ब्रेकअप के बाद शादी के नाम से लग रहा है डर तो ये टिप्स आजमायें

ब्रेकअप के बाद खुद को एक मौका देने से डर रहे हैं तो इस स्लाइडशो में दिए गए टिप्स को आजमायें।

Gayatree Verma
Written by: Gayatree Verma Published at: Apr 19, 2017

आफ्टर ब्रेकअप टिप्स

आफ्टर ब्रेकअप टिप्स
1/5

ब्रेकअप के बाद अक्सर लोगों को शादी, कमिटमेंट और रिलेशनशिप से हिचकिचाहट होने लगती है। लड़के तो शादी के नाम से ही इरिटेट होने लगते हैं और लड़कियां(अगर जॉब के कारण बाहर रह रही हैं) शादी के डर से घर जाना छोड़ देती हैं। अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है तो ये टिप्स आजमायें। ये टिप्स आपको जिंदगी की नई पारी शुरू करने में मदद करेंगे और आपके आने वाले जीवन को खुशियों से भर देगें।

ब्रेकअप से उभरें

ब्रेकअप से उभरें
2/5

सबसे पहले अपने ब्रेकअप और एक्स की यादों से बाहर निकलें। अच्छा रहेगा की आप इससे सबक लें और किसी भी तरह के रिलेशनशिप में पड़ने से पहले उसके सकरात्मक और नकरात्मक चीजों पर एक बार सोच लें। इससे आप खुद ही किसी रिलेशनशिप में जल्दी नहीं उतरेंगे और आपको शादी व रिश्ते की अहमियत समझने आने लगेगी।

यादों के बॉक्स को खत्म करें

यादों के बॉक्स को खत्म करें
3/5

कुछ लोग ब्रेकअप के बाद भी अपने एक्स की यादों को संभाल कर रखते हैं। ये गलत है। इससे आप खुद को ही चोट पहुंचाते हैं। अच्छा यही होगा की आप इस यादों के बॉक्स को किसी को दें दे और नई यादें बनाना शुरू करें। इसके लिए प्लीज किसी ओर से बात शुरू ना करें। ये नब्बे के दशक का आइडिया है। जबकि आपको इस स्थिति में किसी ओर से नहीं खुद से बात करने की जरूरत होती है। खुद को समझें और समझायें। इस स्थिति से आप तब ही निकल सकते हैं जब आप निकलना चाहेंगे।

ट्राय करें ईटिंग थैरेपी

ट्राय करें ईटिंग थैरेपी
4/5

अच्छी-अच्छी और हेल्दी चीजें खायें। ईटिंग थैरेपी किसी भी गम को भुलाने का सबसे कारगर नुस्खा है। लेकिन केवल हेल्दी चीजें खायें। जैसे फ्रूट सलाद, कर्ड वेजीटेबल, केसर-पिस्ता शेक, जूस आदि। इससे आप हेल्दी भी रहेंगे और दिमाग भी चुस्त-दुरुस्त रहेगा। पिज्जा-बर्गर, और बीयर का सेवन बिल्कुल भी ना करें।

पहले दोस्त बनें

पहले दोस्त बनें
5/5

अगर घरवालों ने कोई रिश्ता देख रखा है तो उससे बातें करना शुरू करें। डायरेक्ट शादी के लिए बातें शुरू ना करें। सबसे पहले दोस्ती करें। उन्हें जानें और उनको खुद को जानने दें। ये आपकी पूरी जिंदगी का सवाल है इसलिए ऐसा करने से हिचके नहीं। ये कभी ना सोचें की बेझिझक बात करने से सामने वाला कुछ सोचेगा... अगर वो कुछ सोचेगा तो समझ जाएं की वो ओपन माइंडेड नहीं है और उससे बात करना बंद कर दें।

Disclaimer