जानें क्‍या हैं सेब के सिरके के साइड इफेक्‍ट

हालांकि सेब के सिरके के प्रयोग से मोटापे और डायबिटीज जैसी बीमारियों को नियंत्रित किया जाता है। लेकिन इसके अधिक इस्‍तेमाल से कई खतरनाक समस्यायें भी हो सकती हैं। इस स्लाइडशो में विस्तार से जानते हैं आखिर सेब का सिरका किस तरह से नुकसानदेह होता है।

Devendra Tiwari
Written by: Devendra Tiwari Published at: Jun 06, 2016

नुकसानदेह भी है सेब का सिरका

नुकसानदेह भी है सेब का सिरका
1/6

सेब का सिरका इसलिए लोकप्रिय है क्योंकि उसके कई स्वास्यवर्द्धक फायदे हैं। सेब के सिरके का प्रयोग टेबलेट और लिक्विड दानों तरह से किया जा सकता है। लेकिन डाइटीशियन की मानें तो कुछ मामलों में इसका सेवन शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। हालांकि इसका प्रयोग मोटापे और डायबिटीज जैसी बीमारियों को नियंत्रित करने के लिए भी किया जाता है। सेब का सिरका अगर अधिक प्रयोग किया जाये तो कई खतरनाक समस्यायें भी हो सकती हैं। इस स्लाइडशो में विस्तार से जानते हैं आखिर सेब का सिरका किस तरह से नुकसानदेह होता है।

ऊतकों पर असर

ऊतकों पर असर
2/6

यदि आपने एप्पार सिडर विनेगर यानी सेब के सिरके का अधिक प्रयोग किया तो इसमें मौजूद एसिड के कारण इसोफोगस, टूथ इनेमल और पेट की समस्यायें हो सकती हैं। अगर इसका प्रयोग सीधे त्वचा पर किया जाये इससे त्वचा में खुजली, जलन और रैशेज हो सकते हैं। इसलिए इसका प्रयोग सीधे तौर पर करने की बजाय पानी, शहद, जूस, बेकिंग सोडा आदि के साथ करने की सलाह दी जाती है।

पोटैशियम का स्तर कम करता है

पोटैशियम का स्तर कम करता है
3/6

सेब के सिरके में मौजूद एसिड के कारण यह शरीर में मौजूद खासकर ब्लड में मौजूद पोटैशियम के स्तर को कम करता है। इसके अलावा यह हड्डियों में मौजूद मिनरल को भी करता है। जिन लोगों को हड्डियों की बीमारी खासकर ऑस्टियोपोरोसिस है तो सेब के सिरके का न सेवन करने की सलाह दी जाती है।

ब्लड शुगर पर असर

ब्लड शुगर पर असर
4/6

डायबिटीज के मरीजों को सेब के सिरके की सलाह दी जाती है। लेकिन यह ब्लड शुगर और इंसुलिन को भी प्रभावित करता है। यानी इसमें मौजूद एसिड इंसुलिन और ब्लड शुगर पर सीधे असर करता है। अगर किसी को ब्लड प्रेशर के साथ डायबिटीज भी है और वो दवाओं के साथ सेब के सिरके का भी सेवन कर रहे हैं तो उनपर दवाओं का रिएक्शन हो सकता है।

दांतों के लिए नुकसानदेह

दांतों के लिए नुकसानदेह
5/6

अगर आपने सेब के सिरके को सीधे दांतों पर प्रयोग किया तो इससे दांतों को नुकनसान हो सकता है। इसके अलावा यह दांतों में पीलेपन की समस्या को भी बढ़ाता है। इसमें मौजूद एसिड दांतों की संवेदनशीलता को बढ़ा देता हैं, जिससे खाने-पीने में समस्या हो सकती है। इसलिए सीधे सेब के सिरके को दांतों पर न लगायें, पानी या जूस के साथ ही इसे प्रयोग करें। इसका प्रयोग करने के बाद तुरंत ब्रश करें।

इन बातों का ध्यान रखें

इन बातों का ध्यान रखें
6/6

सेब का सिरका सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है, अगर दिन में दो चम्मच सेब के सिरके को पानी के साथ ले तो यह बीमारियों को दूर कर आपको स्वथस्थ रखेगा। सेब के सिरके का प्रयोग त्वचा को निखारने के लिए भी किया जाता है, लेकिन इसे सीधे त्वचा पर प्रयोग करने से बचें। क्योंकि इसके कारण त्वचा में जलन और रैशेज हो सकता है। इसलिए अगर आप सेब के सिरके का फायदा उठाना चाहते हैं तो इसे प्रयोग करने का सही तरीका जान लें।Image Source : Getty

Disclaimer