रोज सुबह नमक का पानी पीने के हैं कई फायदे

अगर आप स्‍वस्‍थ जीवन जीना चाहते हैं तो नियमित रूप से सुबह पानी में काला नमक मिलाकर पीना शुरू कर दें। अगर विश्‍वास नहीं हो रहा तो इस स्‍लाइड शो को पढ़ें।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Sep 03, 2015

नमक वाला पानी पीने के फायदे

नमक वाला पानी पीने के फायदे
1/7

अगर आपको स्‍वस्‍थ जिंदगी जीने की चाह है तो नियमित रूप से सुबह पानी में काला नमक मिलाकर पीना शुरू कर दें। जी हां, इस लिक्विड को सोल वॉटर कहते हैं, और इसे पीने से ब्‍लड शुगर, ब्‍लड प्रेशर, एनर्जी में सुधार, मोटापा और अन्‍य तरह की बीमारियां तुरंत ठीक हो जाती है। लेकिन नमक पानी लेते समय इस बात का ध्‍यान रखें कि इसमें आपको सादे नमक का प्रयोग नहीं करना है, अथवा यह फायदे की जगह आपको नुकसान पहुचायेगा। काले नमक में 80 मिनरल और जीवन के लिए जरूरी सभी आवश्यक प्राकृतिक तत्व पाए जाते हैं।

पाचन को दुरुस्‍त रखें

पाचन को दुरुस्‍त रखें
2/7

अच्‍छे पाचन के लिए लार ग्रंथी का सक्रिय होना बहुत जरूरी होता है। और काले नमक वाला पानी मुंह में लार ग्रंथी को सक्रिय करने में मदद करता है। पेट के अंदर प्राकृतिक नमक, हाइड्रोक्लोरिक एसिड और प्रोटीन को पचाने वाले इंजाइम को उत्‍तेजित करने में मदद करता है। जिससे खाया हुआ भोजन टूट कर आसानी से पच जाता है। इसके अलावा, लिवर में भी एंजाइम को उत्‍तेजित होने में मदद मिलती है, जिससे खाना पचने में आसानी होती है।

हड्डियों में मजबूती

हड्डियों में मजबूती
3/7

हमारा शरीर हमारी हड्डियों से कैल्‍शियम और अन्‍य मिनरल लेता है। इससे हमारी हड्डियों में कमजोरी आ जाती है लेकिन आप घबराइए नहीं क्‍योंकि नमक वाला पानी मिनरल की इस कमी की पूर्ती कर हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है।

त्‍वचा की समस्‍याओं में लाभकारी

त्‍वचा की समस्‍याओं में लाभकारी
4/7

नमक आपकी त्‍वचा की समस्‍याओं को दूर करने में भी बहुत फायदेमंद होता है। नमक में मौजूद क्रोमियम एक्‍ने दूर करने और सल्‍फर त्‍वचा को साफ और कोमल बनती है। इसके अलावा नमक वाला पानी पीने से एक्‍जिमा और रैशेज की समस्‍या दूर होती है।

नींद लाने में लाभदायक

नींद लाने में लाभदायक
5/7

अगर आप नींद की समस्‍या से परेशान है तो नमक वाले पानी का सेवन करें। अपरिष्कृत नमक में मौजूद मिनरल तंत्रिका तंत्र को शांत करने में मदद करता है। नमक, कोर्टिसोल और एड्रनलाईन, जैसे खतरनाक स्‍ट्रेस हार्मोन को कम कर रात को अच्‍छी नींद लाने में मदद करता है।

शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालें

शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालें
6/7

नमक में बहुत अधिक मात्रा में मिनरल की मौजूदगी एंटीबैक्‍टीरियल के रूप में काम करता है। इस तरह से एंटीबैक्‍टीरिया से शरीर में मौजूद खतरनाक बैक्‍टीरिया का नाश होता है। साथ ही यह पाचन को दुरुस्‍त कर शरीर की कोशिकाओं तक पोषण पहुंचाता है, जिससे मोटापा कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

नमक वाला पानी बनाने की विधि

नमक वाला पानी बनाने की विधि
7/7

एक गिलास हल्‍के गर्म पानी में एक तिहाई छोटा चम्‍मच काला नमक मिलाकर 24 घंटे के लिये छोड़ दें। 24 घंटे के बाद देखिये कि क्‍या काले नमक का टुकड़ा (क्रिस्‍टल) पानी में घुल चुका है। उसके बाद इसमें थोड़ा सा काला नमक और मिलाइये। जब आपको लगे कि पानी में नमक अब नहीं घुल रहा है तो, समझिये कि आपका घोल पीने के लिये तैयार हो गया है।Image Source : Getty

Disclaimer