लें तो सिर का दर्द ठीक हो जाएगा, माइग्रेन के दर्द में भी ये नुस्‍खा अपना सकते हैं। आप इसमें पीपल के पत्‍ते का रस भी म‍िला सकते हैं।

3. गले में दर्द (neck pain)

3. गले में दर्द (neck pain)
4/11

(image source:i.ytimg.com) सर्दी या जुकाम के कारण गले में दर्द होने पर आप इलायची दाने, काली म‍िर्च, तेजपत्‍ता और दालीचीनी के साथ पीपल की जड़ का पाउडर मिलाएं और चूर्ण बनाकर उसका सेवन करें तो गले का दर्द दूर होगा।

4. सीने में दर्द (chest pain)

4. सीने में दर्द (chest pain)
5/11

(image source:globalnews) सीने में दर्द उठ रहा है तो आप इलायची को पीस लें और उसमें पीपल की जड़ का पाउडर म‍िलाकर उसे देसी घी के साथ म‍िलाएं और चाटें तो सीने का दर्द दूर हो जाएगा। पीपल का काढ़ा पीना भी फायदेमंद होगा।

5. योन‍ि में दर्द (vaginal pain)

5. योन‍ि में दर्द (vaginal pain)
6/11

(image source:urologyaustin) योन‍ि में दर्द होता है तो आप पीपल की जड़ का पाउडर बना लें उसमें सेंधा नमक और काली म‍िर्च म‍िलाकर गुनगुने पानी के साथ लें तो दर्द दूर होगा। पीपल की जड़ के पाउडर का लेप भी आप योन‍ि के बाहरी ह‍िस्‍से में लगा सकते हैं।

6. प्रसव (delivery)

6. प्रसव (delivery)
7/11

(image source:wikipedia) प्रसव आसानी से हो जाए इसके ल‍िए आप पीपल की जड़ का चूर्ण रोजाना खा सकती हैं। आपको प‍िपल की जड़ का पाउडर बनाना है और उसे दालचीनी के साथ म‍िलाकर खाना है, इससे प्रसव के समय ज्‍यादा दर्द नहीं होगा।

7. कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ना (high cholesterol)

7. कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ना (high cholesterol)
8/11

(image source:wikipedia) कोलेस्‍ट्रॉल कंट्रोल करने के ल‍िए आप पीपल की जड़ का पाउडर का इस्‍तेमाल करें। पीपल की जड़ का पाउडर आप द‍िन में दो से तीन बार गुनगुने पानी के साथ लें तो हाई कोलेस्‍ट्रॉल की समस्‍या दूर होगी।

8. कब्‍ज (constipation)

8. कब्‍ज (constipation)
9/11

(image source:wikipedia)  अगर पेट में अपच या दर्द जैसे लक्षण नजर आ रहे हैं तो आप पीपल की जड़ का चूर्ण बना लें और उसमें सौंफ म‍िला दें फ‍िर इस म‍िश्रण को द‍िन में दो बार गुनगुने पानी के साथ लें तो कब्‍ज की समस्‍या दूर होगी।

9. गर्दन में गांठ (lump in neck)

9. गर्दन में गांठ (lump in neck)
10/11

(image source:pereaclinic) गले में गांठ की समस्‍या को दूर करना है तो आप पीपल की जड़ का पाउडर बना लें और उसमें शहद म‍िलाकर गले पर लगाएं तो गांठ ठीक हो जाएगी और आप इस म‍िश्रण का काढ़ा बनाकर भी पीएं तो लाभ होगा। आप काढ़े में हल्‍दी भी म‍िलाएं तो फायदेमंद होगा।

Disclaimer